बच्चे से माँ का दूध कैसे छुड़ाए घरेलू उपाय

किसी भी मां के लिए बच्चे का दूध छुड़वाना एक जटिल और बड़ी समस्या होती है। एक समय के बाद यह जरूरी होता है जब बच्चे को स्तनपान की आदत छुड़वाकर आहार खिलाने की आदत डालनी होती है।

आमतौर पर ऐसा छह महीने या एक साल के बाद से किया जाता है। लेकिन कुछ बच्चे तो दो साल के होने के बाद भी मां का दूध पीना नहीं छोड़ते और ऐसे में महिलाएं बहुत ही परेशान हो जाती है।

बच्चे के स्तनपान करने के आदत को छुड़ाने के लिए वह बहुत प्रयास करती है लेकिन जब बच्चा दूध नहीं छोड़ता तो मां के साथ ही बच्चे को भी दिक्कते होती है।

बच्चे के स्तनपान की आदत छुड़ाने के लिए पहले आपको कुछ बातो को ध्यान में रखकर चलना चाहिए। जैसे कि आपको कभी भी अचानक से स्तनपान बंद नहीं कराना चाहिए क्योंकि ऐसा होने पर स्तनपान करवाने वाली मां को कुछ परेशानिया हो सकती है।

मां के स्तन में सूजन या संक्रमण आदि की संभावना भी हो सकती है, जिस कारण बच्चे पर भी कई नकारात्मक प्रभाव पड़ता है इसीलिए धीरे-धीरे धीरज के साथ ही दुध छुड़ाना चहिए।

बच्चे क्यों नहीं छोड़ते दूध पीने की आदत

bache-se-doodh-kaise-churaye

बच्चा जब स्तनपान करता है तो इससे केवल बच्चे का केवल पेट ही नहीं भरता बल्कि बच्चे को आरामदायक गोद, विश्वास और प्रेम प्राप्त होता है और यह बच्चे के बड़े होने के बाद भी उनके स्तनपान करने की आदत न छोड़ने का कारण बन जाति है।

और बच्चा दूध पीने के बहाने अपनी मां के करीब जाना चाहता है मां से प्यार की आशा करते हैं और स्तनपान करने के लिए रोते हैं।

जब तक बच्चे को स्तनपान की आदत रहती है वह खाने पीने पर ध्यान नहीं देता। बच्चे का पेट भरे या ना भरे उसे मां का दूध ही चाहिए होता है और ऐसा होने पर बच्चे की सेहत के साथ बुरा हो जाता है।

लेकिन आपको ऐसा एकदम से नहीं करना चाहिए क्योंकि हम जानते हैं कि कोई भी आदत एकदम से नहीं छूटती इसीलिए बच्चे को दूध पिलाना बिल्कुल बंद ना करें इस प्रक्रिया को धीरे-धीरे आगे बढ़ाए।

शिशु को कब तक स्तनपान करवाना जरुरी है

बच्चे का स्तनपान छुड़ाना भी उतना ही जरूरी होता है जितना की शिशु को स्तनपान कराना बच्चे के लिए 6 महीने तक मां का दूध बेहद आवश्यक होता है।

लेकिन अगर छह महीना या एक साल स्तनपान कराने के बाद आप बच्चे को दूध छूराना चाहती है तो इसमें कोई बुराई नहीं है। डॉक्टर के अनुसार बच्चे को 6 महीने तक स्तनपान करवाना बहुत जरूरी होता है। क्योंकि मां के दूध में सभी प्रकार के पोषक तत्व होते हैं जो 6 महीने तक शिशु के विकास में मदद करते हैं।

लेकिन आम तौर पर अगर बच्चा 1 साल से अधिक के होने के बाद भी दूध पीना नहीं छोड़ता तो मां के लिए परेशानी हो जाती हैं। हालांकि अगर स्तनपान करवाने वाली मां स्वस्थ्य है तो डेढ़ दो साल तक भी स्तनपान कराया जा सकता है।

लेकिन अगर आपका बच्चा बड़ा होने के बावजूद भी स्तनपान की आदत नहीं छोड़ रहा तो इसे मां को बहुत तकलीफ होती है कभी-कभी तो यह शर्मिंदगी का भी कारण बन जाती हैं।

