कैसे पता करे की डिलीवरी होने वाली है | डिलीवरी होने के शुरुवाती लक्षण

जब महिलाएं पहली बार प्रेग्नेंट होती है तो जैसे-जैसे उनकी डेट नजदीक आती हैं उनके मन यह सवाल घर करते जाता है कि पता नहीं कब उनकी डिलीवरी होगी|

और वह यह कैसे जान सकती है कि उनकी डिलीवरी होने वाली है यानि की डिलीवरी होने का समय नजदीक आचुका है इसका शुरुआती लक्षण को वह किस तरह से पहचान है|

लेकिन इसमें महिलाओं को परेशान होने जैसी कोई बात नहीं है। क्योंकि अगर वह चाहे तो प्रसव के शुरुआती लक्षणो को काफ़ी आसानी से पहचान सकती हैं। हालांकि इस क्षेत्र में हर महिला का अनुभव अलग अलग होता है और हर प्रसव भी अलग होता है।

लेकिन कुछ ऐसे खास संकेत होते हैं जो यह बताते हैं कि आपकी डिलीवरी की डेट और समय नजदीक हो गई है। आज के इस पोस्ट में हम आपको ऐसे कुछ खास संकेत बताने जा रहे हैं जो प्रसव पीड़ा से ही शुरू होती है|

और यह कैसा महसूस होता है इससे जुड़ी सभी प्रकार लक्षणों के बारे में आज हम आपको इस पोस्ट के माध्यम से बताने जा रहे हैं। तो चलिए जानते हैं महिलाओ के डिलीवरी होने से पहले के कुछ लक्षणो के बारे में।

कैसे पता करे की डिलीवरी होने वाली है

डिलीवरी होने के शुरुवाती लक्षण

kaise pata kare delivery hone wali hai

सबसे पहले गर्भावस्था के आखिरी चरण में प्रेग्नेंट महिलाएं कुछ ऐसे लक्षण महसूस करती हैं जिससे उन्हें यह पता चल जाता है, कि उनका शरीर अब प्रसव के लिए तैयार हो गया है|

और यह संकेत व अनुभव आपको अपने ड्यू डेट से कुछ हफ्ते या फिर कुछ महीने पहले महसूस होने लगती है। अगर आपके साथ बताए गए संकेत मिलते हैं तो आप समझ जाए की आपकी डिलीवरी नजदीक आ चुकी है।

इन लक्षणो में जैसे पेट में गर्मी महसूस होना, संकुचन का प्रभाव बढ़ जाना, संकुचन के कारण तेज दर्द होना जो करीब 40 से 60 सेकंड तक रहता है।

इस दौरान योनि से खून भी निकलता है और पेशाब करते समय थोड़े से परिमाण में म्यूकस प्लग निकलता है जोकि गाढ़ा और गुलाबी होता है।

इसके अलावा आप डिलीवरी होने से पहले के लक्षणो को देखकर यह भी पता लगा सकती हैं कि आपकी डिलीवरी नॉरमल होगी कि नहीं|

क्योंकि प्रेगनेंसी के आखिरी महीने में सामान्य डिलीवरी होने के पहले के लक्षणो में से एक लक्षण यह भी होता है कि इस समय गर्भाशय की ग्रीवा चौड़ी हो जाती है।

जब गर्भस्थ शिशु जन्म लेने की अवस्था में होता है तो वह नीचे की और आपकी श्रेणी में आ जाता है और इस समय आप गहरी सांस ले पाएंगे और अच्छे से खा पी सकेंगे।

लेकिन ऐसे समय में आपको बार बार पेशाब जाना पड़ता है और इस दौरान आपको चलने फिरने में भी ज्यादा दिक्कत होती है।

पीठ के नीचे की तरफ या फिर पेट में लगातार दर्द होना, महामारी के दौरान होने वाले अनशन जैसे महसूस होना, दर्द भरे संकुचन या प्रबल कसाव महसूस होना।

एमनियोटिक द्रव के तेजी से बहने या रिसाव होने के साथ महिलाओ की पानी की थैली फट जाती है और ऐसा प्रसव होने से काफी पहले भी हो सकता है।

तो आपको यह संकेत मिलता है कि आपकी डिलीवरी का समय नजदीक आ चुकी है ऐसे समय पर महिलाओ को डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए।

महिलाओ के डिलीवरी का समय पास आते ही उनके मनोभावो में भी उतार-चढ़ाव देखी जाती है। ऐसे समय में बार-बार नींद खुलने की समस्या होने लगती है, अचानक से उनके मन में घर की साफ सफाई करने की इच्छा होती है।

साथ ही सभी चीजो को सही ढंग से रखने की एक अजीब सी तीव्र इच्छा होती है। अगर प्रेग्नेंट महिलाएं इन अनुभव को करने लगे इससे यह अनुमान लगाया जा सकता है कि अब उनके प्रसव का समय नज़दीक आ चुका है।

इस समय इस समय महिलाओ की योनि से चिपचिपा जेली जैसा द्रव निकलने शुरू हो जाते हैं, जिसमें खून भी दिखाई दे सकता है यह वह श्लेम होता होता है जो गर्भावस्था के दौरान ग्रीवा को बंद रखता है|

