प्रदूषण की समस्या पर निबंध – Pollution Essay in Hindi



Pollution Essay in Hindi – नमस्कार दोस्तों आप सब कैसे हो आज हम आपके साथ प्रदूषण की समस्या पर निबंध शेयर कर रहे हैं. क्योंकि इम्तिहान में इस टॉपिक पर निबंध लिखने को बहुत बार बच्चों से कहा जाता है लेकिन बच्चे लोग प्रदूषण की समस्या पर निबंध लिखने में असमर्थ रहते हैं.

इसलिए हमने यह निर्णय लिया कि आज के इस आर्टिकल में हम आपके साथ प्रदूषण की समस्या पर हिंदी में निबंध शेयर करने जा रहे हैं जिसको आप अपने एजुकेशन पर्पस के लिए इस्तेमाल कर सकते हैं. चलिए दोस्तों ज्यादा समय ना लेते हुए हम आज के इस आर्टिकल की शुरूआत करते हैं.

पढ़े – वर्षा ऋतु पर निबंध

प्रदूषण की समस्या पर निबंध

Pollution Essay in Hindi

प्रदूषण नए युग में महा त्रासदी का रूप धारण कर चुका है. वायु जल भोजन तथा ध्वनि प्रदूषण विषय के नगरों और बड़े कस्बों में अपने विकराल शक्तियों व सीमाओं का प्रदर्शन कर रहा है हमारे वन्य जीव जंतु और जीवाणु संसार के छोटे-छोटे नागरिक भी इस त्रासदी के शिकार बनते जा रहे हैं.

वायु में प्रदूषण कारखाना वाहनों और घरों के चूल्हे से फैलता है. यह प्रदूषण मानव जीवन के लिए एक बड़ा खतरा बन चुका है इसके कारण नगरो में रहने वाले लोग फेफड़ों के कैंसर दमा आंखों के रोगों और चर्म रोगों के शिकार बनते जा रहे हैं.

पूरे भारत की नदियां और नाले कारखानों व मानव के द्वारा गंदे नालों के तौर पर प्रयोग में लाए जाते हैं. गंगा एक दूषित जल धारा बन गई है और अन्य मुख्य नदियों का भी यही हाल है. दूषित जल पीने और नहाने के काम आता है और फलसवरूप रोग है.

हैजा वायरल बुखार आंतों की बीमारी अमीबा जैसे भयंकर रोग मानव को जकड़ लेते हैं. विषाक्त भोजन को दूषित भी करता है इसके अलावा भोजन हवा खादों व रसायनों की वजह से भी दूषित हो रहा है.

पढ़े – जीवन में खेलों का महत्व पर निबंध

ध्वनि प्रदूषण का सबसे अधिक प्रकोप शहरो व मुख्य राजमार्गों पर नजर आता है अधिक शोर की वजह से हजारों व्यक्ति अपने सुनने की ताकत हो बैठे हैं या कम सुनने लगे है. तेज आवाज की वजह से दिमागी बीमारियां और उच्च रक्तचाप हो सकते हैं.

व्यक्ति अपना संतुलन भी हो सकता है. प्रदूषण को रोकने के कई उपाय किए गए हैं. दिल्ली में जब से प्रदूषण विरोधी अभियान जैसे cng बसों के चलने, प्रदूषणकारी है फक्ट्रियो को दिल्ली से बाहर ले जाने तथा मेट्रो रेल सेवा के शुरू हो जाने के बाद प्रदूषण नियंत्रण में महत्वपूर्ण सफलता प्राप्त हुई है.

8 वर्षों से पुराने व्यापारिक वाहनों के चलाने पर रोक लगा दी गई है. बाइक और मोटर कारों तथा ट्रक के प्रदूषण स्तर की नियमित जांच हो रही है. वातावरण को स्वच्छ रखने के लिए वृक्षारोपण अभियान समय-समय पर आयोजित होते हैं.

यह प्रयास सराहनीय है. विद्युत चालित वाहनों और सूर्य की ऊर्जा पर अधिक निर्भर करना होगा. यह प्रवृत्ति विश्व भर के लोगों द्वारा अपनाए जाने चाहिए. सरकारी संयुक्त राष्ट्र संघ और गैर सरकारी संस्थान इस विषय में काफी कार्य कर रहे हैं.

नहीं तो हमारा उपग्रह मानव जाति वनस्पतियों एवं जीवो को सहारा नहीं दे पाएगा.

पढ़े – नारी शिक्षा का महत्व एस्से

आपकी और दोस्तों

दोस्तों यह प्रदूषण की समस्या पर निबंध ( Pollution Essay in Hindi )  हम उम्मीद करते हैं कि आज का यह हिंदी essay पढ़ने के बाद आप लोगों को अब इस टॉपिक पर निबंध लिखने में कोई भी प्रॉब्लम नहीं होगी. यदि आप लोगों को हमारा यह निबंध पसंद आया हो तो कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ हो जिससे विद्यार्थियों के साथ Facebook WhatsApp और Google plus पर जरूर शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को और विद्यार्थियों को इस विषय पर निबंध लिखने में कोई भी प्रॉब्लम ना हो धन्यवाद