सफल प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने | प्रॉपर्टी डीलर का काम कैसे करे

सफल प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने: प्रॉपर्टी डीलर के नाम से तो आप सभी लोग अच्छी तरह परिचित ही होंगे, क्योंकि इनका काम संपत्ति बेचने वाले तथा संपत्ति खरीदने वाले के बीच दलाली करके पैसे कमाने का होता है।

आज के समय में प्रॉपर्टी डीलिंग का काम कर के बहुत से लोगों ने करोड़ों की संपत्ति कमा ली है।क्योंकि इसमें सिर्फ आपको संपत्ति बेचने वाले और संपत्ति खरीदने वाले लोगों को आपस में मिलाना होता है और इसके बाद वह लोग संपत्ति खरीदते हैं तथा बेचते हैं और आपको कमीशन के तौर पर अच्छी खासी रकम देते हैं।

कभी-कभी प्रॉपर्टी डीलर किसी संपत्ति को बिकवाने के बदले 12 से 1500000 रुपए भी कमीशन के तौर पर कमा लेते हैं।
हालांकि इनका कमीशन संपत्ति के रेट के ऊपर आधारित होता है।

अगर कोई संपत्ति 50 लाख से अधिक कीमत की है तो इनका कमीशन कम से कम 3-4 लाख रुपए होता है और अगर कोई संपत्ति 5 करोड़ से अधिक की है तो इनका कमीशन कम से कम होता 15 से 16 लाख रुपए होता है।

इस फील्ड में कमाई को देखते हुए बहुत से लोग अब प्रॉपर्टी डीलिंग के बिजनेस में अपना हाथ आजमा रहे हैं और बहुत से लोग अच्छी कमाई भी कर रहे हैं।

पहले प्रॉपर्टी डीलिंग का काम कोई भी व्यक्ति बिना किसी लाइसेंस के कर सकता था, परंतु वर्तमान के समय में रेरा यानी कि रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के अंतर्गत प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने वाले लोगों को लाइसेंस और अपना रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है।

अगर कोई व्यक्ति बिना लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन के यह काम करता है और वह पकड़ा जाता है, तो उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई हो सकती है। इसीलिए अब प्रॉपर्टी डीलिंग के काम को करने के लिए लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन की आवश्यकता पड़ती है।

परंतु इन सब के बावजूद अभी भी गांव और देहात तथा छोटे छोटे नगरों और शहरों में बहुत सारे ऐसे लोग हैं, जो बिना किसी लाइसेंस और रजिस्ट्रेशन के ही प्रॉपर्टी डीलिंग का काम कर रहे हैं परंतु अब ऐसे लोगों का बिजनेस कानूनी रूप से वैलिड नहीं है, इसलिए इन लोगों पर हमेशा कार्यवाही की तलवार लटकती रहती है।

खैर अगर आप वैलिड तरीके से प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करना चाहते हैं, तो आप आज बिल्कुल सही जगह पर आए हैं, क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको प्रॉपर्टी डीलिंग बिजनेस के बारे में संपूर्ण जानकारी देने वाले हैं।

आज के इस आर्टिकल में हम आपको बताएंगे कि प्रॉपर्टी डीलिंग क्या है, प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस कैसे करें,प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करने के लिए आपके अंदर कौन-कौन सी योग्यताएं होनी चाहिए, तो चलिए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर और जानते हैं कि प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस कैसे करा जाता है।

सफल प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने

प्रॉपर्टी डीलर का काम कैसे करे

property dealer kaise bane

1. प्रॉपर्टी डीलर कौन होता है

सबसे पहले तो आपको बता देते हैं कि, प्रॉपर्टी डीलर कौन होता है। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रॉपर्टी डीलर को रियल एस्टेट एजेंट भी कहा जाता है और जैसा कि हम आपको बता चुके हैं कि, प्रॉपर्टी डीलर का काम प्रॉपर्टी बेचने वाले तथा प्रॉपर्टी खरीदने वाले लोगों को आपस में मिलाना होता है|

और फिर वह लोग अगर कोई प्रॉपर्टी खरीदते हैं या बेचते हैं, तो प्रॉपर्टी डीलर को दोनों पार्टियों की तरफ से कमीशन प्राप्त होती है।यह कमीशन कभी-कभी हजारों की होती है तो कभी-कभी लाखों की होती है तथा अगर कोई बड़ी प्रॉपर्टी बिकी है, तो यह कमीशन करोड़ों की भी हो सकती है।

