टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने | न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए क्या करे

टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने: आजकल भारत में विभिन्न प्रकार के टीवी चैनल लांच हो रहे हैं। यह चैनल सभी कैटेगरी में लांच हो रहे हो, फिर चाहे वह एंटरटेनमेंट की कैटेगरी हो या फिर न्यूज़ की कैटेगरी हो।

जहां कुछ सालों पहले टीवी पर समाचार से संबंधित कुछ ही न्यूज़ चैनल आते थे, वहीं अब टीवी पर न्यूज़ चैनलों की बाढ़ सी आ गई है। पिछले कुछ सालों में कई लोगों ने और कंपनियों ने अपना खुद का न्यूज़ चैनल खोला है और उन्हें सफलता की ऊंचाइयों तक पहुंचाया है।

उदाहरण के तौर पर आपने अरनब गोस्वामी का नाम तो सुना ही होगा, अगर आप इनके बारे में नहीं जानते, तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अर्नब गोस्वामी पहले अन्य किसी न्यूज़ चैनल में रिपोर्टिंग और एंकरिंग का काम करते थे|

परंतु पिछले साल ही इन्होंने अपना खुद का न्यूज़ चैनल खोला, जिसका नाम इन्होंने रिपब्लिक भारत रखा है और आज रिपब्लिक भारत न्यूज़ चैनल भारत में सबसे ज्यादा देखे जाने वाले न्यूज़ चैनल के लिस्ट में शामिल है।

दोस्तों आप जब भी समाचार देखते हैं, तब आपने यह जरूर देखा होगा कि जो व्यक्ति समाचार चैनलों में हमें समाचारों के बारे में जानकारी देता है वह कभी-कभी कार्यक्रम के बीच में किसी दूर खड़े अन्य व्यक्ति से भी बात करता है|

और उससे किसी भी घटना से संबंधित जानकारी लेता है और फिर उस जानकारी को वह अपने शब्दों के द्वारा हमें बताता है।दोस्तों क्या आपने कभी सोचा है कि जो व्यक्ति न्यूज़ एंकर को जानकारी देता है|

उसे क्या कहते हैं तथा उसे इस काम के लिए कितनी सैलरी मिलती है, अगर आप नहीं जानते तो चिंता करने की कोई बात नहीं है, क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको सब कुछ बताने वाले हैं।

सबसे पहले तो हम आपको यह बता दें, कि जो व्यक्ति न्यूज़ एंकर को खबर देता है, उसे न्यूज़ रिपोर्टर कहा जाता है। न्यूज़ रिपोर्टर के अलावा उसको टीवी रिपोर्टर भी कहा जाता है।

अगर आप टीवी रिपोर्टर बनने में इंटरेस्टेड है, तो आज हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें, क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको टीवी रिपोर्टर कैसे बने, इसके बारे में पूरी जानकारी विस्तार देने वाले हैं।

आज के हमारे इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि टीवी रिपोर्टर अर्थात क्या होता है, टीवी रिपोर्टर कैसे बने, टीवी रिपोर्टर बनने के लिए कौन-कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है, टीवी रिपोर्टर बनने के लिए कौन सी योग्यता होनी चाहिए, टीवी रिपोर्टर की सैलरी कितनी होती है, टीवी रिपोर्टर कौन-कौन से काम करता है, तो चलिए जानते हैं कि टीवी रिपोर्टर कैसे बने।

टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने

न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए क्या करें

TV news reporter kaise bane

1. टीवी रिपोर्टर किसे कहते हैं

अगर हम टीवी रिपोर्टर की परिभाषा के बारे में बात करें तो किसी भी मामले अथवा घटना के बारे में कम से कम शब्दों में लिखकर या तैयार करके किसी समाचार के माध्यम से हमारे सामने प्रस्तुत करने की कला को ही रिपोर्टिंग कहा जाता है|

