I Love You Shayari in Hindi | आई लव यू शायरी

हेल्लो फ्रेंड्स, आज के इस पोस्ट में हम आपके साथ बेस्ट आई लव यू शायरी शेयर करने जा रहे है जिसको आप अपनी गर्लफ्रेंड, हस्बैंड, वाइफ या फिर अपने बॉयफ्रेंड के साथ शेयर कर सकते हो.

प्यार के ये ३ शब्द बहुत ही पावरफुल है और जिस किसी से आप सच्चे दिल से प्यार करते हो उसके साथ ये अनमोल प्रेम के शब्द आपको जरुर बोलना है उससे आप दोनों के बीच में प्यार बहुत ज्यादा बढ़ जाता है.

I Love You Shayari in Hindi

आई लव यू शायरी

i love you shayari

1
इजहार भी तुमसे हुआ है
प्यार भी तुमसे हुआ है
हमने तुमसे ही की है मोहब्बत
और यह दिल भी आज से तुम्हारा ही हुआ है

2
कहने मैं आसान नहीं होते है वो तीन लफ्ज़
हर किसी के लिए नहीं होते हैं वो तीन लफ्ज़
मैंने किसी को नहीं कहा है जिंदगी में वह तीन शब्द
जिन्हें मैं आज तुमसे कहना चाहता हूं
हां मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं
मैं सिर्फ और सिर्फ तुम्हारा होकर रहना चाहता हूं

3
तुमसे ही की है मोहब्बत मैंने तुम्हें ही चाहा है
मैंने तुम्हें हर दफा अपना माना है
मैं तुमसे आज करता हूं अपनी मोहब्बत का इजहार
हां मैने तुम्हें अपना हमसफर माना है

4
तुम्हारे अलावा मैं किसी और से मोहब्बत कर ही नहीं सकता था मैं तुम्हारे अलावा किसी और को चाहा ही नहीं सकता था
खुदा ने शायद तुम्हें मेरे लिए ही बनाया था
इसलिए तो तुम्हें मेरे पास भेजा था
और मैंने तुम्हें गले से लगाया था

5
मैं आज तुमसे कुछ कहना चाहता हूं
मैं आज तुमसे अपने दिल की बात कहना चाहता हूं
हां मुझे हो गया है तुमसे प्यार
में तुमसे इश्क का इजहार करना चाहता हूं

6
यह मोहब्बत जो तुमसे है वह तुमसे ही रहेगी
यह तुम्हारे अलावा कभी किसी और से हो नहीं सकती
मैंने हमेशा तुम्हें ही चाहा है और तुम्हें ही देखा है अपने ख्वाबों में यह इजहार ए इश्क किसी और से हो नहीं सकती

7
कहने को तो बहुत आसान होता है
पर मोहब्बत करना इतना आसान नहीं होता है
हर कोई चला जाता है बीच राह में छोड़ कर
पर मैं तुमसे वादा करता हूं जिंदगी भर तुम्हारा साथ निभाऊंगा तुम्हारा हमसफर बन कर हर कदम पर तुम्हारा साथ निभाऊंगा

8
अभी तो मैं अकेला छोड़ नहीं सकता
मैं कभी तुम्हें खुद से दूर कर नहीं सकता
मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत का इजहार आज
मैं तुम्हारे बिना अब रह नहीं सकता

9
इस तरह में तुम्हें अपनी मोहब्बत दिखाऊं
किस तरह मैं तुम्हें अपना बनाऊं
मैंने सिर्फ तुम्हें माना है अपना
मैं कैसे तुम्हें अपने दिल में तुम्हारी दिखाऊं
मैं करता हूं आज तुमसे मोहब्बत का इजहार
कैसे तुमसे आज अपने दिल की बात पर बताऊं

10
मैं तुमसे अपने दिल की बात कह जाऊंगा
जो दिल में है वह हर एक लफ्ज़ बता जाऊंगा
मैंने जो किसी से नहीं कहा है आज तक वह मैं तुमसे कहता हूं हां मैं तुमसे प्यार करता हूं और मैं तुम्हारे बिना मर जाऊंगा

