मीडिया में करियर कैसे बनाये | मीडिया में करियर बनाने के लिए क्या करे

मीडिया में करियर कैसे बनाये: वर्तमान में कोई भी कोर्स कैरियर की हंड्रेड परसेंट गारंटी नहीं दे सकता है, लेकिन फिर भी हमारे भारत देश में कुछ ऐसे कोर्स उपलब्ध हैं, जिन्हें सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद अभ्यर्थी को नौकरी के लिए ज्यादा भटकना नहीं पड़ता या फिर कोर्स करने के बाद उन्हें तुरंत नौकरी मिल जाती है। इसके अलावा कुछ ऐसे कोर्स भी है, जिन्हें पूरा करने के बाद सीधा कैंपस प्लेसमेंट के जरिए ही अभ्यर्थी को नौकरी प्राप्त हो जाती है।

उन्हीं में से एक कोर्स है, मास मीडिया का। आज के समय में अधिकतर लोग आईएएस आईपीएस की तरह ही मास मीडिया में भी अपना कैरियर बनाने में इंटरेस्ट है और वह जर्नलिस्ट बनने की इच्छा रखते हैं|

परंतु सभी का सपना साकार नहीं होता है, क्योंकि उन्हें इसके बारे में पूरी जानकारी नहीं होती है। मीडिया चमक से भरी हुई और ग्लैमरस इंडस्ट्री है। इसकी चमक धमक देखकर अब अधिकतर विद्यार्थी मास कम्युनिकेशन और जर्नलिज्म का कोर्स करने में अपना इंटरेस्ट दिखा रहे हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि मीडिया में नौकरी की अपार संभावनाएं है। मीडिया से संबंधित कोर्स करने के बाद यह जरूरी नहीं है कि आप किसी न्यूज़ चैनल अथवा न्यूज़पेपर में ही नौकरी के लिए आवेदन करें|

आप चाहें तो मीडिया से संबंधित कोर्स करने के बाद विज्ञापन एजेंसी, फिल्म लाइन या फिर पब्लिक हाउस में भी नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं।

अगर आप मीडिया की फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आज के हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें कयोंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको मीडिया में कैरियर कैसे बनाएं, इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं, तो आइए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर और जानते हैं कि मीडिया में कैरियर कैसे बनाते हैं।

मीडिया में करियर कैसे बनाये

मीडिया में करियर बनाने के लिए क्या करे

media me career kaise banaye

1. मीडिया में कैरियर बनाने के लिए व्यक्तिगत योग्यता

अगर आप मीडिया में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं तो इसके लिए आपके पास कुछ व्यक्तिगत योग्यता होनी चाहिए। मीडिया में कैरियर बनाने के लिए आपकी कम्युनिकेशन स्किल यानी की बातचीत करने की कला अच्छी होनी चाहिए।

इसके अलावा आपको न्यूज़ रिपोर्टिंग कैसे करते हैं, इसकी भी जानकारी होनी चाहिए, साथ ही आपको अपने आसपास घटित होने वाली घटनाओं के बारे में हमेशा अपडेट रहना चाहिए।

इसके अलावा आपको हिंदी और अंग्रेजी भाषा का अच्छा ज्ञान होना चाहिए।आपको हिंदी और अंग्रेजी भाषा लिखने, पढ़ने और बोलने आनी चाहिए।इसके साथ ही आपको कंप्यूटर का ज्ञान भी होना चाहिए।

आपको इंटरनेट की अच्छी जानकारी होनी चाहिए और डिजिटल मार्केटिंग तथा सोशल मीडिया का इस्तेमाल कैसे करते हैं, इसके बारे में भी पता होना चाहिए।

मीडिया की फील्ड में अपना कैरियर बनाने के लिए सबसे ज्यादा जरूरी होती है आपकी मानसिक मजबूती, क्योंकि इस फील्ड में आपको हर दिन नई चुनौतियों का सामना करना पड़ता है|

इसीलिए आपको मानसिक रूप से मजबूत होना अति आवश्यक है,इस फील्ड में आने के लिए।मीडिया की फील्ड में आने के लिए आपके विचारों में निष्पक्षता होनी चाहिए।आपको किसी भी व्यक्ति विशेष का पक्ष नहीं लेना चाहिए। इसके अलावा आप जो भी कहें उसका आपके पास सबूत होना चाहिए।

2. मीडिया में कैरियर बनाने की प्रक्रिया

वर्तमान के समय में मीडिया को ग्लैमरस और अधिक कमाई वाले इंडस्ट्री के रूप में जाना जाता है।इसीलिए इसकी चमक दमक को देखकर बहुत से विद्यार्थी इस फील्ड में अपना कैरियर बनाने की इच्छा रखते हैं।