1.बच्चे को कम दूध पिलाने का आदत डालें

रोजाना आप जितनी बार बच्चे को दूध पिलाती है उसका एक बार कटौती कर लें। यानी कि अगर आप बच्चे को दिन में चार बार दूध पिलाती हैं तो आप अब उसे तीन बार ही पिलाएं।

बच्चे को आप ऐसा ही आदत करवाएं ताकि धीरे धीरे बच्चे की दूध पीने की आदत कम होती जाए ऐसे में आपके बच्चे की आदत बदल जाएगी।

2. बच्चे को खिलौने से फूसलाएं

स्तनपान की आदत छुड़वाने के लिए उन्हें आप किसी दूसरी चीज द्वारा आकर्षित कर सकती हैं। ताकि उनका दूध पीने की आदत से ध्यान हट सके और वह बार-बार दूध पीने की मांग ना करें।

इसके लिए आप उन्हें नए खिलौने दे सकते हैं या आप अपने बच्चे को पालने में झूला झुलाने जैसी अलग-अलग गतिविधिया कर सकते हैं।

3. जब बच्चा ज्यादा रोए तभी दूध पिलाएं

आपका बच्चा जब दूध पीने के लिए ज्यादा जिद करता है, रोता है और किसी भी प्रकार नहीं मानता आप उस समय को नोटिस करें और उसी समय पर दूध पिलाए जब आपका बच्चा ज्यादा ज़िद करता है।

बाकी समय में आप बच्चे को कुछ और खिलाकर ही उनका पेट भरने की कोशिश करें।

4. बच्चे को पोषित खाद्य पदार्थ खिलाएं

जब आप बच्चे से अपनी दूध की आदत छुड़वा रही हैं तो यह प्रयास करें कि बच्चे को अन्य आहार खिलाए ताकि उसको पूरा पोषन मिले और उसका पेट भरा रहे। बच्चे के ना खाने के बावजूद भी उन्हें बहला-फुसलाकर पोषन से भरपूर चीजे खिलाए।

5. गाय का दूध पिलाएं

बच्चे से मां का दूध छुड़वाने का काम थोड़ा मुश्किल तो होता ही है लेकिन कोशिश करने पर बच्चा स्तनपान की आदत छोड़ देता है। इसके लिए आप बच्चे को गाय का दूध पिलाने का आदत डालें अगर आपका बच्चा धीरे-धीरे गाय का दूध पीना सीख लेता है तो वह स्तनपान की ज़िद नहीं करेगा।

6. बोतल से दूध पीने की आदत डाले

बच्चे के दूध को छुड़वाने के लिए आपको प्रयास करना चाहिए कि बोतल का दूध पिलाएं।

जब बच्चा बोतल से दूध पीना सीख जाएगा और बोतल के दूध से पेट भरने की आदत लग जाएगी तो बच्चे को भूख लगने पर वह दूध का बोतल ही मांगेगा और स्तनपान की ज़िद नहीं करेगा।

7. बच्चे को अपने आप के पास न सुलाएं

बच्चा जितना ही मां के स्पर्श में रहता है उतनी ही बच्चे को स्तनपान करने की चाहत होती है। मां की आहट महसूस करते ही और मां के करीब आते ही उनको स्तनपान करने की चाहत होने लगती है।

ऐसे में रात को जब आप सोते हैं तो बच्चे को खुद से थोड़ी दूरी पर सुलाए, ताकि वह आपके स्पर्श को महसूस ना करें और उसे दूध पीने की चाह ना हो।

हमने आपको बच्चे के स्तनपान की आदत छुड़ाने के कुछ ऐसे उपाय बताए हैं जिसे करने में आपको काफी समय लगेगा। लेकिन अगर आप जल्दी से अपने बच्चे का दुध छुड़ाना चाहते हैं और आपका बच्चा डेढ़, दो साल के होने के बाद भी स्तनपान करना नहीं छोड़ता तो आप एक उपाय कर सकते है।

ऐसा करने से आपका बच्चा कभी भी आपके स्तन का दूध पीने की जिद नहीं करेगा। बच्चे के स्तनपान की आदत छुड़ाने का यह सबसे घरेलू और सबसे अच्छा नुस्खा है, जो पूरी तरह से देशी है।

