सुन्दर बच्चा पैदा करने के उपाय | बच्चा पैदा करने के लिए क्या करना चाहिए

शादी के प्यारे बंधन में बंधने के बाद हर परिवार की यह चाहत होती है कि अब उनके घर में सुन्दर नन्हे मुन्ने बच्चे की किलकारी गुंजे।

लेकिन कई बार कुछ कारणो से कुछ महिलाओ के क्षेत्र में देखा जाता है कि महिलाएं जल्दी से बच्चा कंसीव नहीं कर पाती हैं उन्हें गर्भधारण करने में काफी दिक्कते होती है।

ऐसे क्षेत्र में महिलाओं में पाए जाने वाले कुछ आदतो और कंडीशन के कारण ही महिलाएं चाह कर भी गर्भधारण नहीं कर पाती है।

हम बात कर रहे हैं कुछ ऐसे लोगो के बारे में जो बच्चे के लिए जतन कर कर के थक चुके हैं लेकिन अभी तक महिला गर्भधारण नहीं कर पाई है, लेकिन इसमें निराश होने की कोई बात नहीं है।

क्योंकि गर्भधारण एक जटिल प्रक्रिया है जहां कुछ महिलाएं इसे काफी आसानी से कंसीव कर लेती है तो कुछ क्षेत्र में देखा जाता है कि इसमें काफी परेशानियां होती है और इसके कई कारण होते हैं।

लेकिन ऐसे समय में आपको निराश ना होकर अपनी संतान होने की संभावना को बढ़ाने के चांसेस ढूंढने और उन पर काम करने काफी अवश्यकता होती हैं। तो देर ना करके चलिए हम लोग जानते हैं बच्चा कंसीव करने के संभावना को बढ़ाने के कुछ आसान तरीकों के बारे में।

Table of Contents

सुन्दर बच्चा पैदा करने के उपाय

बच्चा पैदा करने के लिए क्या करना चाहिए

bacha paida karne ke upay

अगर महिला गर्भधारण महिला और पुरुष अगर कोई कपल गर्भधारण करने की कोशिश कर रहे हैं और फिर भी गर्भधारण नहीं हो रहा है तो उनके कुछ आदतो में बदलाव करने के साथ कुछ तरीको को अपनाकर गर्भधारण की प्रक्रिया में तेजी लाई जा सकती है।

तो आइए जानते हैं जल्दी से गर्भधारण करने के कुछ तरीको के बारे में जिन्हें अपनाकर महिला तुरंत प्रेग्नेंट हो सकती है।

1. गर्भधारण करने की सही उम्र

अगर महिला गर्भधारण करने के प्रयास में है और प्रयास करने के बाद भी गर्भधारण नहीं हो रहा तो जरूर उनकी आदतो में कुछ बदलाव करने की खास आवश्यकता है|

और कुछ तरीको को भी अपनाने की भी आवश्यकता है जिससे कि गर्भधारण में आ रहे रुकावटो को ठीक किया जा सके।

लेकिन जब गर्भधारण करने की बात आती है तो सबसे पहले सवाल यह होता है कि महिलाओ की गर्भ धारण करने की सही उम्र क्या है। क्योंकि कोई भी काम सही उम्र और सही समय पर किया जाए तो ही वह ठीक होता है।

महिलाओ के लिए डॉक्टर गर्भधारण करने की सही उम्र बताते हैं 18 से 28 साल के बीच इस उम्र के बीच महिलाओ के गर्भ धारण करने की काफी संभावना होती है।

क्योंकि इस उम्र में फर्टिलाइजिन ज्यादा होता है 25 साल की महिला की तुलना में 35 साल की महिला में प्रेग्नेंट होने के चांसेस 50 प्रतिशत कम हो जाते हैं।

इसीलिए आप इस बात पर ध्यान देते चले कि अगर आपका उम्र 30 साल से ज्यादा हो रहा है तो आप जल्द से जल्द डॉक्टर से संपर्क करके अपने प्रेगनेंसी के चांसेस को बढ़ाने का कोशिश करें।

2. स्वास्थ्य जीवनशैली अपनाएं

दैनिक जीवन शैली का प्रभाव प्रजनन क्षमता पर भी महिलाओं के प्रजनन क्षमता पर भी पड़ता है। मां बनने की तैयारी में लगी महिलाओ को सबसे पहले इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए कि उनका जीवन शैली स्वस्थ हो।

