21 माउंट एवरेस्ट पर्वत के बारे में रोचक तथ्य | Facts about Mount Everest In Hindi



माउंट एवरेस्ट पर्वत के बारे में रोचक तथ्य

Interesting Facts about Mount Everest In Hindi

  1. 5,000 से अधिक पर्वतारोही सफलतापूर्वक माउंट एवरेस्ट की चोटी पर पहुंच गए, जिसमें 13 वर्षीय, एक अंधे व्यक्ति और 73 वर्षीय महिला थी
  2. माउंट एवरेस्ट पर 200 मृत शरीर, जो अब शीर्ष पर पहुंचने के रास्ते को दिखने में हेल्प करती है
  3. 2013 में, युइचिरो मिउरा, एक 80 वर्षीय जापानी, ये सबसे बूढ़ा इंसांन बना जो माउंट एवरेस्ट पे चढ़ा और निचे आया
  4. एवरेस्ट पर्वत पर इंसानो के लाशे तो है लेकिन इस्सके बावजूद ५० टन गन्दगी है जो की इससे वर्ल्ड का सबसे गन्दा पर्वत बनता है
  5. ऐतिहासिक रूप से, हर 100 पर्वतारोहियों जो माउंट एवरेस्ट के शिखर पर पहुंचे उनमेसे , 4 की मृत्यु हो गई है
  6. माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने के लिए 65,000 अमेरिकी डॉलर का खर्चा होता है
  7. एवरेस्ट पर्वत के टॉप में पानी का उबलने का टेम्प्रेचर ७१ डिग्री सेल्सियस है
  8. एक आदमी स्वीडन से अपनी साइकिल से एवरेस्ट पर्वत पर चढ़ने की कोशिश की लेकिन वो ३०० कम सिखर से पीछे हो गया
  9. माउंट एवरेस्ट प्रत्येक वर्ष 0.1576 इंच (4 मिमी) बढ़ता है
  10. माउंट एवरेस्ट के रास्ते पर उच्च गति वाला इंटरनेट है
  11. नेपाल में 2015 भूकंप के कारण माउंट एवरेस्ट एक इंच (2.5 सेमी) सिकुड़ गया था
  12. माउंट एवरेस्ट को ईव रेस्ट कहा जाता है और न की एवर रेस्ट क्यूंकि ये क्यूंकि इसका नाम जॉर्ज एवरेस्ट के बाद रखा था
  13. २००५ में एक नेपाली जोड़े ने एवरेस्ट सिखर पर शादी की थी
  14. पीटर हिलेरी, सर एडमंड हिलेरी के बेटा, 1990 में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ गए और ये पहले पिता और बेटे ऐसा करने के लिए बने
  15. एक भारतीय महिला जो चलती ट्रेन से फेंकने के बाद अपना पैर खो चुकी थी, वो 2013 में माउंट एवरेस्ट पर चढ़ने वाली पहली महिला बन गई
  16. सिर्फ 8 घंटे और 10 मिनट में बेस कैंप से एवरेस्ट पर्वत के शिकार पर पहुँचने के फास्टेस्ट टाइम बन गया
  17. माउंट एवरेस्ट का शिखर तापमान गर्मियों में -20 डिग्री सेल्सियस (-4 डिग्री फ़ारेनहाइट) और -35 डिग्री सेल्सियस (-31 डिग्री फेरनहाइट) के बीच उतार-चढ़ाव होता रहता है
  18. 1974 के बाद पहली बार, 2015 में माउंट एवरेस्ट की ऊंचाई पर कोई भी नहीं चढ़ा
  19. पृथ्वी पर चार उच्चतम पर्वत, एवरेस्ट, के 2, कंचनजंगा और लात्से, पहले १९५३, ५४, ५५, और ५६ में स्केल किए गए थे
  20. नीचे से ऊपर तक, माउंट एवरेस्ट दुनिया का सबसे बड़ा पर्वत नहीं है हवाई में मौना केए 1 किमी (3280 फुट) लंबा है
  21. नेपाल में, माउंट एवरेस्ट को चोमोलांगुमा के नाम से जाना जाता है, जिसका अर्थ है “पहाड़ों की देवी माँ
21 माउंट एवरेस्ट पर्वत के बारे में रोचक तथ्य | Facts about Mount Everest In Hindi
कृपया पोस्ट को रेट और शेयर करे

Leave a Reply

आपका ईमेल पता प्रकाशित नहीं किया जाएगा. आवश्यक फ़ील्ड चिह्नित हैं *