और अगर यह बाहर आ जाए तो इसका मतलब यह है कि अब जल्द ही या फिर कुछ दिनो में प्रसव होने वाला है। ऐसे में पेट गड़बड़ या दस्त जैसी समस्या भी देखने को मिल सकती है।

अगर आपकी डेट नजदीक आ चुकी है और आपको ऐसी समस्या देखने को मिले तो हो सकता है कि आपके प्रसव का समय नजदीक आ गई है।

इस दौरान यह लक्षण आप स्पष्ट तौर पर महसूस कर सकते हैं और यह लक्षण धीरे-धीरे लंबे होते जाते हैं जो आपको बार-बार महसूस होते हैं।

यह नियमित तौर पर होते रहते हैं और इसकी प्रबलता भी बढ़ती जाती है इसमें दर्द भी ज्यादा होता है और यह दर्द आराम करने या सोने के साथ भी जारी ही रहता है। इन सब लक्षणों को देखकर आप समझ सकते हैं कि अब शायद आपका प्रसव शुरू हो गया है।

१. प्रसव का पहला चरण

अब बात करते हैं प्रसव के पहले चरण की तो प्रसव की शुरुआत तब होती है जब आपकी ग्रीवा 4 सेंटीमीटर तक विस्तारित हो जाती है।

कई बार इसमें कुछ दिनो तक माहवारी जैसा दर्द महसूस होता है ऐसे में आप क्या कर सकते हैं यह बात उस पर निर्भर करता है कि आपको कैसा महसूस हो रहा है, प्रसव के शुरुआती समय के दौरान आपको जितना हो सके रिलैक्स रहना चाहिए।

इस समय होने वाले दर्द या कसाब का सामना करने के लिए रिलैक्स रहना बहुत जरूरी होता है। इस समय होने वाले दर्द और परेशानियों को कुछ हद तक रिलैक्स रहकर कम किया जा सकता है।

यह आपके शरीर को ऑक्सीटॉसिन हरमन जारी करने में भी मदद करता है और यह हरमन प्रसव को आगे बढ़ाने में मदद करता है।

२. सिजेरियन डिलीवरी क्यों होती है

बच्चे को जन्म देने की प्रक्रिया एक सामान्य और प्राकृतिक प्रतिक्रिया प्रक्रिया होती है जब स्वस्थ महिलाओ को किसी भी प्रकार दर्द निवारक दवाई या इंजेक्शन की आवश्यकता नहीं होती और काफी आसानी से उनकी डिलीवरी हो जाती है।

हालांकि कुछ डॉक्टर ऐसे में महिलाओ को दर्द से बचाने के लिए दवाई लेने का सुझाव देते हैं या फिर प्रसव के लिए दर्द शुरू करने की भी दवा देते हैं।

लेकिन जितना हो सके नॉर्मल डिलीवरी करवाना ही अच्छा होता है क्योंकि यह मां और बच्चा दोनो के स्वास्थ्य के लिहाज से ठीक होता है।

लेकिन इसके विपरीत जब किसी महिला का शरीर बच्चा जन्म देने के लिए सक्षम नहीं होता यानी कि उनका शरीर कमजोर हो जाता है तो उन्हें नॉर्मल डिलीवरी की तुलना में सिजेरियन डिलीवरी करवानी पड़ती है।

इस डिलीवरी में महिलाओ के शरीर से अधिक मात्रा में रक्त निकल जाता है जिस कारण कमजोरी हो जाती है कई बार सिजेरियन डिलीवरी के दौरान होने वाले दिक्कतो के कारण से महिलाएं लंबे समय तक इसके बाद होने वाले साइड इफेक्ट से जूझती रहती है।

इस सिजेरियन डिलीवरी में महिलाओ की पेट की मांसपेशियो का कटना शामिल होता है जिस कारण खून निकलना तो लाजमी होता ही है।

यह डिलीवरी महिलाओ के साथ-साथ बच्चो के सेहत पर भी प्रभाव डालती है तो वहीं दूसरी ओर जब कुछ महिलाएं बच्चा जन्म देने के भारी दर्द को सहना नहीं चाहती तब भी वह सिजेरियन डिलीवरी करवाने का फैसला लेती है।

लेकिन यह बाद में दर्द देता है इसीलिए सिजेरियन डिलीवरी को लेकर मशहूर हस्तिया भी सोशल मीडिया पर लोगो को जागरूक करते हैं।

हाल ही में ऐश्वर्या राय ने भी सोशल मीडिया पर यह लिखा था कि हमेशा दर्द सहने से अच्छा है कि एक बार दर्द सहा जाए और इसके द्वारा उन्होंने सिजेरियन डिलीवरी के बारे में बात कर रही थी।

आपकी और दोस्तों:

तो दोस्तों ये था कैसे पता करे की डिलीवरी होने वाली है, हम उम्मीद करते है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको डिलीवरी होने के शुरुवाती लक्षण के बारे में पता चल गया होगा|

अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज पोस्ट को १ लाइक जरूर करे और अपने दोस्तों के साथ भी अवश्य शेयर भी करे ताकि अधिक से अधिक महिलाओं को इस पोस्ट से सही जानकारी मिल पाए|

इसके अलावा अगर आप हमसे कोई भी सवाल पूछना चाहती हो तो अपने सवालों और डाउट को हमारे साथ कमेंट के माध्यम से जरूर पूछे और हम आपको उसका पक्का उत्तर देंगे|

Please share:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.