कभी-कभी ऐसा भी होता है कि जब किसी प्रॉपर्टी डीलर को कोई अच्छी और सस्ती संपत्ति मिलती है, तो वह खुद ही उस संपत्ति को खरीद लेते हैं और बाद में किसी अन्य व्यक्ति को उस संपत्ति को ऊंचे दामों में बेच देते हैं।

वैसे अगर देखा जाए तो प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस बहुत ही कम पैसे में शुरू हो जाता है, क्योंकि इसके लिए आपको किसी ऑफिस को रखने की आवश्यकता नहीं होती है।

हालांकि आप चाहे तो ऑफिस रख सकते हैं, परंतु बिना ऑफिस के भी आपका काम चल सकता है। आप चाहे तो अपना काम फोन से भी कर सकते है।

यह बात तो आप जानते ही हैं कि प्लॉट और मकान या फिर कोई जमीन काफी कीमती होती है, इसीलिए अगर प्रॉपर्टी डीलर को 1 महीने में सिर्फ एक ही संपत्ति बिकवाने का मौका मिले तब भी वह लाख रुपए से अधिक की कमाई कर लेता है।इस तरह प्रॉपर्टी डीलर को यह चिंता बिल्कुल भी नहीं रहती कि आज कोई संपत्ति बिकी या नहीं।

क्योंकि वह यह जानता है कि 1 महीने के अंदर कोई ना कोई संपत्ति उसके माध्यम से जरूर बिकेगी और उसकी पूरे महीने की कमाई 1 दिन में हो जाएगी।

इसके अलावा कभी-कभी ऐसा भी होता है कि, प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने वाले व्यक्ति को कोई ऐसी डील मिल जाती है जिससे कमीशन के तौर पर उसकी पूरे 1 साल की कमाई एक ही दिन में हो जाती है।

कुल मिलाकर यह बिजनेस संभावनाओं का बिजनेस है। इसमें कमाई की कोई लिमिट नहीं है।इसमें आप जितनी ज्यादा जमीन बिकवाएंगे, आपकी कमाई भी उतनी ज्यादा ही होगी।

2. प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए स्टेप

हमारे भारत देश में प्रॉपर्टी डीलर बनना बहुत ही आसान है।पहले प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए व्यक्ति को किसी भी प्रकार का रजिस्ट्रेशन अथवा लाइसेंस की आवश्यकता नहीं पड़ती थी|

परंतु वर्तमान के समय में रेरा संस्था के अंतर्गत प्रॉपर्टी डीलिंग का धंधा करने के लिए व्यक्ति को अपना रजिस्ट्रेशन करवाना जरूरी है और प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करने के लिए व्यक्ति के पास लाइसेंस होना भी जरूरी है। आइए जानते हैं कि रजिस्टर्ड प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने।

1: अपने आप को जाने

वैसे तो प्रॉपर्टी डीलर कोई भी बन सकता है परंतु लाइसेंस के लिए या अपने आपको रजिस्टर्ड रियल एस्टेट एजेंट के तहत स्थापित करने के लिए आपको अपने अंदर झांकने की आवश्यकता होती है।

इस बिजनेस को करने से पहले आप इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि यह बिजनेस विश्वास पर टिका हुआ है। यह एक ऐसा बिजनेस है, जिसमें व्यक्ति अपने घर वालों का भी भरोसा नहीं करता।

इसीलिए इस बिजनेस में सफलता प्राप्त करने के लिए आपको अपने आप को विश्वासु बनाना जरूरी है। कहने का मतलब है कि आप संपत्ति बेचने वाले तथा संपत्ति खरीदने वाले दोनों लोगों को अपने ऊपर विश्वास दिलाएं और उन्हें अच्छी से अच्छी डील दिलाने का प्रयास करें।

प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करने वाले व्यक्ति को बातचीत की कला में माहिर होना चाहिए, क्योंकि बातचीत के द्वारा ही आप किसी भी व्यक्ति को अपने ऊपर विश्वास दिला सकते हैं|

और जब सामने वाले व्यक्ति को आपके ऊपर विश्वास होगा, तभी वह आपके साथ अपनी संपत्ति को बेचने के लिए काम करेगा और इसके साथ ही संपत्ति खरीदने वाला भी आपके ऊपर भरोसा करके ही संपत्ति खरीदेगा।