उन्हें भरपूर मात्रा में खानपान, पर्याप्त नींद और नियमित तौर पर व्यायाम करना चाहिए। ऐसा करने से महिलाओ की प्रजनन क्षमता बेहतर होती है और उन्हें गर्भधारण करने में आसानी होती है यानी कि वह काफी आसानी से बच्चा कंसीव कर लेती है।

3. फर्टिलिटी जांच अवश्य करवाएं

जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए यह बहुत जरूरी होता है कि होने वाली मां में फर्टिलाइजेशन मौजूद हो और इसके लिए यह जरूरी है कि आप डॉक्टर से फर्टिलिटी जांच करवाएं और अगर इसकी मात्रा में कमी आती है तो पहले ट्रीटमेंट जरूर करवाएं।

4. पहली प्रेग्नेंसी को अवार्ड ना करें

आजकल करियर बनाने और जिंदगी जीने के चक्कर में नवविवाहित जोड़े अपने पहली प्रेगनेंसी को खत्म करने का प्रयास करते हैं।

यह एक बड़ी गलती होती है जो आगे चलकर उन पर काफी भारी पड़ती है। क्योंकि पहली प्रेग्नेंसी आपके फर्टिलाइजेशन को समृद्ध करती है ऐसे में अगर आप अबॉशन करवाते हैं तो आगे चलकर आपको गर्भधारण करने में काफी कॉम्प्लिकेशन का सामना करना पड़ता है।

5. माहवारी को नियमित रखें

जल्दी गर्भवती होने के लिए यह जरूरी है कि आपका पीरियड साइकिल दुरस्त हो यानी कि वह समय से पहले या कुछ दिन बाद ना होते हो।

अगर किसी महिला के पीरियड्स रेगुलर नहीं हो रहे तो उन्हें जल्द ही डॉक्टर से संपर्क करके इलाज करवाना चाहिए। क्योंकि बच्चा कंसीव करने के लिए यह एक इंपॉर्टेंट हिस्सा होता है यानी जल्दी प्रेग्नेंट होने के लिए पीरियड्स का नियमित होना बहुत जरूरी है।

6. ओवुलेशन पीरियड पर ध्यान दें

पीरियड से 2 हफ्ते पहले का समय महिलाओ के ओवुलेशन का समय होता है और गर्भवती होने केेेे लिए जरूरी होता है ओव्यूलेशन केे समय संभोग करना, इस समय गर्भधारण करने का प्रयास आपके लिए शुभ हो सकता है।

डॉक्टर के अनुसार ओवुलेशन पीरियड के समय महिलाओ के गर्भ धारण करने के 60 से 70 प्रतिशत तक चांस होते हैं और इस दौरान अगर सही प्रयास किए जाए तो बच्चा कंसीव करने की संभावना काफी ज्यादा होती है।

7. अपने वजन को नियंत्रण में रखें

महिलाएं भरे हुए वजन के दौरान जब बच्चा कंसीव करने में काफी दिक्कते होती है और मोटापे के कारण लाखो महिलाए मां बनने से वंचित रह जाती हैं।

क्योंकि ओवर वेट के कारण उनके फेलोपियन ट्यूब और ओवरी के बंद होने की आशंका बढ़ जाती है और मोटापे के कारण कई महिलाओ की बच्चेदानी में सिस्ट तक हो जाती है और इसीलिए जल्दी कंसीव करने के लिए वजन पर कंट्रोल करना भी बहुत जरूरी होता है।

8. सेहतमंद आहार

सेहतमंद आहार हर किसी के लिए हर किसी के लिए जरूरी होता है और जब बात होती है बच्चा कंसीव करने की तो महिलाओ के लिए यह काफी जरूरी हिस्सा है कि महिलाएं सेहतमंद आहार खाए और खानपान का पूरा ध्यान रखें।

क्योंकि फर्टिलाइजेशन प्रॉपर डाइट से जुड़ा होता है इसीलिए आयरन और कैल्शियम की कमी के कारण कंसीव होने के चांसेस भी खत्म होने की संभावना बढ़ जाति है।

ऐसे में अगर महिला खुश रहे तनाव ना लेकर अच्छा खानपान करे तो प्रेगनेंसी के चांसेस 30 प्रतिशत ऐसे ही बढ़ जाते हैं।

