स्पोर्ट्स में करियर कैसे बनाये | स्पोर्ट्स में करियर बनाने के लिए क्या करे

स्पोर्ट्स में करियर कैसे बनाये: खेल भारतीय संस्कृति का एक अहम हिस्सा है।हमारे भारत देश में प्राचीन काल से ही अनेक प्रकार के खेल खेले जा रहे हैं। भारत के अलावा दुनिया के अन्य देशों में भी खेलों का काफी महत्व है।

अगर हम भारत की बात करें तो भारत का राष्ट्रीय खेल हॉकी है परंतु भारत में हॉकी से ज्यादा क्रिकेट का खेल पसंद किया जाता है। अगर हम यह कहे कि भारत में क्रिकेट धर्म की तरह है तो इसमें कोई अतिशयोक्ति नहीं होगी।

वर्तमान में हमारा भारत देश कई खेलों में अच्छा प्रदर्शन कर रहा है और पिछले कुछ सालों से ओलंपिक जैसी खेलों में भी भारत का डंका बज रहा है।

खेलों के प्रति भारतीय लोगों का झुकाव शुरू से ही रहा है, फिर चाहे वह कबड्डी हो, क्रिकेट हो,वॉलीबॉल हो, होकी हो या अन्य कोई खेल हो।भारत में लगभग सभी प्रकार के खेल खेले जाते हैं|

परंतु क्या आप जानते हैं कि आप चाहे तो खेलों में अपना अच्छा केरियर भी बना सकते हैं। हमें पता है आप में से बहुत लोगों को यह बातें पता होंगी परंतु कई लोग ऐसे भी हैं जिन्हें इसके बारे में बिल्कुल भी पता नहीं है।

जैसा कि आप जानते हैं कि भारत की आधी आबादी गांवों में निवास करती है और गांव में खेल खेलने के लिए उतनी सुख सुविधाएं नहीं होती है परंतु फिर भी गांव के लोग अपनी दृढ़ इच्छाशक्ति के कारण खेलों में अच्छा प्रदर्शन करते हैं।

अगर आप भी ऐसे लोगों में से हैं जो खेल में रुचि रखते हैं और खेलों में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको खेलों में अपना कैरियर कैसे बनाएं, इसके बारे में संपूर्ण जानकारी विस्तार से देने वाले हैं, तो चलिए ज्यादा देरी ना करते हुए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर।

स्पोर्ट्स में करियर कैसे बनाये

स्पोर्ट्स में करियर बनाने के लिए क्या करे

sports me career kaise banaye

खेलों में कैरियर बनाने के लिए सबसे पहले तो आपको यह निर्णय लेना होगा कि, आप किस खेल में इंटरेस्टेड हैं, वह कौन सा खेल है है, जिसे आप बचपन से देखना और खेलना पसंद करते हैं|

और अगर आपका कैरियर उस खेल मे बन जाए तो आपकी ख्वाहिश पूरी हो जाए। जैसे ही आप यह निर्णय ले लेते हैं कि आपका इंटरेस्ट किस खेल में है, तो आप उस खेल में अपना कैरियर बनाने के लिए तैयार हो जाते हैं।

स्पोर्ट की फील्ड में मिलने वाले पैसे और सम्मान के कारण हर खिलाड़ी नेशनल और इंटरनेशनल लेवल पर खेल खेलना चाहता है, परंतु उस स्तर तक पहुंचने के लिए आपको अधिक मेहनत के साथ साथ संघर्ष भी करना पड़ता है और लगातार अपने प्रदर्शन में सुधार करना पड़ता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत सरकार ने भारत में स्पोर्ट को बढ़ावा देने के लिए “खेलो इंडिया योजना” की शुरुआत की है। स्पोर्ट्स के क्षेत्र में खिलाड़ी सिर्फ खिलाड़ी के रूप में ही नहीं बल्कि इससे संबंधित अन्य क्षेत्र में भी अपना अच्छा कैरियर बना सकता है। नीचे हमने खेल से संबंधित कुछ ऐसे पदों की जानकारी दी है, जो आपके लिए बेहतर कैरियर विकल्प साबित हो सकते हैं।

1. खेल में कैरियर बनाने के लिए पढ़ाई और अन्य योग्यताएं

अगर आप खेल में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको 10वीं 12वीं और ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करनी होगी। इसके अलावा आपके अंदर स्पोर्ट के बारे में अच्छी जानकारी होनी चाहिए।