11
मोहब्बत करना अगर इतना ही आसान होता
तो फिर हर कोई मोहब्बत कर लेता
पर हर किसी के बस में मोहब्बत नहीं आती है
लोग टूट कर बिखर जाते हैं मोहब्बत किसी को रास नहीं आती है

12
हर किसी को मुहब्बत रास आ नहीं सकती
हर किसी के दिल को छू नहीं सकते
पर मैंने तुमसे प्यार किया है और मैं तुमसे इश्क करता हूं
तुम्हारे बिना अब नहीं रह सकता
मैं तुमसे अपने प्यार का इजहार करता हूं

13
यह मोहब्बत जो तुमसे है
वह तुम्हारे अलावा मैं किसी और से नहीं करूंगा
मैं तुम्हारे अलावा किसी और को अपना नहीं बनाऊंगा
मैंने तुमसे किया है प्यार हमें तुमसे मोहब्बत करता रहूंगा
बस तुम्हारे साथ छोड़ कर कभी मत जाना
वरना फिर मैं हर रोज मरता रहूंगा

14
मेरी मोहब्बत को तुम शायद समझ नहीं पाओगी
तुम शायद मुझे अपना बना नहीं पाओगी
पर मैंने तुम्हें दिल से चाहा है हमेशा चाहता रहूंगा
मैं तुमसे करता हूं मैं इश्क का इजहार
में तुम्हें अपना बनाकर रखूंगा
तुम्हें अपना हमसफर बनाऊंगा

15
दिल की बात जुबां पर आ जाती है पता नहीं चलता
कब कौन है इस दुनिया में मिल जाता है पता नहीं चलता
हम तो सिर्फ आपके है
हम आपके सिवा किसी के हो नहीं सकते
आपके बिना हमारा दिल किसी और का हो नहीं सकता

16
जिंदगी कैसे बीते गी यह मुझे मालूम नहीं था
कोई मुझे छोड़कर चला जाएगा इस तरह मालूम नहीं था
पर आज मैंने दोबारा मोहब्बत करना सीखा है
हां मैं तुमसे प्यार करता हूं मैंने तुम्हारे अंदर जीना सीखा है

17
तुम्हारे इश्क की तो मैं क्या मिसाल दे पाऊंगा
मैं तुम्हारे बिना कैसे रह पाऊंगा
मैंने तुमसे की है मोहब्बत अब तो तुमसे ही करूंगा
मैं तुम्हारे अलावा कभी किसी और से प्यार नहीं कर पाऊंगा

18
तुम्हारी मोहब्बत को है मैंने अपना सब कुछ माना है
तुम्हारी मोहब्बत को ही मैंने दिल दिया है
तुम बस हमेशा रहना मेरे साथ
मैंने हां तुम सही इश्क किया है

19
इश्क को अगर समझ ना हो तो तुम थोड़ा खुद में झांक लेना अपने अंदर अपने दिल की बात को परख लेना
हम तुमसे इश्क का इजहार करता हूं
तो मेरी मोहब्बत की थोड़ी सी कदर कर लेना

20
जो मैंने आज तक किसी से नहीं कहा
वह तुमसे मैं कहने जा रहा हूं
हां मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
और तुम्हें अपना बनाने जा रहा हूं
मैंने हर दफा तुम्हें चाहा है अपने ख्वाबों में
और मैं तुम्हें आज हकीकत में अपना बनाने जा रहा हूं

21
सफर कुछ इस तरह से चलेगा कि कुछ मालूम नहीं होगा मोहब्बत में कोई अपना नहीं होगा
हमने आपको सब कुछ दिया है हम आपको चाहते हैं
आपके बिना तो हमारा इस दुनिया में कोई नहीं होगा