तथा जो इस रिपोर्ट को तैयार करता है, उसे रिपोर्टर कहते हैं। इस तरह इन दोनों के मेल से टीवी रिपोर्टर बनता है। एक टीवी रिपोर्टर का सबसे मुख्य काम होता है, न्यूज़ चैनल अथवा अखबारों के लिए खबर इकट्ठा करना।

2. टीवी रिपोर्टर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

जो अभ्यर्थी टीवी रिपोर्टर बनना चाहता है, उसे टीवी रिपोर्टर बनने के लिए बारहवीं कक्षा को पास करना जरूरी है तथा उसके 12वी कक्षा में कम से कम 50% अंक भी होने चाहिए।

अगर आप 12वीं कक्षा पास कर चुके हैं, तो आप अपनी स्ट्रीम के अनुसार कोर्स का चुनाव कर सकते हैं, हालांकि कुछ कोर्स ग्रेजुएशन लेवल के होते हैं, जिन्हें करने के लिए आपको ग्रेजुएशन की डिग्री लेनी होती है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि अगर आप टीवी रिपोर्टर बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपकी कम से कम उम्र 20 साल के ऊपर होनी चाहिए।

3. टीवी रिपोर्टर बनने के लिए व्यक्तिगत योग्यता

एक अच्छा टीवी रिपोर्टर बनने के लिए आपके पास शैक्षिक योग्यता के अलावा अन्य कुछ योग्यताएं भी होनी चाहिए। यदि आपके पास अन्य योग्यताएं हैं, तो आप इस फील्ड में काफी प्रगति कर सकते हैं और इस फील्ड में एक अच्छा स्थान प्राप्त कर सकते हैं।आइए जानते हैं कि वह कौन सी योग्यताएं है, जो आपके अंदर एक अच्छा टीवी रिपोर्टर बनने के लिए होनी चाहिए।

एक अच्छा न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए आपके अंदर अच्छी सोचने समझने की शक्ति होनी चाहिए। इसके अलावा आपके अंदर साहस और धैर्य होना चाहिए, साथ ही आपको किसी से भी बातचीत करने में संकोच या डर नहीं लगना चाहिए।

क्योंकि कई बार एक टीवी रिपोर्टर को बड़े-बड़े नेताओं से जवाब सवाल जवाब करने पड़ते हैं, इसीलिए आपका निडर होना जरूरी है।
इसके अलावा आप की बोली बिल्कुल साफ और सरल होनी चाहिए।

मतलब की आप जो भी बोले, वह सभी को आसानी से समझ में आ जाए।इसके अलावा आपको हिंदी और अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।

आपको हिंदी और अंग्रेजी भाषा को बोलना पढ़ना और लिखना आना चाहिए, साथ ही आपके अंदर किसी भी समस्या को सुलझाने की क्षमता होनी चाहिए और कंप्यूटर से संबंधित जानकारी भी होनी चाहिए।

4. टीवी रिपोर्टर बनने के लिए कोर्स की जानकारी

नीचे हमने न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कुछ कोर्स की जानकारी दी है, जिन्हें करके आप न्यूज़ रिपोर्टिंग के क्षेत्र में अपना करियर बना सकते हैं, आइए जानते हैं कि न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए कौन से कोर्स करने चाहिए।

#1 बैचलर ऑफ़ आर्ट – जर्नलिज्म

जो अभ्यर्थी न्यूज़ रिपोर्टर बनना चाहता है, वह इस कोर्स को 12वीं कक्षा को पास करने के बाद कर सकता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बैचलर ऑफ आर्ट के कोर्स में आपको बेसिक और जर्नलिज्म के विभिन्न क्षेत्रों के बारे में जानकारी प्रदान की जाती है।

बैचलर ऑफ आर्ट के जर्नलिज्म कोर्स को करने के लिए आपके 12वी कक्षा में कम से कम 50% अंक अवश्य होनी चाहिए। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस कोर्स को करने के लिए आपको 3 साल का समय देना होता है।

#2 बैचलर ऑफ़ साइंस – एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया

एनीमेशन एंड मल्टीमीडिया का कोर्स करने के बाद आपको किसी भी न्यूज़ चैनल के प्रिंट मीडिया में आसानी से बड़े पदों पर नौकरी मिल जाएगी। यह एक टेक्निकल डिग्री कोर्स होता है।