इसके अलावा आपकी कम से कम उम्र 18 साल होनी चाहिए और अधिक से अधिक उम्र की कोई सीमा नहीं है, साथ ही आपको खुद भी शारीरिक रूप से फिट होना जरूरी है। आपको किसी भी प्रकार की कोई भी बीमारी नहीं होनी चाहिए।

2. स्पोर्ट पत्रकारिता में कैरियर

जब आप टीवी देखते हैं, तब आपने ध्यान दिया होगा कि आजकल टीवी में आने वाले कार्यक्रमों में खेल से संबंधित समाचारों को अलग से दिखाया जाता है, बल्कि कई टीवी चैनलों पर तो स्पोर्ट से संबंधित खबरों को दिखाने के लिए अलग से टाइम टेबल निर्धारित होता है।

इसलिए अगर आप स्पोर्ट पत्रकारिता में अपना करियर बनाना चाहते हैं, तो आपको नियमित तौर पर टीवी पर आने वाले खेल से संबंधित कार्यक्रमों को देखना चाहिए।इससे आपको खेल के बारे में बहुत सी जानकारी मिलेगी और जब आप स्पोर्ट पत्रकारिता की परीक्षा देंगे तो आपको हेल्प मिलेगी।

3. स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में कैरियर

जैसा कि आप जानते हैं कि आज के समय में बड़े बड़े खेलों का आयोजन बड़े स्तर पर किया जाता है।अगर हम भारत की बात करें तो आपने देखा होगा कि कई बार भारतीय टीम भारत के अलावा अन्य देशों में भी क्रिकेट खेलने के लिए जाती है|

तो ऐसे में जो क्रिकेट ग्राउंड होता है, उसका संचालन करने की जिम्मेदारी स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की टीम को जाती है। इसीलिए आप स्पोर्ट्स मैनेजमेंट की टीम का हिस्सा बनकर अपना कैरियर बनाना सकते हैं।स्पोर्ट्स मैनेजमेंट में एडवर्टाइजमेंट, मार्केट, दर्शक और सिक्योरिटी से संबंधित बातें शामिल होती हैं।

4. स्पोर्ट्स मार्केटिंग

किसी भी खेल की सफलता उसके दर्शकों पर होती है और मार्केट में किसी भी खेल को लोकप्रिय तथा पॉपुलर बनाने की जिम्मेदारी स्पोर्ट्स मार्केटिंग कहलाती है।

वैसे तो इसको समझना आसान नहीं होता है, परंतु अगर आप को खेलो की मार्केटिंग करना आता है, तो आप इसमें काम करके अच्छा पैसा और पद दोनों प्राप्त कर सकते हैं।

किसी भी खिलाड़ी का इस्तेमाल एडवर्टाइजमेंट के लिए कैसे करना है तथा उसे एडवर्टाइजमेंट करने के लिए कितनी फीस देनी है, इसकी जिम्मेदारी स्पोर्ट्स एजंट की होती है।

जब कोई खिलाड़ी किसी विज्ञापन का प्रचार करता है, तो इसके द्वारा विज्ञापन देने वाली कंपनी की कमाई में बढ़ोतरी होती है। किसी खिलाड़ी की ब्रांडिंग कैसे करनी है और खिलाड़ी को आइकॉन कैसे बनाना है, यह सब काम स्पोर्ट एजेंट करता है।

5. स्पोर्ट्स डाइटिशियन

किसी भी प्रकार के स्पोर्ट में खिलाड़ी अपने फिटनेस पर विशेष ध्यान देते हैं कयोंकि हर खिलाड़ी पर उसके खानपान का अलग-अलग प्रभाव पड़ता है और किसी भी खिलाड़ी का प्रदर्शन उसके खानपान पर ही निर्भर करता है।

खिलाड़ी के खानपान में अगर किसी चीज की अधिकता या कमी हो जाती है, तो इससे उस खिलाड़ी का स्टैमिना प्रभावित होता है। इसीलिए इन सब की देखभाल करने के लिए और खिलाड़ी को क्या खाना है, क्या नहीं खाना है|

इसकी जानकारी प्रदान करने के लिए, खिलाड़ी की फिटनेस का ध्यान रखने के लिए स्पोर्ट डाइटिशियन के रूप में आप अपना करियर बना सकते हैं।