इसीलिए इस बिजनेस में झूठ का सहारा बिल्कुल भी ना ले। संपत्ति बेचने वाले तथा संपत्ति खरीदने वाले दोनों लोगों को आप ऐसी किसी भी संपत्ति के बारे में ना बताएं जो किसी कानूनी विवाद में फंसी हो और जिसे खरीदने के बाद आपके ग्राहकों को पछताना पड़े।

2: रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के तहत रजिस्ट्रेशन

यहां पर हम आपको यह अवश्य बता दें कि हर राज्य की अपनी अलग अलग रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी होती है। इसीलिए जो व्यक्ति प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करना चाहता है, उसे उस राज्य में स्थित रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के नियमों का पालन करना जरूरी है।

हालांकि प्रॉपर्टी डीलर बनने का इच्छुक आदमी रियल एस्टेट एजेंट के तौर पर अपना रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए वह जिस राज्य में रहता है, उस राज्य की रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकता है।

जब व्यक्ति का रजिस्ट्रेशन रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के अंतर्गत हो जाता है तो व्यक्ति एक रजिस्टर्ड रियल एस्टेट एजेंट यानि की प्रॉपर्टी डीलर बन जाता है।

3. प्रॉपर्टी डीलिंग के लिए अपना रजिस्ट्रेशन कैसे करे

कुछ सालों पहले भारत में प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए किसी भी प्रकार की कोई भी लाइसेंस की आवश्यकता नहीं थी, परंतु इस क्षेत्र में बढ़ते हुए धोखाधड़ी को देखते हुए भारत सरकार ने प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के पास रजिस्टर करवाने की चालू कर दी।

अब जो भी व्यक्ति प्रॉपर्टी डीलिंग का बिजनेस करना चाहता है, उसे इस बिजनेस को चालू करने से पहले अपना रजिस्ट्रेशन
रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी में करवाना जरूरी होता है। आप रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी में अपना रजिस्ट्रेशन कैसे करवा सकते हैं, इसकी जानकारी हम आपको नीचे स्टेप बाय स्टेप दे रहे हैं।

अगर आप ऑफलाइन अपना रजिस्ट्रेशन करवाना चाहते हैं तो इसके लिए आप रियल स्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी के ऑफिस में जाकर एक आवेदन पत्र मांग सकते हैं और उसमें मांगी गई सभी जानकारी को सही-सही भर कर वहीं पर उस आवेदन पत्र को जमा कर सकते हैं। इसके अलावा आप ऑनलाइन भी एप्लीकेशन भर सकते हैं।

ऑनलाइन अपना रजिस्ट्रेशन करवाने के लिए सबसे पहले आप रियल एस्टेट रेगुलेटरी अथॉरिटी की ऑफिशियल वेबसाइट पर जाएं, वहां पर आपको प्रॉपर्टी डीलर का ऑप्शन दिखाई देगा, उस पर क्लिक करें।

उस पर क्लिक करने के बाद आपके सामने एक आवेदन पत्र खुल जाएगा। इसमें मांगी गई सभी जानकारी को आपको बिल्कुल सही सही भरना है।जब आप इस एप्लीकेशन फॉर्म को भर ले तो, उसके बाद आपको इसकी फीस ऑनलाइन जमा करनी पड़ेगी।

आमतौर पर इसकी फीस ₹25000 के आसपास होती है, परंतु सरकार ने अब इसको ₹2000 कर दिया है।फीस भरने के बाद आपको एक ट्रांजैक्शन आईडी पासवर्ड अपनी स्क्रीन पर दिखाई देगा।

अगर आपने अपनी सभी जानकारी सही से दी होगी तो आपका आवेदन जल्दी ही अप्रूव हो जाएगा और आपको एक रजिस्ट्रेशन नंबर प्राप्त होगा। इसके कुछ दिनों के बाद आपको लाइसेंस प्राप्त हो जाएगा और फिर आप अपना प्रॉपर्टी डीलिंग का काम बेहिचक कर सकते हैं।

4. प्रॉपर्टी डीलर का काम क्या होता है

अगर हम प्रॉपर्टी डीलर के काम के बारे में बात करें तो हम आपके साथ उनके काम की लिस्ट शेयर कर रहे है|