22
अभी सफ़र में कोई नहीं मिलेगा
मुझे हमेशा सर में कोई साथ नहीं रहेगा मेरे
मैंने तो तुम्हें ही माना है अपना तुम्हें ही मानती रहूंगी
तुमसे ही करती हूं इश्क और तुमसे ही प्यार करते हूं
हां मैं तुमसे बहुत ज्यादा प्यार करती हूं

23
तुम मेरी मोहब्बत हो यह मैं सरेआम कह सकता हूं
मैं तुम्हारे साथ जिंदगी भर रह सकता हूं
मैं तुम्हारा साथ कभी नहीं छोडूंगा
हां मैं सिर्फ तुमसे प्यार करता हूं
तुमसे ही प्यार करता रहूंगा

24
मेरी मोहब्बत को चाहो तो तुम आजमा कर देख लेना
तुम मेरे से दूर जाकर देख लेना
तुम एक पल भी मुझसे दूर रह नहीं पाओगे
चाहो तो तुम मुझे भुला कर देख लेना

25
इतनी आसानी से कोई किसी का नहीं होता है
इतनी आसानी से कोई अपना नहीं होता है
हमने आपको दिल दिया है हम आपको ही जान मानते हैं
हमने आपसे की है मोहब्बत
और हम आपसे इजहार करते हैं

26
मोहब्बत का इजहार करना आसान नहीं होता है
हर किसी के लिए प्यार करना आसान नहीं होता है
जिंदगी तो निकल जाती है हमारे हाथ से ही
किसी को पता नहीं होता है
और कब प्यार में हम गिर जाते हैं हमें मालूम नहीं होता है
हां तुमसे करता हूं मोहब्बत करता हूं मैं
तुम्हारे बिना रह नहीं रह सकता हां मैं तुमसे प्यार करता हूं

27
मोहब्बत को शायद तुम मेरी समझ नहीं पाओगे
तुम शायद मेरे बिना रह लोगे पर रह नहीं पाओगे
मैं तुमसे करता हूं आज इश्क का इजहार
क्या तुम मुझे अपना बना लोगे
क्या तुम मेरे हमसफर बन जाओगे

28
थोड़ा सा तुम भी मुझसे मोहब्बत कर लो ना
मैं तुमसे इश्क का इजहार करता हूं
तुम भी थोड़ा सा मुझसे प्यार कर लो ना
मेरे लिए तो कोई नहीं है वहां पर
तुम भी तो मुझे थोड़ा अपना बना लो ना

29
मोहब्बत हर किसी के बस में नहीं होती है
मोहब्बत हर किसी को रास नहीं आती है
मोहब्बत नहीं मिलती है इतनी आसानी से
मोहब्बत हर किसी के पास नही रहती है
मैंने किया है तुमसे प्यार है तुम्हे ही करता रहूंगा
तुम्हारे बिना मैं मर जाऊंगा
फिर भी तुमसे इश्क करता रहूंगा

30
तुमसे मोहब्बत का इजहार करना है
मुझे तुम्हारे साथ ही रहना है
मैं तुमसे प्यार करता हूं
और सिर्फ तुम ही मैं चाहता हूं
तुम्हें अपना बना कर लूंगा
मैं तुम्हें दिलो जान से इश्क करता हूं

31
तुम्हारी मोहब्बत के बिना मैं रह नहीं सकता
मैं तुम्हारे अलावा जी नहीं सकता
मैं तुम्हारे अलावा किसी और से मोहब्बत कर नहीं सकता
मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत का इजहार
हां मैं तुमसे प्यार करता हूं
और तुम्हारे सिवा में किसी और को चाहा नहीं सकता

32
मुझे तुम्हें हमसफर बनाना है
मुझे तुम्हें ही अपना बनाना है
मैं सिर्फ तुम्हें करता हूं दिल से मोहब्बत
मुझे तुम्हें ही दिल से लगाना है