आपको इस कोर्स के अंतर्गत मल्टीमीडिया, एनीमेशन के साथ-साथ ग्राफिक, वीडियो मेकिंग, वीडियो एडिटिंग के बारे में भी जानकारी दी जाती है।

इसको करने के लिए आपको 12वीं कक्षा को पास करना जरूरी है और आप के 12वीं कक्षा में 50% अंक भी होना जरूरी है, तभी आप इस कोर्स को कर पाएंगे।

#3 बैचलर ऑफ़ जर्नलिज्म एवं मॉस कम्युनिकेशन

बैचलर ऑफ जर्नलिज्म एंड मास कम्युनिकेशन का कोर्स पत्रकारिता और इससे जुड़े अन्य विषयों से संबंधित होता है। इस कोर्स में आपको बेसिक से लेकर एडवांस लेवल के पत्रकारिता के बारे में जानकारी दी जाती है|

और इस कोर्स को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद आप न्यूज़ चैनल,प्रिंट मीडिया, रिपोर्टर तथा एडिटर जैसे पदों पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के लिए आपको 12वीं कक्षा को कम से कम 50% अंकों के साथ पास करना जरूरी है।

5. जर्नलिज्म डिप्लोमा कोर्स की जानकारी

अगर आप न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए डिप्लोमा करना चाहते हैं, तो आप एग्जीक्यूटिव डिप्लोमा इन जर्नलिज्म का कोर्स कर सकते हैं। इस कोर्स को करने के लिए 1 साल का समय लगता है।

आप इस कोर्स को अपनी ग्रेजुएशन की डिग्री कंप्लीट करने के बाद कर सकते हैं। डिप्लोमा कोर्स करने के बाद आप बहुत कम समय में ही पत्रकारिता को अच्छे से समझ लेंगे।

इसके अलावा अगर आप अपना ग्रेजुएशन पूरा कर चुके हैं और उसके बाद मास्टर डिग्री करना चाहते हैं, तो भी इस फील्ड में आपके लिए विभिन्न कोर्स उपलब्ध है, उन कोर्सों की जानकारी हमने नीचे दी है।

  • मास्टर ऑफ आर्ट (जर्नलिज़्म)
  • मास्टर ऑफ आर्ट (मास कम्युनिकेशन)
  • पीजी डिप्लोमा इन जर्नलिज़्म एंड मास कम्युनिकेशन
  • पीजी डिप्लोमा इन ब्रॉडकास्ट जर्नलिज्म
  • एग्जीक्यूटिव डिप्लोमा इन जर्नलिज्म
  • स्पोर्ट्स जर्नलिज़्म
  • इनवेस्टिगेटिव जर्नलिज़्म
  • मल्टीमीडिया जर्नलिज़्म

6. टीवी रिपोर्टर का काम

जैसा कि इनके नाम से ही ज्ञात होता है कि एक टीवी रिपोर्टर अपने आस पास होने वाली घटनाओं की न्यूज़ बनाते हैं। इनका मुख्य काम अपने न्यूज़ चैनल या फिर अपने अखबारों के लिए न्यूज़ इकट्ठा करना होता है।

एक टीवी रिपोर्टर रोजाना आने वाले अखबारों के माध्यम से, टेलीविजन के माध्यम से तथा ई पेपर के माध्यम से विभिन्न लोगों तक अपनी जानकारी और खबरें पहुंचाता है।

एक टीवी रिपोर्टर देश और दुनिया में हो रही घटनाओं तथा लोगों के बारे में लेटेस्ट अपडेट की सूचना प्रदान करता है।

न्यूज़ रिपोर्टिंग की फील्ड सिर्फ सूचना और शिक्षा प्रदान करने तक ही सीमित नहीं है, बल्कि इसका क्षेत्र बहुत ही बड़ा है। यह लोगों के एंटरटेनमेंट करने के माध्यम के रूप में भी उभरकर सामने आ रहा है।