  • काम मालिक से डील करना
  • ग्राहक का पता लगाना
  • जमीन बेचने के बाद रजिस्ट्री ऑफिस में जाकर रजिस्ट्री करवाना
  • दुकान बेचने के बाद उससे संबंधित कागजात तैयार करवाना
  • प्रॉपर्टी दिखाना, प्रॉपर्टी का रखरखाव
  • जैसे कि रंग करवाना
  • प्रॉपर्टी खोजना
  • मरमत करवाना या किसी जमीन पर नई बिल्डिंग बनवाना और डील फाइनल होने के बाद एग्रीमेंट बनवाना
  • मकान किराए पर देते हुए, लेते समय पर चेक करना
  • मकान किराए से छूटने के बाद उसकी हालत चेक करना
  • बिजली बिल जमा करना
  • हाउस टैक्स जमा करवाना आदि सभी काम प्रॉपर्टी डीलर करता है।

परंतु यह आवश्यक नहीं है कि प्रॉपर्टी डीलर इन सभी कामों को पूरा करें, क्योंकि यह प्रॉपर्टी डीलर के ऊपर निर्भर करता है कि वह कौन से काम को करें और कौन से काम को ना करें।प्रॉपर्टी डीलिंग एक ऐसा बिजनेस है जिसमें आप बिना इन्वेस्टमेंट किए भी अच्छे पैसे कमा सकते हैं।

5. प्रॉपर्टी डीलर का काम कैसे करे

अगर आप सफल प्रॉपर्टी डीलर बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको अपनी पढ़ाई के साथ-साथ अपने तजुर्बे के ऊपर भी विशेष ध्यान देना चाहिए|

क्योंकि चाहे आप अच्छे खासे पढ़े-लिखे हो, चाहे कम पढ़े लिखे हो परंतु अगर आपको इस क्षेत्र से संबंधित अच्छी जानकारी है, तो आप यह काम आसानी से कर सकते हैं।

प्रॉपर्टी डीलिंग का काम करने के लिए आप इस क्षेत्र में डायरेक्ट ना आए, बल्कि आप किसी ऐसे व्यक्ति के साथ जुड़े, जो पहले से ही इस क्षेत्र में काम कर रहा है और उसके साथ लगभग 6 महीने से लेकर 1 साल तक रहकर इस क्षेत्र की बारीकियों के बारे में जानकारी प्राप्त करें|

और वह व्यक्ति कैसे काम करता है, इसके बारे में भी जानकारी प्राप्त करने का प्रयास करें तथा उस व्यक्ति इस क्षेत्र के बारे में छोटी-छोटी बातों को जानने का प्रयास करें।

प्रॉपर्टी डीलिंग की फील्ड में आने के लिए आपकी कम्युनिकेशन स्किल बहुत ही अच्छी होनी चाहिए, क्योंकि अगर आपकी बातचीत करने की कला अच्छी होगी तो आप बहुत जल्दी ही अपने ग्राहकों को अपने ऊपर विश्वास दिला पाएंगे।

प्रॉपर्टी डीलिंग में सफल होने के लिए आपके पास अधिक से अधिक प्रॉपर्टी की जानकारी होनी चाहिए और प्रॉपर्टी की जानकारी प्राप्त करने के लिए आप रोजाना आने वाले अखबारों को पढ़ सकते हैं।

क्योंकि अखबारों में हर रोज कोई न कोई व्यक्ति अपनी संपत्ति बेचने के लिए विज्ञापन देता है। ऐसे में आप उस विज्ञापन में दिए गए नंबर पर संपर्क करके उनसे प्रॉपर्टी के बारे में बातचीत करते कर सकते हैं।

इसके अलावा आप व्हाट्सएप पर कुछ ऐसे ग्रुप में भी शामिल हो सकते हैं जो प्रॉपर्टी डीलिंग से संबंधित हो।उन ग्रुपों से भी आपको प्रॉपर्टी के बारे में जानकारी मिलती रहेगी।

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था एक सफल प्रॉपर्टी डीलर कैसे बने| हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सभी को पता चल गया होगा कि एक प्रॉपर्टी डीलर बनने के लिए क्या करना पड़ता है|

अगर आपको हमारा यह आर्टिकल अच्छा लगा हो तो इसे अपने मित्रों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर अवश्य शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को यह पता चल पाएगी प्रॉपर्टी डीलर का काम कैसे करते हैं धन्यवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.