33
मेरी चाहत को शायद तुम को नाम ना दे पाओगे
तुम शायद मेरी मोहब्बत को अंजाम न दे पाओगे
मेरी मोहब्बत को कभी नहीं समझ सकते
तुम इसे शायद कोई नाम नहीं दे पाओगी
पर मैं तुम्हारे साथ हर कदम चलना चाहता हूं
तुमसे करता हूं मोहब्बत
और तुम से ही सात जन्मों का वादा चाहता हु

34
सफर जिंदगी का तुम्हारे बिना भी ऐसे ही गुजर जाएगा
यह रात चलती है पर मैं ऐसे ही चलता जाऊंगा
तुमसे इश्क किया है और तुमसे ही करता जाऊंगा
मैं आज कहता हूं तुम्हें अपने दिल की बात
हां मैं तुमसे प्यार करता हूं मैं तुम्हारे बगैर जी नहीं पाऊंगा

35
दिल की बातें अक्सर जुबां पर आ जाती है
लोग हमेशा कहे जाते हैं हमने की है तुमसे मोहब्बत
हम तुमसे ही करते रहेंगे
तुम्हारे अलावा हम किसी और से मोहब्बत कर नहीं सकते क्योंकि आप हमारे दिल में बस चुके हो
हम आपके अलावा किसी और को अपना बना नहीं सकते

36
सात जन्मों का वादा तो मैं कर नहीं सकता
पर इस जनम में तुम्हारा साथ जरूर निभाऊंगा
हर कदम पर तुम्हारे साथ दूंगा
तुम्हारे साथ हमेशा ऐसे ही चलता जाऊंगा

37
मोहब्बत अगर इतनी आसानी से मिल जाएगी
तो फिर क्या बात थी, हम तो हमेशा से कर लेते हैं मुलाकात अगर मुलाकाते नहीं मिलती तो क्या बात थी
हमने तुमसे की है मोहब्बत हो तुम भी हम से करती हो
हम तुमसे इश्क का इजहार करते हैं
हां तुम भी मुझसे प्यार करती हो

38
शायद मैं तुम्हारे बाद दिल कि नहीं जानता
पर फिर भी मैं तुमसे अपने दिल की बात कहना चाहता हूं
जब से मैंने तुम्हें देखा है मैं तुम्हारा हो गया हूं
मैं तुमसे प्यार करता हूं
मैं तुम्हें अपना जीवनसाथी बनाना चाहता हूं

39
लोग तो इश्क के वादे से मुकर जाते हैं
पर मैं ऐसा कभी नहीं करूंगा
मैं तुम्हारा साथ हर कदम पर दूंगा
मैं तुम्हारा साथ छोड़ कर कभी और दूसरे को साथ नहीं रहूंगा
मैं तुमसे करता हूं प्यार हमें तुमसे इश्क करता हूं
और मैं तुम्हें अपना बनाकर रखूंगा

40
इतनी आसानी से अगर तुम्हें मोहब्बत मिल जाएगी
इतनी आसानी से अगर वो मेरे पास आ जाएगी
तो फिर क्या यह मोहब्बत किसी और की हो पाएगी
मैंने तुमसे किया है प्यार मानना ना मानना तुम्हारी मर्जी है पर मेरी मोहब्बत इसे बदल नहीं जाएगी

41
तुम्हारी मोहब्बत में मैंने खुद को हमारा छोड़ दिया
मैंने तुम्हारे लिए तो पागल कर दिया
मैं तुम्हें करता हूं प्यार सिर्फ तुम ही करता रहूंगा
मैंने आज तुमसे इश्क का इजहार कर दिया

42
जिंदगी ऐसे ही सफर में अचानक से गुजर जाती है
मोहब्बत कहां रहती है जो हमें मिल पाती है
हमने तुम्हें दिया है दिल तो फिर
तुम्हारी एक बात हमारे दिल को लग जाती है
हमने किया है तुमसे इश्क बेमतलब का
तुम्हारी मोहब्बत मेरा दिल छू जाती है

43
तुमसे जो वादा किया है उसे निभाऊंगा भी सही
मैंने तुमसे जो मोहब्बत का वादा किया है
उसे पूरा करके निभाऊंगा भी सही
मैं तुमसे आज अपने इश्क न
मैं तुम्हें अपने घर दुल्हन बनाकर ले जाऊंगा अभी सही