दरअसल यह उपाय ज्यादातर महिलाए करती है क्योंकि यह पूरी तरह से काम करता है और खासकर के गांवो में यह नुस्खा अपनाया जाता है। जिसमें हल्दी, नमक, करेले के रस, नींबू का रस, नीम आदि शामिल है जीससे शिशु स्तन को मुंह में लेते ही छोड़ देता है।

बच्चे से माँ का दूध कैसे छुड़ाए घरेलू उपाय

stanpan chudane ke upay

1. नीम के पत्ते

नीम के पत्ते के प्रयोग से बच्चे के दूध पीने की आदत पूरी तरह से छूट जाती है। हम सभी जानते हैं कि नीम के पत्ते का कड़वा स्वाद किसी को अच्छा नहीं लगता और ऐसे में बच्चे को स्तनपान कराने की आदत छुड़वाने के लिए आप अपनी स्थान में नीम का रस लगा लें।

जब भी आपका बच्चा दूध पीने की जिद करे तो आप दो से तीन नीम के पत्ते मसल कर अपने स्तन में लगा लें, ताकि बच्चा जब स्तनपान करने के लिए मुंह में स्तन लें तभी उसे करवा स्वाद आए और वह फिर से दूध पीने की जिद ना करें।

2. करेले का रस

बच्चे के स्तनपान की आदत छुड़ाने के लिए करेले का रस भी अच्छा उपाय है। अगर नमक का प्रयोग काम ना करें और नीम के पत्ते आपको ना मिले तो आप करेले का उपयोग करें क्योंकि करेले का स्वाद भी करवा होता है।

इसके लिए आप एक चम्मच करेले का रस निकालकर रखे और जब भी आपका बच्चा स्तनपान करने की जिद करे तो अपने स्तन पर करेले का रस लगा लें।

3. नींबू का रस

किसी कटोरी में नींबू का रस निचोड़ कर रख दें और जब भी आपका बच्चा दूध पीने की जिद करें, तो अपने स्तन पर थोड़ा सा नींबू का रस लगा लें।

आपके ऐसा करने से बच्चे को दूध का स्वाद खट्टा आएगा, आप अपने स्तन पर नींबू के रस को बार-बार लगाए। जब भी आपका बच्चा दूध पीने के दौरान स्तन को मुंह से बाहर निकाले आप फिर से नींबू का रस लगा लें।

धीरे-धीरे आपके बच्चे को इसकी आदत पड़ जाएगी और वह दूध पीने की जिद नहीं करेगा।

4. नमक का प्रयोग करें

महिलाए अपने स्तन में नमक भी लगा सकती है इससे भी धीरे-धीरे बच्चे की दूध पीने की आदत छूट जाएगी। जब भी आपका बच्चा स्तनपान करने की जिद करे तो आप अपने स्तन में थोड़ा सा नमक लगा लें।

ऐसे में जब आपका बच्चा स्तनपान करने के लिए मुंह में स्तन लेगा तो उसे नमकीन स्वाद आएगा और इससे आपका बच्चा खुद ही स्तनपान करने की ज़िद नहीं करेगा।

हमने आपको नमक, नीम और करेले के जो उपाय बताए हैं ये बच्चे के स्तनपान की आदत को छुड़ाने का सबसे कारगर उपाय है।

लेकिन इस सभी उपायो को करते समय आप एक बात का जरुर ध्यान रखें कि जब नीम नमक कुछ भी लगाए तो आपका बच्चा ना देखें।

क्योंकि जब आप ऐसा करती है तो उनके मन में दुख पहुंचता है, उन्हें लगता है कि आप उन्हें अपने आप से दूर कर रही हैं।

Final Thoughts:

तो दोस्तों ये था बच्चे से माँ का दूध कैसे छुड़ाए, अगर आपने हमारे बताये हुए घरेलू उपाय को अच्छे से फॉलो किया तब आपका बच्चा जल्दी ही आपका स्तनपान करना छोड़ देगा.

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी तो प्लीज पोस्ट को जरुर शेयर करे ताकि ज्यादा से ज्यादा शादीशुदा महिलाओं को इन घरेलू नुस्खों के बारे में पता चल पाए.

Please share:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.