अगर आप मीडिया में कैरियर बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए जरूरी है कि आप इसकी चमक-दमक से प्रभावित होकर इस क्षेत्र में ना आए, बल्कि अगर आपके अंदर इस फील्ड में कैरियर बनाने की इच्छा है और आपके पास इससे संबंधित अच्छी योग्यताएं हैं, तभी आप इस फील्ड में अपना कदम आगे बढ़ाएं।

3. मीडिया में कैरियर बनाने के लिए क्या करें

अगर आप मीडिया में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो इसके लिए आप मास कम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म मे डिप्लोमा कोर्स, पीजी डिप्लोमा कोर्स, बैचलर एंड मास्टर डिग्री कोर्स कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि डिप्लोमा और पीजी डिप्लोमा कोर्स की समय अवधि 2 साल की होती है, अर्थात इस कोर्स को करने के लिए आपको 2 साल का समय लगेगा। इसके अलावा इस कोर्स में किसी भी स्ट्रीम के विद्यार्थी एडमिशन ले सकते हैं।

इसके अलावा मास कम्युनिकेशन में बैचलर डिग्री का कोर्स करने के लिए आपको 3 साल का समय देना होगा, क्योंकि इस कोर्स की समय अवधि 3 साल की होती है, साथ ही अगर आप इस कोर्स को करना चाहते हैं,|

तो इस कोर्स में एडमिशन लेने के लिए आपको किसी भी संकाय से 12वीं कक्षा का पास होना जरूरी है। इसके अलावा पीजी डिप्लोमा और मास्टर डिग्री कोर्स की समय अवधि 2 साल की होती है।

जब भी आप मास कम्युनिकेशन से संबंधित किसी भी कॉलेज में एडमिशन लेने जाएं, तो उससे पहले इस बात का ध्यान अवश्य रखें कि आप जिस भी कॉलेज या इंस्टीट्यूट में ऐडमिशन लेने जा रहे हैं, उनका केंपस प्लेसमेंट कैसा है, क्या उनके यहां केंपस प्लेसमेंट होती भी है या नहीं।

एक अच्छे कॉलेज की यही पहचान है, कि उनके यहां केंपस प्लेसमेंट होती हो। कैंपस प्लेसमेंट होने से आपको यह फायदा रहेगा, कि जब आप अपना कोर्स पूरा कर लेंगे, तब हो सकता है कोई कंपनी कैंपस प्लेसमेंट के जरिए आपको पसंद कर ले और आपको नौकरी के लिए सिलेक्ट कर ले।

मास कम्युनिकेशन और मीडिया में विद्यार्थियों के बढ़ते हुए इंटरेस्ट को देखते हुए आजकल कई फर्जी कॉलेज भी अस्तित्व में आ गए हैं, जो अपने यहां एडमिशन लेने के लिए विद्यार्थियों को तरह-तरह के लुभावने और झूठे वादे देते हैं, जिसमें बहुत से विद्यार्थी फस भी जाते हैं।

जिसके कारण उनका समय और पैसा बर्बाद होता है, इसीलिए किसी भी कोर्स के लिए कॉलेज का चुनाव करते समय विशेष सावधानी बरतें तथा आप जिस कॉलेज में एडमिशन ले रहे हैं उस कॉलेज के बारे में सारी जानकारी अवश्य पता कर ले।

जैसे कि कॉलेज का निर्माण कब हुआ, कॉलेज के टीचर कौन है,कोलेज सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है या नहीं, कॉलेज द्वारा कोर्स पूरा करने के बाद दिया जाने वाला सर्टिफिकेट अंतरराष्ट्रीय और राष्ट्रीय स्तर पर वैलिड है या नहीं।

मास कम्युनिकेशन के तहत आने वाले कोर्स को करने के लिए, जब आपस किसी कॉलेज अथवा इंस्टीट्यूट में ऐडमिशन लेने जाते हैं, तो कई बार आपको एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम भी देनी पड़ सकती है|

क्योंकि कुछ कॉलेज में एडमिशन लेने के लिए एंट्रेंस एग्जाम देनी जरूरी होती है। इसके अलावा कुछ संस्थानों में बारहवीं कक्षा या ग्रेजुएशन में प्राप्त अंकों की मेरिट के आधार पर भी एडमिशन मिल जाता है।