44
मैं कभी अपने वादे से पीछे नहीं हटता
मैं कभी अपने वादे से मुकरता नहीं हूं
मैंने तुमसे की है मोहब्बत आज में खुलेआम इजहार करता हूं
हां मैं तुमसे प्यार करता हूं हां मैं तुमसे प्यार करता हूं

45
मेरी मोहब्बत को तुम कभी भी भुला मत देना
तुम मुझे कभी छोड़कर किसी और से इश्क मत कर लेना
मैंने तुमसे किया है आज मोहब्बत का इजहार
तो मेरे अलावा किसी और को अपना जीवन साथी मत बना लेना

46
मेरी मोहब्बत को शायद तुमने कभी समझा ही नहीं है
तुमने मुझे कभी दिल से प्यार किया ही नहीं है
मैं तुम्हें चाहता हूं हमेशा चाहता रहूंगा
तुमने कभी मुझसे मोहब्बत किया ही नहीं है

47
इश्क में कभी भी कोई कमी नहीं रहेगी
मैं तुम्हें हमेशा खुश रखूंगा मेरी मोहब्बत में कोई कमी नहीं रहेगी तुम पर कभी दुख का साया नहीं पड़ने दूंगा
तुम्हारा ख्याल रखने में कोई कमी नहीं रहेगी
मैं तुमसे प्यार मोहब्बत करता हूं
मेरी इश्क का इजहार में कभी कोई कमी नहीं रहेगी

48
हमने तुम्हें चाहा हैं हमने तुम्हें माना हैं
वो बात अलग थी पर तुम भी आज हमसे मोहब्बत करते हो तुमने नहीं किया हमसे इश्क तो क्या हुआ
हम तुमसे अपने प्यार का इजहार करते हैं
हम तुमसे प्यार करते हैं

49
कहने में बहुत आसान होता है
पर हर कोई मोहब्बत को निभा नहीं पाता
और तीन लफ्ज़ तो कह दूंगा मैं
तुमसे पर हर कोई इनका मतलब समझ नहीं पाता
पर हां मुझे तुमसे सच्चा प्यार हुआ है
और मुझे ही तुमसे जिंदगी में पहली बार हुआ है

50
मोहब्बत इतनी आसानी से किसी को मिल नहीं जाती है मोहब्बत हर किसी को रास नहीं आती है
हमने तुमसे की है मोहब्बत और तुम से ही करते रहेंगे
तुम्हारे अलावा किसी और को हमारी याद नहीं आती है

51
तुमसे जो मोहब्बत हमें इस कदर हो गई है
फिर देखो हमें कहीं पर मिलने की चाहत नहीं रह गईं है
हमने तुमसे किया है प्यार और हम तुम्हारा ही इंतजार करते हैं हम तो सनम सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही प्यार करते हैं

52
तुम्हारे अलावा अब हम वह किसी से मोहब्बत पर नहीं सकते अब तुम्हारे अलावा अब हम हर किसी को चाह नहीं सकते
हमने सिर्फ तुमसे किया इश्क तुम से ही करते रहना
तुम्हारे अलावा किसी और से मोहब्बत कर नहीं सकते

53
मैं तुमसे इश्क करता हूं मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
मैं तुम्हें छोड़कर कभी नहीं जाऊंगा
मैं इस जन्म में ही नहीं अगले जन्म तक तुम्हारा साथ निभाऊंगा खुदा ने किया है हम दोनों का साथ रहना मुक्कमल
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं तुमसे मोहब्बत करता जाऊंगा

54
इतनी आसानी से मोहब्बत हमें मिल नहीं जाती है
इतनी आसानी से कोई आशिकी हमें रास नहीं आती है
हमें आपसे मोहब्बत हम आपसे ही करते रहेंगे
आपके अलावा हमारे दिल में और कोई नहीं आती है