न्यूज़ रिपोर्टिंग किसी भी देश के डेमोक्रेसी की सुरक्षा और बचाव का सबसे बड़ा जरिया है। न्यूज़ रिपोर्टिंग के द्वारा ही नेता जनता तक अपनी बात हो पहुचाते हैं और जनता नेताओं तक अपनी बात पहुंचाती है।

पत्रकारिता के माध्यम से ही नेताओं द्वारा किए गए कार्य जनता तक पहुंचते हैं। इसके अलावा सरकार की योजनाओं को जन-जन तक पहुंचाने का काम भी न्यूज़ रिपोर्टर का ही होता है।

7. टीवी रिपोर्टिंग के विभिन्न प्रकार

अलग-अलग प्रकार की खबरों को कवर करने के लिए टीवी रिपोर्टर के सेक्शन बटे हुए होते हैं और वह अपने विभाग के लिए ही काम करते हैं।

पहले जनरल रिपोर्टिंग होती है, जिसमें आयोजन, भाषण और विभिन्न प्रकार के कार्यक्रम कवर किए जाते हैं। दूसरी खास रिपोर्टिंग होती है। इसका क्षेत्र बड़ा होता है। खास रिपोर्टिंग में बिजनेस, पॉलिटिक्स, स्पोर्ट्स, कोर्ट, एंटरटेनमेंट, फिल्म शामिल है।

#1 पॉलिटिकल रिपोर्टिंग

इस रिपोर्टिंग के अंतर्गत भारत की संसद, विधानसभा, मंत्रालय, विभिन्न नेताओं की प्रेस कॉन्फ्रेंस, पॉलिटिकल पार्टियां और उनके नेता तथा दूसरे देशों से पॉलिटिकल संबंधों की गतिविधियों पर नजर रखी जाती है।यह रिपोर्टिंग मुख्य रूप से राजनीति के इर्द-गिर्द ही घूमती है।

#2 बिजनेस रिपोर्टिंग

बिजनेस से जुड़ी खबरों को लोगों तक पहुंचाना ही बिजनेस रिपोर्टिंग कहलाती है। बिजनेस रिपोर्टिंग में अर्थव्यवस्था से संबंधित तकनीकी बातें बताई जाती हैं।

इसके अलावा सरकार ने लोगों के लिए कौन सी बिजनेस से संबंधित योजना लॉन्च की है, उसके बारे में भी जानकारी दी जाती है।अगर हम सरल भाषा में कहें तो बिजनेस और पैसों से जुड़ी खबरों को इस रिपोर्टिंग के तहत जनता तक पहुंचाया जाता है।

#3 स्पोर्ट्स रिपोर्टिंग

इस रिपोर्टिंग के अंतर्गत टीवी रिपोर्टर विभिन्न प्रकार के खेल से संबंधित जानकारियां जनता तक पहुंचाता है, जिसमें सभी खेल जैसे कि क्रिकेट, फुटबॉल, वॉलीबॉल, टेनिस, कबड्डी शामिल है।

रोजाना देश और विदेश में कई प्रकार के खेलों का आयोजन होता है, इसीलिए इस प्रकार की रिपोर्टिंग में रिपोर्टर को हमेशा एक्टिव रहने की जरूरत होती है।

#4 क्राइम रिपोर्टिंग

इस प्रकार की रिपोर्टिंग करने के लिए रिपोर्टर को अपराध से संबंधित जानकारियों को इकट्ठा करना आना चाहिए। इसके लिए उसकी पुलिस प्रशासन में अच्छी पहचान होनी चाहिए| क्योंकि यहीं से वह रोजाना अपने आसपास घटित होने वाली घटनाओं के बारे में जानकारी प्राप्त कर सकता है।

#5 एंटरटेनमेंट रिपोर्टिंग

एंटरटेनमेंट से जुड़ी हुई खबरों को कवर करने के लिए खास रिपोर्टर चैनल अथवा अखबार द्वारा नियुक्त किए जाते हैं। इसकी पत्रकारिता करने के लिए न्यूज़ रिपोर्टर को सिनेमा और टीवी से जुड़ी सभी बातों की अच्छी जानकारी होनी चाहिए।