अगर आप मास मीडिया और कम्युनिकेशन से संबंधित किसी भी कोर्स कोकरते हैं, तो उस कोर्स को करने की फीस सालाना तौर पर लगभग 30000 से 40000 के बीच होती है, यह सरकारी कॉलेज की फीस है।

इसके अलावा अगर आप प्राइवेट कॉलेज से कोई कोर्स करते हैं, तो उसकी फीस सालाना तौर पर 70000 से लेकर 100000 तक हो सकती है।

4. मीडिया में कैरियर स्कोप

हमारे देश में रोजाना नए नए न्यूज़ चैनल खुलते जा रहे हैं, इसीलिए जिन अभ्यर्थियों ने मीडिया से संबंधित कोर्स किया है, उसे नौकरी के लिए यहां-वहां भटकना नहीं पड़ता।

अभ्यर्थी चाहे तो मास कम्युनिकेशन का कोर्स करने के बाद न्यूज़ चैनल में एंकर, रिपोर्टर, वीडियो एडिटर, कैमरामैन या फिर कंटेंट राइटर के तौर पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

इसके अलावा हमारे भारत देश में रोजाना हजारों न्यूज पेपर प्रकाशित होते हैं, जिसमें भी मास कम्युनिकेशन का कोर्स किए हुए लोगों की डिमांड अधिक रहती है।

मास कम्युनिकेशन का कोर्स किए हुए अभ्यर्थी वेब पोर्टल यानी कि ऑनलाइन जर्नलिज्म या ऑनलाइन मीडिया में भी अपना अच्छा कैरियर स्थापित कर सकते हैं।

इसके अलावा एडवरटाइजिंग इंडस्ट्री, फिल्म इंडस्ट्री, रेडियो, पब्लिक इंडस्ट्री मे भी अभ्यर्थियों के लिए नौकरी के कई विकल्प मौजूद है।

5. मीडिया में कैरियर विकल्प

मीडिया में कैरियर बनाने के लिए आपके पास विभिन्न पदो के विकल्प मौजूद है, जिसमें आप अपनी योग्यता के अनुसार चयन पा सकते हैं। नीचे हमने कुछ पदों के नाम दिए हैं।

  • News Reporter
  • न्यूज़ एंकर
  • वीडियो एडिटर
  • कैमरामैन
  • कंटेंट राइटर
  • वॉइस ओवर आर्टिस्ट
  • न्यूज़ एडिटर
  • रेडियो जॉकी
  • स्क्रिप्ट राइटर
  • फोटोग्राफर
  • फ़िल्म एंड टीवी डायरेक्टर
  • सिनेमेटोग्राफर
  • आर्ट डायरेक्टर

6. मीडिया में जाने के लिए कोर्सेज की लिस्ट

नीचे हमने मीडिया में कैरियर बनाने के लिए किए जाने वाले सभी कोर्सो के नाम दिए हैं जिन्हें आप कर सकते हैं और मीडिया में अपना कैरियर बना सकते हैं।

  • डिप्लोमा इन Mass Communication
  • डिप्लोमा इन प्रिंट एंड इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
  • डिप्लोमा इन जर्नलिज़म
  • डिप्लोमा इन ऑनलाइन मीडिया
  • पीजी डिप्लोमा इन जर्नलिज़म एंड मास कॉम्युनिकेशन
  • पीजी डिप्लोमा इन प्रिंट मीडिया
  • पीजी डिप्लोमा इन न्यूज़ एंकरिंग
  • पीजी डिप्लोमा इन इलेक्ट्रॉनिक मेडिया
  • बैचलर इन जर्नलिज़म एंड मास कॉम्युनिकेशन
  • बीए इन जर्नलिज्म एंड मास कॉम्युनिकेशन
  • बैचलर इन मास कॉम्युनिकेशन
  • एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज़म
  • बैचलर इन ब्राडकास्टिंग मीडिया
  • बैचलर ऑफ मास मीडिया
  • बैचलर इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • बीएससी इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • बीएससी इन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया
  • मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन एंड जर्नलिज्म
  • एमए इन जर्नलिज़म एंड मास कॉम्युनिकेशन
  • मास्टर इन मास कॉम्युनिकेशन एडवरटाइजिंग एंड जर्नलिज्म
  • एमएससी इन इलेक्ट्रॉनिक मीडिया

7. मीडिया में नौकरी कैसे पाएं

मीडिया कोर्स के दरमियान जब गर्मियों की छुट्टी होती है, तब आप किसी भी न्यूज़ चैनल या फिर अखबार में इंटर्नशिप कर सकते हैं। इसके अलावा जब आपका कोर्स कंप्लीट हो जाए, तो उसके बाद आप किसी अच्छे मीडिया हाउस में इंटर्नशिप कर सकते हैं।