55
तुम्हारी मोहब्बत का मैंने हमेशा अपना माना है
मैंने तुम्हें हमेशा अपने दिल से लगाया है
मैं तुमसे करता हूं प्यार हो तुम सही मोहब्बत करता हूं
मैंने तो तुम्हें अपना माना है तो नहीं दिलों जान से चाहा है

56
मेरी मोहब्बत में कभी कोई शिकायत नहीं रहेगी
मेरी मोहब्बत में कभी कोई अदावत नहीं रहेगी
मैंने जो तुमसे बातें की है मैं सारे निभाऊंगा
मेरी मोहब्बत में कभी कोई कमी नहीं रहेगी
तुम कर लो मेरे इश्क को कबूल
तुम्हारे सिवा मेरी और कोई दूसरी मोहब्बत नहीं रहेगी

57
इतनी आसानी से कौन सी सी को नहीं मिल जाता है
हमसफ़र रास्ते में ही सही नहीं मिल जाता है
पर हमने आपसे मोहब्बत की है
और हमें इस मोहब्बत को निभाने दिखाएं
जहां हमें आपसे प्यार है
और हम आपसे ही इश्क करके दिखाएंगे

58
मैं वो इंसान नहीं हूं जो रोज अपनी मोहब्बत बदल देता है
मैं सिर्फ एक ही बार मोहब्बत करता हूं
मैं वो नहीं हूं जो हर रोज अपनी हीर बदल लेता है
हमें तुमसे मोहब्बत है तुमसे ही करता रहूंगा
मैं तुम्हारे अलावा कभी किसी और से इश्क नहीं करूंगा

59
मैंने तुम्हें अपनी जिंदगी माना है
तुमसे ही मैंने मोहब्बत की है
मैं तुम्हारे साथ ही रहना चाहता हूं
हां मैंने तुमसे इश्क की अदावत किया

60
मैंने तुम्हारे अलावा मैं किसी और को चाहा नहीं है
मैं तुम्हारे अलावा किसी और को देखा नहीं है
मैंने तुमसे की है मोहब्बत हमेशा हमसे
इश्क का इजहार करता हूं
मैंने तुम्हारे अलावा किसी और को
अपना बनाने के बारे में सोचा नहीं
हा मैं तुमसे प्यार करता हूं

61
तुमसे कुछ कहने आया हूं
अपने दिल का हाल बताने आया हूं
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
और तुमसे इश्क का इजहार करने आया हूं
क्या तुम मेरे इश्क को कुबूल करोगी
मैं तुमसे बहुत प्यार करता हूं
मैं तुम्हे अपनी मोहब्बत बताने आया हूं

62
एक बार तुम्हें मुझसे प्यार करना चाहिए
एक बार तो तुम्हें मेरा एतबार करना चाहिए
मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत
तुम्हें भी मुझसे प्यार करना चाहिए

63
तुम्हारे अलावा तो हमने किसी और को चाहा ही नहीं है
तुम्हारे अलावा तो हमने किसी और को सोचा ही नहीं है
हमने तुमसे ही निभाई है मोहब्बत और तुम से ही करते रहेंगे तुम्हारे अलावा हमने किसी और से कभी इश्क किया ही नहीं है

64
आज मैं तुमसे अपने दिल की बात कहना चाहता हूं
हां मैं तुम्हारे साथ जन्मो जन्म तक रहना चाहता हूं
मुझे तुमसे हो गया है प्यार
और मैं तुमसे अपने इश्क का इजहार करना चाहता हूं

65
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं मैं तुमसे प्यार करता हूं
जिसे दुनिया वाले इश्क कहते हैं मैं
उसमें भी तुम्हारा ऐतबार करता हूं
मुझे तुमसे आज भी है मोहब्बत है
मैं तुमसे अपने दिल की बात कहता हूं

66
तुम्हें अगर मुझ पर यकीन नहीं है
तुम्हें अगर मुझ पर मोहब्बत नहीं है
तो तुम मुझे छोड़कर जा सकते हो
और तुम्हें मुझ पर थोड़ा भी ऐतबार नहीं है