9. भरपूर नींद लें

सेहतमंद रहने के लिए सेहतमंद खानपान और एक स्वास्थ्य जीवन शैली के अलावा आवश्यक अनुसार नींद लेना बहुत जरूरी होता है।

गर्भधारण करने की कोशिश करने वाली महिलाओ को रात में 7 से 8 घंटे की नींद लेनी चाहिए। इसके अलावा अगर वह चाहे तो दोपहर के समय भी कुछ देर झपकी ले सकती है। इससे उनके शरीर में हार्मोन का संतुलन बना रहता है और उनके गर्भ धारण करने की संभावना वृद्धि होती है।

10. ज्यादा व्यायाम ना करें

वैसे तो गर्भधारण करने के लिए शारीरिक और मानसिक दोनो रूप से महिलाओ को दुरुस्त रहना चाहिए। इसीलिए महिलाओ के लिए व्यायाम जरूरी है|

लेकिन इस बात का भी खाश ध्यान रखें कि ज्यादा व्यायाम और कसरत उनके लिए ठीक नहीं होता महिलाओ को व्यायाम करना चाहिए लेकिन जरूरत से ज्यादा नहीं। क्योंकि अगर महिलाए ज्यादा व्यायाम करती है तो उन्हें प्रजनन से जुड़ी समस्या हो सकती है।

11. कांसेप्शन मून

कांसेप्शन मून के बारे में आप लोग तो जानते ही होंगे जिस प्रकार हनीमून होता है ठिक उसी प्रकार कांसेप्शन मून पर भी जाया जाता है और इसके लिए तो विदेशो में लोग छुट्टी भी लेते हैं।

क्योंकि यह जल्दी से गर्भधारण करने में काफी हेल्पफुल होता है इस दौरान माहौल खुशनुमा होता है और इस समय किए गए प्रयास सफल होते देखा जाता है।

क्योंकि इस दौरान किसी तनाव और परेशानी की जगह नहीं होती इस माहौल में गर्भधारण करने के प्रयास से अच्छा रिजल्ट देखने को मिलता है।

12. डिंबोत्सर्जन प्रक्रिया के दौरान संभोग

दरअसल पुरुषो के शुक्राणु स्त्री के शरीर में 5 दिन तक जीवित रह सकते हैं तो वहीं स्त्री का डिम्ब यानी एवं ओवम फैलोपियन ट्यूब में केवल 12 से 24 घंटे तक ही जीवित रहता है।

ऐसे में अगर डिंबोत्सर्जन प्रक्रिया के दौरान शारीरिक संबंध बनाया जाए तो शुक्राणु को अंडे को निषेचित यानी फर्टिलाइज करने में आसानी होती है जिससे कि स्त्री के गर्भ धारण करने की संभावना बढ़ जाती है।

13. नशे से दूर रहें

आजकल के नए जमाने में लड़के तो क्या लड़कियां जैसे नशे का सेवन करती है थोड़ा सिगरेट जैसे नशे का सेवन करती है जो कि उन्हें गर्भधारण करने में समस्या पैदा करती है।

दरअसल शराब और सिगरेट का सेवन महिलाओ के प्रजनन क्षमता को कम कर देता है और इसका असर आगे चलकर उनके महिलाओ के ओवुलेशन पर पड़ता है। साथ ही सिगरेट और शराब का सेवन करने से महिलाओ के फर्टिलिटी पर भी बुरा प्रभाव पड़ता है।

14. चाय और कॉफी का सेवन ना करें

जल्दी से गर्भधारण करने के लिए आपको नशीली चीजों से दूर रहने के साथ ही कैफ़ीन से भी दूर रहना चाहिए। कैफीन का सेवन महिलाओं में गर्भवती होने के चांस को कम करता है। इसीलिए आप इस बात का खास ध्यान रखकर चाय और कैफीन के सेवन को कम करें।

15. गर्भनिरोधक का प्रयोग न करें

जब आप गर्भवती होना चाह रहे हैं तो उससे एक साल पहले ही आपको गर्व निरोधक का प्रयोग करना छोड़ देना चाहिए।

दरअसल कॉन्ट्रासेप्टिव का लगातार उपयोग करने से ऑव्यूलेशन की प्रक्रिया पर गहरा प्रभाव पड़ता है और लंबे समय तक बच्चा कंसीव नहीं हो पाता। अगर आप बच्चा कंसीव करना चाहते हैं तो ध्यान रखें कि साल भर पहले ही गर्भनिरोधक का प्रयोग बंद कर दें।

