Liv 52 के फायदे, नुकसान और कैसे लेना चाहिए

Liv 52 के फायदे और नुकसान – लेकिननमस्कार दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपको बताएँगे लिव 52 के फायदे और नुकसान इसके साथ-साथ हम आपको ये भी बताएँगे की इसको कैसे लेना या खाना चाहिए.

दोस्तों इस पोस्ट में आपको liv 52 की पूरी जानकारी मिल जाएगी और इसको इस्तेमाल करने का सही तरीका भी पता चलेगा. इस लिए हम आपसे रिक्वेस्ट करेंगे की आप इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़े ताकि आपको liv 52 टेबलेट और सिरप के उपयोग और लाभ के बारे में पता चल पाए.

Liv 52 की पूरी जानकारी

liv 52 के फायदे और नुकसान

दोस्तों सबसे पहले हम आपको liv 52 के बारे में जानकारी दे देते है की ये दवा किस चीज के लिए उपयोगी होती है और लोग इसका इस्तेमाल क्यों करते है.

दोस्तों liv 52 एक बहुत ही पोपुलर आयुर्वेदिक दवा है जो की भारत की सबसे पोपुलर आयुर्वेदिक कंपनी himalaya बनाती है.

liv 52 आपको टेबलेट और सिरप के फॉर्म में किसी भी मेडिकल स्टोर में मिल जायेगा और ये पुरे भारत में उपलब्ध है.

Himalaya एक बहुत ही जानी मानी कंपनी है जो की १९३० से ऑपरेट कर रही है और इसके सभी प्रोडक्ट्स बहुत ही अच्छे होते है और १००% आयुर्वेदिक होती है जिसके साइड इफेक्ट्स ना के बराबर होते है.

Liv 52 Tablets

liv 52 ds tablet

दोस्तों यदि आपको टेबलेट लेना अच्छा लगता है तो आप liv 52 के टेबलेट किसी भी मेडिकल दूकान से खरीद सके हो और इसमें आपको २ टाइप के टेबलेट मिलते है.

liv 52 नार्मल टेबलेट और liv 52 ds, दोस्तों अब बहुत लोगो को लगेगा की इन दोनों में फर्क क्या है. दोस्तों liv 52 ds में और नार्मल liv 52 में ज्यादा कोई फर्क नहीं है.

फर्क केवल इतना है की liv 52 ds डबल स्ट्रोंग है यानि की इसकी पॉवर थोड़ी ज्यादा है नार्मल liv 52 से.

liv 52 नार्मल की गोली रेड कलर की होती है जबकि liv 52 ds की टेबलेट जमुनी कलर की होती है और साइज भी इसका थोडा बड़ा होता है.

आप चाहो को इनमे से कोई भी ले सकते हो और यूज़ कर सकते हो केवल थोडा सा फर्क है और इन दोनों के ingredients सेम ही है तो आप अपने जरुरत के हिसाब से इन दोनों में से कोई भी ले सकते हो दोनों का काम एक ही है.

नार्मल लिव-52 में आपको १०० टेबलेट मिल जाती है और वही लिव-52 डी एस में आप लोगों को 60 टेबलेट मिलती है. प्राइस लगभग दोनों की एक ही जितनी है लिव-52 ds की की कीमत १३० रूपए है.

Liv 52 Syrup

liv 52 syrup

अब बहुत लोग होते हैं जिन लोगों को टेबलेट खाने में प्रॉब्लम होती है, वह लोग जैसे ही गोली अपने मुंह में डालते हैं उन लोगों को उल्टी हो जाती है. इसके अलावा हिमालया कंपनी ने लिव-52 सिरप इसलिए बनाया है ताकि ज्यादा से ज्यादा लोग इसका उपयोग कर सके और इसको पीने में लोगों को कोई भी प्रॉब्लम ना हो.

अब आप लोगों को यह समझ में नहीं आ रहा होगा कि आप लोगों को टेबलेट लेना चाहिए या आप लोगों को सिरप लेना चाहिए. चलिए इसके बारे में भी हम आप लोगों को थोड़ी जानकारी दे देते हैं.

दोस्तों किसी भी प्रकार का टेबलेट हमारे शरीर में बहुत धीरे-धीरे काम करता है लेकिन जो सिरप होता है वह बहुत जल्दी से काम करना शुरू कर देता है और आपके खून में यह बहुत तेजी से मिल जाता है जिसकी वजह से इसका असर आपको जल्दी देखने को मिलता है.

यह आप लोगों की चॉइस है कि आप लोगों को टेबलेट फॉर्म में लिवर 52 लेना है या सिरप फॉर्म में इसमें कोई ज्यादा फर्क नहीं होता है.

लिव-52 सिरप की प्राइस १५० रुपय के लगभग है और यह आपको किसी भी मेडिकल स्टोर में मिल जाएगी.

लिव-52 के फायदे और नुकसान

दोस्तों चलिए अब हम आपको लिव-52 के फायदे और नुकसान के बारे में बताते हैं. दोस्तो सबसे पहले हम लिव-52 के लाभ और बेनिफिट देखते हैं फिर उसके बाद हम लोग इसके नुकसान के बारे में देखेंगे.

लिव-52 के फायदे (Liv 52 Benefits in Hindi)

१. लीवर की सुरक्षा

दोस्तों लिव-52 टेबलेट और सिरप सबसे ज्यादा प्रसिद्ध लीवर की सुरक्षा करने के लिए हुआ है. यह दवाई सबसे ज्यादा इसी वजह से पूरे भारत मैं बहुत ज्यादा बिकती है.

नियमित रूप से लिव-52 दवाई का इस्तेमाल करने से आप लोगों का लीवर मजबूत होता है और वह अच्छे तरीके से काम करता है.