67
मैं मोहब्बत में की हुए सारे वादे कभी नहीं तोडूंगा
मैं तुम्हें बीच रास्ते में कभी अकेला नहीं छोडूंगा
तुम मुझसे कोई भी वादा कर नहीं सकती हो
आज मैं तुम्हारे अलावा किसी और से रिश्ता नहीं जोड़ लूंगा

68
तुम्हारी मोहब्बत को मैंने दिलो जान से चाहा है
मैंने तुम्हें सिर्फ अपना और अपना माना है
मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत
मैंने तुम्हें अपना सब कुछ माना है

69
तुम्हारी मोहब्बत में ही मैंने जीना सीखा है
तुम ही मैं अपना माना है
अगर तुम ही चली जाओगी मुझे छोड़कर
तो मुझे कौन मोहब्बत करेगा
मैंने तुम्हें ही तो मोहब्बत में अपना हमसफर माना है

70
तुम कभी मुझे छोड़कर मत जाना
तुम मुझसे रिश्ता तोड़ कर मत जाना
मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत
और तुम भी मुझसे की हुई सारी बातें निभाना
मुझे तुमसे प्यार हुआ और मैं आज इश्क का इजहार करता हूं
और जब मैं यह काम करूंगा तुम मेरे गले लग जा ना

71
मैंने कभी तुम्हारे बारे में ऐसा कुछ सोचा नहीं था
मैंने तुमसे कितनी मोहब्बत की तुम्हें गलत समझा नहीं था
मुझे तुमसे इश्क था मैंने तुम्हारे अलावा किसी और को
अपना माना नहीं था, हां हमें तुमसे मोहब्बत है
तुम्हारे अलावा किसी और से कभी प्यार किया नही था

72
तुम्हारी मोहब्बत कभी मैं भूल नहीं पाऊंगा
तुम्हारे अलावा मैं किसी और को चाहा नहीं पाऊंगा
मैंने तुमसे किया है प्यार
हमें तुमसे किया हुआ हर वादा निभाऊंगा

73
हमने कभी तुम्हारे अलावा किसी और से मोहब्बत चाहे नहीं है मैं कभी तुम्हारा नाम आज किसी और को सोचा नहीं है
मुझे तुमसे मोहब्बत हुई है हमें तुमसे इश्क का इजहार करता हूं मैं तुम्हारे अलावा कभी किसी और को आई लव यू कहा नहीं है

74
अगर मैं तुमसे प्यार करता रहूंगा
जब मैं तुमसे की तरह याद करता रहूंगा
तुम भी एक दिन मान भी जाओ मेरी मोहब्बत
हो मैं तुम्हें हमेशा प्यार करता रहूंगा

75
एक बार तो तुम्हें मेरे बारे में समझना होगा
एक बार तो तुम्हें भी मेरा साथ देना होगा
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
तुम्हें भी तुम मुझसे वादा लेना होगा

76
मैं तुमसे आज इश्क का इजहार करने आया हूं
मैं हमेशा हमेशा के लिए तुम्हें अपना बनाने आया
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं बहुत
मैं तुम्हें अपने घर ले जाने आया हूं

78
तुम्हारे अलावा किसी और को चाहा ही नहीं है
मैंने तुम्हारे अलावा और कोई ख्वाबों में आया ही नहीं है मेरे
जब से देखा है मैंने तुम्हें नहीं सोया नहीं हूं कहीं रातों से
मुझे तुमसे इश्क हो गया है मैं उसके खुमार मैं हूं कई रातों से

89
इश्क को जरा तुम समझ जाओ ना
तुम भी मुझे अपने पास बुलाओ ना
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
तुम भी मुझसे एक बार मोहब्बत निभाओ ना

90
मैं तुमसे मोहब्बत करता हूं
हां मैं तुमसे वादा करता हूं
मैं तुम्हारे अलावा किसी और को नहीं चाहूंगा
मैं तुम्हें सदा अपना बनाकर रखूंगा
मैं तुमसे मोहब्बत में यह अपना वादा करता हूं