6. फिटनेस एक्सपर्ट

खिलाड़ी किसी एथलीट से कम नहीं होते हैं। यह हमेशा शरीर से फिट रहते हैं तथा जो खिलाड़ी शरीर से फिट नहीं रहते, वह अपने शरीर को फिट रखने का प्रयास करते हैं।

आज के समय में खिलाड़ी ही नहीं बल्कि अन्य सभी लोग शारीरिक रूप से फिट रहना चाहते हैं। इसलिए फिटनेस एक्सपर्ट के रूप में बहुत सी संभावनाएं बनी हुई है और आपकी जानकारी के लिए बता दें कि भारत सरकार भी इस पर विशेष ध्यान दे रही है।

इसीलिए भारत सरकार ने नरेंद्र मोदी जी के नेतृत्व में हर साल 21 जून को योग दिवस के तहत मनाने का ऐलान किया है। 21 जून को भारत सहित दुनिया के सभी देशों में बड़े पैमाने पर योगा किया जाता है।

इसलिए अगर आप फिटनेस की फील्ड में जाना चाहते हैं, तो आप फिटनेस एक्सपर्ट के तौर पर अपना करियर बना सकते हैं।इसमें आपको अच्छी कमाई भी मिलेगी।

7. साइकोलॉजिस्ट के रूप में कैरियर

लगभग सभी खेल में हार और जीत होती रहती है, जिसका प्रभाव खिलाड़ियों के साथ-साथ उनके स्वास्थ्य के ऊपर भी पड़ता है।जब कोई खिलाड़ी कोई मैच अथवा खेल हार जाता है|

तो उसे प्रोत्साहित करने के लिए और उसे मानसिक रूप से मजबूत करने के लिए एक साइकोलॉजिस्ट की जरूरत पड़ती है।इसीलिए आप अगर साइकोलॉजिस्ट बन कर अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो यह भी आपके लिए अच्छा करियर विकल्प रहेगा।

8. कमेंटेटर के रूप में कैरियर

जब आप टीवी पर अथवा मैदान में खेल देखते हैं, तो उसके बीच में आपने कॉमेंटेटरी जरूर सुनी होगी। अगर आपको स्पोर्ट की अच्छी समझ है और आप लंबे समय तक बिना रुके हुए और साफ-साफ बोल सकते हैं|

तो आपके लिए यह एक अच्छा पद रहेगा। एक कमेंटेटर के तौर पर आपको खेल को इंटरेस्ट बनाने के लिए कई तरह की बातें करनी आनी चाहिए।इससे जो दर्शक खेल देख रहे होते हैं, वह खेल देखने के साथ साथ मनोरंजन भी प्राप्त करते हैं।

आप चाहे तो क्रिकेट के अलावा अन्य खेलों में भी कमेंटरी करके अच्छे पैसे कमा सकते हैं।अगर आप खेल कमेंटेटर बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको सामान्य तौर पर लोकल भाषा की जानकारी, कॉलेज या स्कूल की लेवल पर रेडियो ब्रॉडकास्ट में शामिल होना जरूरी है।

इसके अलावा आप किसी कमेरीकल रेडियो स्टेशन में फ्री में या फिर पैसे देकर इंटर्नशिप कर सकते हैं।

9. खेल रेडियो शाॅ होस्ट

खेल रेडियो शो होस्ट का पद कमेंटेटर से अलग होता है।इस रोल में होस्ट को हर खेल के बारे में एक प्राथमिक जानकारी होना जरूरी है, ताकि वह लेटेस्ट खबरों के बारे में डिस्कस कर सके|

और अगर आप काफी लकी साबित हुए, तो आपको अपना शो भी होस्ट करने का मौका मिल सकता है, जिसमें आप बड़े-बड़े एथलीट और खिलाड़ियों का इंटरव्यू ले सकते हैं।

यह एक कंफर्टेबल Field होती है और सामान्य तौर पर यह रोल किसी खिलाड़ी या फिर कोच के द्वारा अच्छी तरीके से निभाया जा सकता है।इसीलिए खेल जर्नलिज्म, रेडियो ब्रॉडकास्टिंग या कम्युनिकेशन में बैचलर की डिग्री होना जरूरी है।

इसके अलावा अगर अभ्यर्थी चाहे तो वह किसी लोकल रेडियो स्टेशन से इंटर्नशिप भी कर सकता है।