16. लुब्रिकेंट्स का प्रयोग न करें

अगर आप जल्दी ही बच्चा कंसीव करना चाहते हैं तो आप लुब्रिकेंट्स का प्रयोग भूलकर भी ना करें। यह लुब्रिकेंट्स स्पर्म को ओवरी तक पहुंचने नहीं देते और ऐसे में बच्चा कंसीव करने व और गर्भवती होने की संभावना खत्म हो जाती है।

ऐसे समय में संबंध बनाने से महिलाओ के शरीर में पर्याप्त लिक्विड बनता है जो स्पर्म को ओवरी तक ले जाने में मदद करता है। इससे गर्भधारण की संभावना मजबूत होती है इसीलिए भूल कर भी लुब्रिकेंट्स का उपयोग न करें।

17. तनाव से दूर रहें

आजकल के जमाने में तनाव के लोगो का सबसे बड़ा दुश्मन बन चुका है हर किसी को हर छोटी छोटी बात से तनाव और अवसाद की समस्या होती हैं।

इस कारण महिलाओ में गर्भधारण की संभावना खत्म हो जाती हैं और अगर महिलाएं जल्दी गर्भवती होना चाहती है तो इसके लिए जरूरी है कि वह रिलैक्स रहे और तनाव से कोसों दूर रहें अगर आप जल्दी से बच्चा कंसीव करना चाहते हैं

तो आप जिस काम में जिस काम से आपको परेशानी हुआ टेंशन है उससे जरूर दूरी बना लें खुशनुमा माहौल जीवन शैली अपनाएं पक्षी और हल्दी से हेल्दी डाइट फूड कोर्ट ने नियमित तौर पर व्यायाम करें जिससे कि तनाव की समस्या न हो।

18. किसी भी दवाई का ज्यादा सेवन ना करें

यह बात तो हर कोई जानता है कि दवाई का ज्यादा सेवन हानिकारक होता है और अगर महिलाओ की बात करें तो महिलाओ के शरीर में किसी भी प्रकार दवाई का ज्यादा सेवन उनके प्रजनन क्षमता पर बुरा प्रभाव डालता है।

इसीलिए महिलाओ को पहले से इस बात का खास ध्यान रखना चाहिए कि वह ज्यादा मात्रा में किसी भी प्रकार दवाई का सेवन ना करें और डॉक्टर के सलाह लिए बिना तो बिल्कुल भी नहीं।

19. मीठे चीजो का सेवन कम करें

शुगर वाले पेय पदार्थ खासतौर पर सोडा और एनर्जी ड्रिंक महिला और पुरुष दोनो के प्रजनन क्षमता को प्रभावित करती है।

इसीलिए जल्दी गर्भवती होने के प्रयास में लगे महिला और पुरुष दोनो को ही मीठे पेय पदार्थो के सेवन से बचना चाहिए हालाकी ताजे फलो के जूस का सेवन सुरक्षित माना जाता है।

20. सुबह के समय संबंध बनाए

महिलाओ को माहवारी 28 दिन या 4 हफ्ते के बाद आता है और इसमें से 1 से 7 वे और 21 से 28 वे दिन जो होते हैं वह पहला हफ्ता और आखिरी हफ्ता होता है, जिसमें महिलाओ के गर्भ ठहरने की संभावना कम होती है।

लेकिन इसी बीच के 2 सप्ताह में आने की 8 वें दिन से लेकर 20 वे दिन तक महिलाओ के गर्भधारण करने की संभावना काफी ज्यादा होती है।

इस दौरान एक दिन छोड़कर सुबह के समय आप संबंध बना सकते हैं, क्योंकि इस समय महिलाओ का हार्मोन लेवल ऊंचा होता है जो कि आपको गर्भधारण करने में साथ देगा।

21. संबंध बनाते दौरान तेल और जैली का उपयोग न करें

अगर आप जल्दी से गर्भधारण करना चाहते हैं तो आपको सम्भोग करते दौरान किसी भी प्रकार के वेसलीन जेली, तेल का उपयोग नहीं करना चाहिए|

क्योंकि इससे शुक्राणुओं के मूवमेंट काम हो जाता है और संबंध बनाने के तुरंत बाद महिलाओ को दोनो घुटनो को ब्रेस्ट के करीब लाकर रखना चाहिए|