91
मुझे तुमसे इश्क का इजहार करना है
मुझे सिर्फ और सिर्फ तुमसे ही प्यार करना है
तुम ही रहती हो हमेशा मेरे ख्वाबों
मुझे तुम ही अपना बना कर रखना है

92
मैं तुमसे मोहब्बत करना चाहता हूं
मैं तुम्हें अपना बनाना चाहता हूं
मैं तुमसे इश्क का इजहार करता हूं
हां मैं तुमसे प्यार करना चाहता हूं

93
तुम्हारे अलावा मोहब्बत में मैंने किसी को अपना माना नहीं है तुम्हारे अलावा मैंने किसी को चाहा नहीं है
मैं तुमसे करने आया हूं आज इश्क का इजहार
तुम्हारे अलावा मैंने किसी और के बारे में सोचा नहीं है

94
तुमसे आज कुछ बातें मुझे टाइम नहीं है
हां मुझे तुम्हें अपने दिल का हाल बताना है
मैं करने लगा हूं तुमसे मोहब्बत
मुझे तुमसे इश्क का इजहार करवाना है

95
मेरी मोहब्बत में कभी कोई सवाल नहीं आएगा
तुम्हारे अलावा कभी कोई दूसरा नहीं आएगा
मुझे तुमसे हो गई है बेपनाह मोहब्बत
तुम्हारे अलावा मैं जी नहीं पाऊंगा
और इस मोहब्बत है मैं तुम्हारे सिवा
किसी और का हो नहीं पाऊंगा

96
मैं तुमसे प्यार करता हूं मैं तुमसे ही मोहब्बत करता हूं
मैं आज आया हूं तुमसे अपने इश्क का इजहार करने
हां मैं सिर्फ और सिर्फ तुम्हें ही चाहता
मैं तुमसे ही प्यार करता हूं

97
मेरी मोहब्बत को तुम समझ लो
वरना मैं फिर कभी तुम्हारे पास नहीं आऊंगा
मैं आज करता हूं तुमसे इश्क का इजहार
मैं तुम्हारे अलावा किसी और को अपना नहीं बनाऊंगा

98
तुम से ही मोहब्बत है हमें और तुम से ही चाहत है हमें
हमें तुम्हारे अलावा किसी और से दिल लगी नहीं है हमें
हम तुमसे ही करते हैं मोहब्बत
तुम्हारे अलावा किसी और से मिलने की चाहत भी नही है हमें

99
एक बार तो मेरी मोहब्बत पर यकीन कर लेना
एक बार सिर्फ और सिर्फ तुम मुझ पर यकीन कर लेना
मैंने तुमसे किया है प्यार तुमसे ही करता रहूंगा
तुम एक बार तो मेरा एतबार कर लेना

100
मैंने तुमसे मोहब्बत की है
तुम भी मुझसे थोड़ा सा प्यार कर लेना
तुम भी मुझसे थोड़ी सी मोहब्बत कर लेना
हां मैं सिर्फ तुम्हें ही चाहता हूं, तुम्हें चाहता रहूंगा
तुमसे करता हु इश्क का इजहार
मैं तुमसे ही मोहब्बत करता रहूंगा।।

101
तुम्हारे इश्क में ही तो मैंने सब कुछ सीखा है
तुम्हारे इश्क में ही मैंने रहना सीखा है
हां मैं तुमसे करता हूं मोहब्बत
और तुम सही करता रहूंगा
मैंने तुमसे प्यार करना सीखा है

102
सारा का सारा मोहब्बत का खेल होता है यहां
हर किसी को सच्चा प्यार नहीं मिलता है यहां
पर मैंने तुमसे मोहब्बत की है और तुमसे ही करता रहुंगा
मैं तुमसे इश्क का इजहार करता हूं
हां मैं तुमसे ही प्यार करता हूं

Please share:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.