10. खेल अध्यापक

हमारी भारत सरकार ने भारत में खेलों को बढ़ावा देने के लिए भारत के लगभग सभी विद्यालयों में खेल अध्यापक की नियुक्ति की है।खेल अध्यापक बनने के लिए आप अपने ग्रेजुएशन की पढ़ाई पूरी करने के बाद बीपीएड कर सकते हैं|

और जब आपका बीपीएड कंप्लीट हो जाए, तो उसके बाद आप किसी भी विद्यालय में खेल टीचर के रूप में नियुक्ति पा सकते हैं। आज के समय में हमारे भारत के कई स्कूलों में स्पोर्ट टीचर की खूब डिमांड हो रही है, इसीलिए खेल में रुचि रखने वाले लोगों के लिए स्पोर्ट टीचर एक अच्छा विकल्प साबित हो सकता है।

11. स्पोर्ट राइटर के रूप में कैरियर

एक स्पोर्ट्स राइटर अपने फैंस और खेलों को चाहने वाले व्यक्तियों को खेल से संबंधित सभी जानकारियां समय-समय पर देता रहता है और अपनी व्यक्तिगत राय भी खेल से संबंधित व्यक्त करता है।

खेल राइटर्स खेल से संबंधित सभी जानकारी जैसे कि किस टीम में कितने खिलाड़ी हैं, उन खिलाड़ियों के नाम क्या है, खेल कब चालू होगा,खेल कहां होगा, खेल कब खत्म होगा, खेल में कौन-कौन से अवार्ड दिए जाएंगे, खेल को किस कंपनी ने स्पॉन्सर किया है इत्यादि की जानकारी देता है।

अगर आप अच्छा लिखना जानते हैं तो आप अखबारों के लिए स्पोर्ट्स न्यूज़ लेखक भी बन सकते हैं तथा Freelancing
भी कर सकते हैं।

12. स्पोर्ट में कैरियर बनाने के लिए टिप्स

अगर आप खेल में कैरियर बनाना चाहते हैं तो सबसे पहले आप अपने इंटरेस्ट को फॉलो करें।आप यह सोचे की आपको किस खेल में सबसे ज्यादा इंटरेस्ट है।

यह खेल में कैरियर बनाने के लिए बहुत ही जरूरी है, क्योंकि जब आपको किसी चीज में कैरियर बनाना होता है, तो आपको उस चीज की गहराइयों में जाना होता है।

अगर आपके घर के आसपास, आपके पड़ोस में, आपके स्कूल- आपके कॉलेज में कोई व्यक्ति ऐसा है, जो खेलों की अच्छी जानकारी रखता है, तो उससे अपना संपर्क स्थापित करें और उससे खेल के बारे में जानकारी प्राप्त करने का प्रयास करें।

खेलों में अपना कैरियर बनाने के लिए सबसे पहले आप एक प्लान बनाए और अपना लक्ष्य सेट करें कयोंकि जब आप अपना लक्ष्य निर्धारित कर लेते हैं, तो आपका दिमाग ऑटोमेटिक उस लक्ष्य को प्राप्त करने के लिए आपको फोरस करता है।

13. खेल में सैलरी

जैसा कि आप जानते हैं कि इस दुनिया में कई प्रकार के खेल खेले जाते हैं और हर खेल के लिए अलग-अलग प्रकार के पद होते हैं। इसीलिए हम आपको किसी निश्चित पद की सैलरी के बारे में नही बता सकते परंतु एक अंदाज के अनुसार खेल से जुड़ी जितनी भी फील्ड है, वहां पर आपको महीने की तनख्वाह 20000 से ऊपर ही मिलेगी।

अगर क्रिकेट कोच की महीने की सैलरी की बात करें तो उन्हे 1 महीने के रूप में ₹50000 मिलते हैं।इसके अलावा जो व्यक्ति क्रिकेटर होता है, वह महीने के अनगिनत रुपए कमाता है।

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था किसी भी खेल या स्पोर्ट्स में करियर कैसे बनाएं, हम उम्मीद करते हैं कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप सब को पता चल गया होगा कि किसी भी स्पोर्ट्स में करियर बनाने के लिए क्या करना पड़ता है|

अगर आपको हमारी यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर अवश्य शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को पता चल पाए कि खेल में अपना करियर बनाने के लिए क्या करें धन्यवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.