इसके अलावा रिपोर्टर को देश-विदेश के संगीत, डांस और दूसरी सांस्कृतिक गतिविधियों की जानकारी भी होनी चाहिए।

8. टीवी रिपोर्टर की सैलरी

अगर हम टीवी रिपोर्टर की सैलरी के बारे में बात करें, तो टीवी रिपोर्टर की सैलरी उसके पद और उसके एक्सपीरियंस के ऊपर निर्भर करती है। फिर भी एक टीवी रिपोर्टर को शुरुआती के दिनों में 15 से लेकर ₹20000 की सैलरी महीने मे मिलती है।

इसके बाद जैसे-जैसे उसका पद और अनुभव बढ़ता जाता है, वैसे वैसे ही उसकी तनख्वाह में भी बढ़ोतरी होती जाती है।पत्रकारिता करने वाले लोगों की सैलरी उनके पद और उनके एक्सपीरियंस के आधार पर दी जाती है।

9. टीवी रिपोर्टर बनने के लिए इंडिया के बेस्ट कॉलेज की लिस्ट

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली
  • जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी
  • इंद्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • माखन लाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
  • गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर
  • चंडीगड़ यूनिवर्सिटी
  • गुरु घासीदास यूनिवर्सिटी, बिलासपुर छत्तीसगढ़
  • सिम्बोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, पुणे
  • व्हिसलिंग वुड्स इंटरनेशनल, मुंबई
  • छत्रपति शाहूजी महाराज यूनिवर्सिटी, कानपुर
  • लखनऊ यूनिवर्सिटी
  • इलाहाबाद यूनिवर्सिटी
  • MJP रुहेलखंड यूनिवर्सिटी, बरेली
  • एमिटी यूनिवर्सिटी
  • एपीजे यूनिवर्सिटी
  • ISOMES इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली
  • NRAI इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली
  • RK फ़िल्म एंड मीडिया एकेडमी, दिल्ली
  • जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ मास कम्युनिकेशन, दिल्ली
  • बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी
  • लेडी श्रीराम कॉलेज, नही दिल्ली
  • एशियन एकेडमी ऑफ फ़िल्म एंड टेलीविजन, नोयडा
  • मणिपाल यूनिवर्सिटी, मणिपाल
  • हैदराबाद यूनिवर्सिटी
  • मनोरमा स्कूल ऑफ कम्युनिकेशन, केरल
  • आंध्र यूनिवर्सिटी

किसी भी मीडिया कॉलेज में प्रवेश लेने से पहले आप इस बात की जानकारी अवश्य कर ले कि, आप उस कॉलेज में जिस कोर्स के लिए एडमिशन ले रहे हैं, क्या वहां पर उस कोर्स के लिए पर्याप्त सुविधा है या नहीं।

इसके अलावा जिस कॉलेज में केंपस प्लेसमेंट होता हो और जहां पर टैक्टिकल लैब की सुविधा हो, वहां पर ही एडमिशन ले क्योंकि हो सकता है, कि जब आप अपना कोर्स पूरा कर लें, तो कैंपस प्लेसमेंट के जरिए ही आपका सिलेक्शन कोई कंपनी कर ले।

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था टीवी न्यूज़ रिपोर्टर कैसे बने, हम उम्मीद करते हैं कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप सभी लोगों को पता चल गया होगा कि एक टीवी न्यूज़ रिपोर्टर बनने के लिए क्या करना पड़ता है|

यदि आपको हमारी यह पोस्ट हेल्पफुल लगी हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर करना ना भूले|

क्योंकि हम चाहते हैं कि अधिक से अधिक लोगों को टीवी न्यूज़ रिपोर्टर बनने की तैयारी कैसे करते हैं इसके बारे में पूरी जानकारी मिल पाए धन्यवाद दोस्तों|