इंटर्नशिप करने से आपको यह फायदा होगा कि आपको मीडिया इंडस्ट्री के बारे में विभिन्न प्रकार की जानकारी प्राप्त होगी और आप को यह पता चलेगा कि मीडिया इंडस्ट्री में काम कैसे होता है|

और अगर आप अपने इंटर्नशिप के दरमियान अच्छा काम करते हैं, तो सकता कि आपको उसी मीडिया हाउस अथवा कंपनी में नौकरी भी मिल जाए।अपनी इंटर्नशिप को सफलतापूर्वक पूरा करने के बाद आप किसी भी न्यूज़ चैनल, अखबार या फिर वेब पोर्टल में आसानी से नौकरी के लिए आवेदन कर सकते हैं और नौकरी पा सकते हैं।

8. मीडिया सेक्टर में शुरुआती सैलरी

अगर हम मीडिया की फील्ड में महीने की तनख्वाह के बारे में बात करें, तो इस फील्ड में किसी भी पद की शुरुआती सैलरी 15 से ₹20000 के आसपास होती है।

इसके बाद जब व्यक्ति काम करना शुरू करता है और उसका धीरे-धीरे अपनी फील्ड में अनुभव बढ़ता जाता है, तो बाद में कंपनी अथवा न्यूज़ चैनल उसकी सैलरी में भी बढ़ोतरी करती है।

इसके अलावा अगर आपके अंदर कुछ कर गुजरने का टैलेंट है, तो फिर इस फील्ड में आप बहुत अच्छे पैसे कमा सकते हैं। इसके अलावा इस फील्ड में करियर बनाने का एक फायदा यह भी है, कि आपको पैसे के साथ साथ काफी प्रसिद्धि भी मिलती है।

9. मीडिया से संबंधित कोर्स करने के लिए इंडिया के बेस्ट कॉलेज की लिस्ट

नीचे हमने मीडिया से संबंधित कोर्स करने के लिए कुछ ऐसे कॉलेजेस के नाम दिए हैं, जहां से आप मीडिया में कैरियर बनाने के लिए विभिन्न प्रकार के कोर्स कर सकते हैं और अपना एक अच्छा कैरियर बना सकते हैं।

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, दिल्ली
  • माखनलाल चतुर्वेदी यूनिवर्सिटी, भोपाल
  • दिल्ली यूनिवर्सिटी
  • गुरुगोविंद सिंह इन्द्रप्रस्थ यूनिवर्सिटी, दिल्ली
  • फ़िल्म एंड टेलीविजन इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया, पुणे
  • बनारस हिन्दू यूनिवर्सिटी, बनारस
  • जामिया मिलिया इस्लामिया, दिल्ली
  • अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी, अलीगढ़
  • बुंदेलखंड यूनिवर्सिटी, झांसी
  • गुरुनानक देव यूनिवर्सिटी, अमृतसर
  • यूनिवर्सिटी ऑफ मैसूर
  • गुरुकुल कांगिणी यूनिवर्सिटी, हरिद्वार
  • इलाहाबाद यूनिवर्सिटी
  • पंजाब यूनिवर्सिटी
  • असम यूनिवर्सिटी
  • मेवाड़ यूनिवर्सिटी
  • आंध्र यूनिवर्सिटी
  • गुरुघासीदास यूनिवर्सिटी, छत्तीसगढ़
  • लखनऊ यूनिवर्सिटी
  • चंडीगढ़ यूनिवर्सिटी
  • रांची यूनिवर्सिटी
  • मद्रास यूनिवर्सिटी
  • सिम्बोसिस इंस्टीट्यूट ऑफ कॉम्युनिकेशन, पुणे
  • जागरण इंस्टीट्यूट ऑफ मास कॉम्युनिकेशन, दिल्ली

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था मीडिया में कैरियर कैसे बनाएं, हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सभी को पता चल गया होगा कि मीडिया में कैरियर बनाने के लिए क्या करना पड़ता है|

यदि आपको हमारी यह पोस्ट पसंद आई हो तो प्लीज इस पोस्ट को एक लाइक अवश्य करें और अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर करना ना भूले|

क्योंकि हम चाहते हैं कि इस पोस्ट की मदद से अधिक से अधिक लोगों को मीडिया में कैरियर बनाने की तैयारी कैसे करें इसके बारे में पूरी जानकारी मिल पाए धन्यवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.