और इस पोजीशन में 10 से 15 मिनट तक रहना चाहिए। ऐसा करने से गर्भ धारण करने की संभावना बढ़ जाती है क्योंकि ऐसे में शुक्राणु सही स्थान तक पहुंचने में सक्षम हो पाते हैं और और महिलाओ के बच्चा कंसीव करने के चांसेस बढ़ जाते हैं।

ऐसे में आपको और एक बात का ध्यान रखना चाहिए कि सेक्स करने के तुरंत बाद महिलाएं पेशाब ना करें।

पुरुषो को भी रखना चाहिए कुछ बातो का ध्यान

लेकिन अब बात करते हैं पुरुषो की तो जल्दी से बच्चा कंसीव करवाने के लिए पुरुषो को भी कुछ बातो का खास ध्यान रखना चाहिए।

जैसे कि इस दौरान पुरुष अगर पित्त कम करने वाली खुराक जैसे गाय का शूद्ध घी खाए तो उनके शुक्राणुओ की संख्या और उनकी गति में बढ़ोतरी हो सकती है।

इसके अलावा बच्चा पाने के लिए पुरुषो को टाइट कपड़े पहनने से बचना चाहिए, क्योंकि इससे उनके शुक्राणुओ में कमी आ सकती है।

कहा जाता है कि अंदरुनी कपड़े लूज पहनने से पुरुषो के शुक्राणुओ में वृद्धि हो सकती है तो जल्दी से बच्चा कंसीव करवाने के लिए पुरुषो को भी इन बातो को ध्यान में रखकर चलना चाहिए।

क्योंकि महिलाओ के गर्भ धारण करने की प्रक्रिया महिला के अंडे और पुरुष के शुक्राणुओ के मिलन पर निर्भर प्रक्रिया होती है।

और इसीलिए बच्चे पैदा करने के प्रयास में लगे पुरुषो को भी अपनी प्रजनन शक्ति बढ़ाने पर खास ध्यान देना चाहिए। पुरुषो को अपनी प्रजनन क्षमता बढ़ाने और उसे सही रखने के लिए कुछ बातो का खास ध्यान रखना चाहिए।

जैसे कि उन्हें नियमित तौर पर कसरत करना चाहिए लेकिन ज्यादा मात्रा में भी नहीं करना चाहिए, अंडकोष के पास अधिक गर्मी नहीं होने देना चाहिए।

इससे उनके वीर्य उत्पादन पर बुरा प्रभाव पड़ता है इसके अलावा उन्हें जितना हो सके अंदर के कपड़े ढीले पहनने चाहिए। धूम्रपान, शराब, सिगरेट, नशीली चीजो को परहेज करना चाहिए और साथ ही मानसिक तनाव से भी दूरी बनाकर रखनी चाहिए।

१. लौंग के उपयोग से बड़ाए फर्टिलिटी

फर्टिलिटी में सुधार लाने के लिए लॉन्ग एक कारीगर उपाय होता है। इससे महिलाओ को इनफर्टिलिटी से निजात मिलता है लोंग से फर्टिलिटी बढ़ती है और इसमें मौजूद फोलिक एसिड और जिंक जैसे एंटीऑक्सीडेंट के गुण महिला और पुरुष दोनो में ही फर्टिलिटी को सुधारने में मदद करता है।

इसीलिए आप एक गिलास गर्म पानी लें और उसमें रात भर के लिए एक चम्मच लॉन्ग डालकर भीगने के लिए रख दें। उसके बाद आप उस लोंग के पानी को उबालकर आधा कर दें और उस पानी को सुबह खाली पेट और रात को सोने से पहले पिए।

आपकी और दोस्तों:

तो दोस्तों ये था जल्दी बच्चा पैदा करने के उपाय, हम उम्मीद करते है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको पता चल गया होगा की सुन्दर बच्चा पैदा करने के लिए क्या करना चाहिए।

अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज पोस्ट को १ लाइक जरूर करे और दूसरी महिलओं के साथ भी अवश्य शेयर करे ताकि उनको भी पूरी और सही जानकारी मिल पाए।

इसके अलावा अगर आप हमसे कोई भी सवाल पूछना चाहते हो तो  हमारे साथ कमेंट में अपने सवाल और डाउट जरूर पूछे और हम आपकी पूरी हेल्प करेंगे।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

X