ताजमहल पर निबंध – Taj Mahal Essay in Hindi



Taj Mahal Essay in Hindi – नमस्कार फ्रेंड्स आज का ये आर्टिकल बहुत ही ज्यादा रोचक है क्यूंकि आज हम आपके साथ ताजमहल पर निबंध शेयर कर रहे है. दोस्तों ताजमहल के बारे में हलाकि हर किसी को पता है की शाहजहाँ ने मुमताज़ की यादो में बनाया था.

लेकिन बहुत लोगो को ताजमहल के बारे में पूरी जानकारी नहीं है, और स्टूडेंट लोगो को भी एग्जाम और स्कूल में ताजमहल के ऊपर हिंदी निबंध लिखने को कहा जाता है. हमको ये तो पता है की ताज महल कहा है और किसने बनाया था लेकिन इसके बारे में पूरी डिटेल पता नहीं है.

तो आज हम इस हिंदी essay की हेल्प से ताज महल के बारे में आपको पूरी जानकारी देने वाले है. तो चलिए दोस्तों ज्यादा वक़्त जाया ना करते हुए हम आज के पोस्ट को स्टार्ट करते है.

पढ़े – महानगर की समस्या पर निबंध

ताजमहल पर निबंध

Taj Mahal Essay in Hindi

https://kaisekareinhindime.com/manoranjan-ke-adhunik-sadhan-nibandh-essay/

ताजमहल विश्व के सात नए आश्चर्य में से एक है. 7 जुलाई, 2007 को घोषित विश्व के सात नए आश्चर्य की सूची में इसे स्थान प्रदान किया गया है. यह लगभग साढ़े तीन सो वर्ष से भी अधिक पुराना इस मार्ग स्मारक है.

यह अटूट प्रेम का प्रतीक माना जाता है. यह सफेद संगमरमर से बनी एक अद्भुत कृति है. इसके अद्भुत सौंदर्य की चकाचौंध देश विदेश के लोगों को बरबस ही अपनी ओर आकर्षित कर लेती है. अथार्थ अनेकों स्त्री पुरुष, बूढ़े बच्चे प्रतिदिन इस के दर्शन को आते रहते हैं.

ताजमहल का निर्माण सन 1631 ई० में मुगल सम्राट शाहजहां मैं अपनी प्यारी बेगम मुमताज की स्मृति में कराया था. यह स्मारक तभी से उसी शान से आगरा में यमुना नदी के दाएं किनारे पर अटल खड़ा है.

जय राजपूताने से संगमरमर का बना हुआ है. इसे उस समय 20,000 वास्तुकला के कारीगरों ने 20 साल में पूरा किया था.इस स्मारक के तीन और सुंदर बाग तथा एक और यमुना की स्वच्छ व शीतल धारा बहती है.

इसका प्रवेश द्वार लाल पत्थरों से बना हुआ है. जिस श्वेत पत्थरों पर कुरान की आयतें लिखी हुई है ताज महल के अंदर सामने की ओर एक सुंदर बाग है जिसमें फुव्वारे से सजे हुए जल कुंड है और उसके दोनों ओर सुंदर सुंदर वृक्ष खड़े हैं.

पढ़े – मनोरंजन के आधुनिक साधन Essay in hindi

इसके अंदर एक छोटा सा अजायबघर है जिसमें मुग़ल बादशाहों के हथियार रखे हुए हैं. ताजमहल के गुंबद की ऊंचाई लगभग 275 फुट है. ताजमहल के ऊपर गुंबद के चारों ओर छोटे-छोटे गुंबद बने हुए हैं. इन गुंबदों तथा दीवारों पर कला के सुंदर नमूने चित्रित किए हुए हैं.

ताजमहल के बड़े गुंबद के ठीक नीचे शाहजहां और मुमताज महल की समाधियों के सुंदर नमूने बने हुए हैं और इन समाधियों के ठीक नीचे उन दोनों प्रेमियों की वास्तविक कब्रे है. इन कब्रों के आसपास सुंदर जालियां बनी है हुई है.

यहां इतना अधिक अंधकार होता है कि इन कब्रों को देखने के लिए रोशनी की आवश्यकता पड़ती है. वहां सदैव मोमबत्तियों का प्रकाश होता रहता है.धूप अगरबत्ती की सुगंध से यहां का वातावरण सदा सुगंधित बना रहता है.

शरद पूर्णिमा की रात्रि को ताजमहल की शोभा देखते ही बनती है. चांद की चांदनी मैं चमकता हुआ यह स्मारक सबको अनायास ही लुभा लेता है. यमुना के जल में इसकी आभा देखते ही बनती है इसकी इस आभा को देखने के लिए देश-विदेश से नर नारियां प्रतिवर्ष आते रहते हैं.

इस अद्वितीय स्मारक का नाम भारत में ही नहीं अपितु संपूर्ण जगत में सम्मान के साथ लिया जाता है.वास्तुकला का यह अनोखा नमूना हमारे देश का गौरव है.

आपकी और दोस्तों

दोस्तों ये था ताजमहल पर निबंध हिंदी में ( Taj Mahal Essay in Hindi ) हम उम्मीद करते है की अब आपको ताजमहल के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी और बच्चो को भी स्कूल या इम्तिहान में इस टॉपिक पर एस्से लिखने में कोई भी दिक्कत का सामना नहीं करना पड़ेगा.

अगर आपको ये लेख पसंद आया हो तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों और घर परिवार वालो के साथ फेसबुक और व्हात्सप्प पर जरुर शेयर करे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो को ताजमहल के बारे में पूरी जानकारी मिल पाए. धन्येवाद दोस्तों.