आप लोगों को पता ही होगा कि एक स्वस्थ शरीर पाने के लिए आप लोगों का स्वस्थ लीवर होना बहुत ज्यादा जरूरी होता है.

यदि आपका लीवर सही तरीके से काम नहीं करता है तब आप लोगों का स्वास्थ्य अच्छा नहीं रहेगा. इसलिए यदि आप लोग अपना लीवर को स्वस्थ रखना चाहते हो तब आप लोगों को लीवर 52 टेबलेट या सिरप का इस्तेमाल करना चाहिए.

इस आयुर्वेदिक दवाई की नियमित इस्तेमाल करने से आप लोगों का लीवर हमेशा सुरक्षित रहेगा और आपको किसी भी प्रकार की लीवर प्रॉब्लम नहीं होगी.

२. भूख बढ़ाती है

दोस्तों आज के समय पर यह बहुत बड़ी प्रॉब्लम है की बहुत लोगों को भूख अच्छे से नहीं लगती है जिसकी वजह से वह लोग अपना भोजन अच्छे से खा नहीं पाते हैं.

यदि आप लोगों को बूख अच्छे से नहीं लगेगी तो आप लोगों की सेहत डाउन होती जाएगी और आपकी ताकत भी कम होती जाएगी और आपको कमजोरी भी महसूस होगी.

liv 52 के रेगुलर यूज़ करने से आपकी बूख बढ़ेगी और आपकी डाइट भी अच्छी हो जाएगी. हम पर्सनली इस प्रॉब्लम को फेस कर रहे थे.

हमको सही से बूख नहीं लग रही थी तब हमने liv 52 ds टेबलेट खाना स्टार्ट किया और फिर उसके बाद हमको बूख अच्छे से लगने लग गए.

दोस्तों यदि आपको भी अच्छे से बूख नहीं लगती है तो आप लोग भी liv 52 टेबलेट या सिरप को ले सकते हो इससे आपको १००% फायदा होगा और आपकी डाइट भी बढ़ जाएगी.

३. पाचन शक्ति बढाती है

अच्छी सेहत पाने के लिए आपकी पाचन शक्ति मजबूत होती चाहिए. यदि आपकी पाचन शक्ति मजबूत नहीं है तो आप अपना खाना अच्छे से पचा नहीं पाओगे.

इसका सबसे बड़ा नुकसान ये है की आप जो कुछ भी खोओगे वो आपकी सेहत में लगेगा ही नहीं और आपकी health अच्छी नहीं हो पायेगी.

यदि आपका खाना अच्छे से डाइजेस्ट नहीं होगा तो आपका खाया पिया आपके सेहत में लगेगा ही नहीं. liv 52 आपकी पाचन शक्ति को मजबूत और स्ट्रोंग बनती है.

४. गैस की समस्या

यदि आप लोगो के पेट में गैस की प्रॉब्लम होती है या आपका पेट फुला फुला सा लगता है तो आपको liv 52 का उपयोग करना चाहिए इसके रेगुलर इस्तेमाल करने से आपकी गैस की प्रॉब्लम खत्म हो जाएगी.

यदि आपको गैस की प्रॉब्लम है तो आप लोगो को पता ही होगा की कितनी ज्यादा तकलीफ होती है. उठने बैठने में भी बहुत ज्यादा प्रॉब्लम होती है.

जब आप के पेट में गैस की प्रॉब्लम होती है तब आप लोग अच्छे से अपना खाना भी नहीं खा पाते हो क्योंकि आपका पेट पहले से ही भरा भरा महसूस होता है.

गैस की प्रॉब्लम होने का एक बड़ा कारण यह भी है कि आपका खाना अच्छे से एडजस्ट नहीं हो रहा है और आपका लीवर अच्छे से काम नहीं कर रहा है.

इसलिए आप लोगों को नियमित रूप से लिव-52 टेबलेट या सिरप का इस्तेमाल करना चाहिए इससे आपको गैस की प्रॉब्लम में बहुत लाभ होगा.

५. पेट की सफाई

आजकल लोग घर का खाना बहुत कम खाते है और बहार के फ़ास्ट फ़ूड का सेवन ज्यादा करते है. जिसकी वजह से वो खाना अच्छी से डाइजेस्ट नहीं होता है.

जिसकी वजह से सुबह आपका पेट अच्छे से साफ नहीं होता है. दोस्तों अच्छी सेहत के लिए सुबह के समय पर शौचालय में आप लोगों का पेट अच्छे से साफ होना बहुत ज्यादा जरूरी होता है.

यह आपके शरीर की गंदगी होती है इसको आप लोगों को बाहर निकालना चाहिए. लेकिन यदि आप लोगों का पेट सुबह अच्छे से साफ नहीं होगा तब यह गंदगी आपके पेट में ही रहती है जिसकी वजह से आप लोगों को गैस की समस्या और अन्य बीमारी होने का खतरा हो जाता है.

यदि आप लोगों का भी पेट अच्छे से साफ नहीं होता है तब आप लोग लिव-52 का इस्तेमाल कर सकते हो इससे सुबह के समय पर आपका पेट बहुत खुलकर साफ होगा.

६. खून की सफाई

दोस्तों लिव-52 टेबलेट या सिरप रेगुलर यूज करने से आप लोगों का खून साफ होता है. इससे आपका स्वास्थ्य अच्छा रहता है साथ ही साथ आपके चेहरे पर ग्लो बढ़ जाता है और आपको फोड़ी फुंसी जैसी प्रॉब्लम की समस्या नहीं होती है.

लिव-52 में जो भी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया गया है वह आप लोगों का रेड ब्लड सेल को भी बढ़ाता है.

७. बॉडी बनाने में फायदेमंद

जो लोग बॉडी बिल्डिंग करते हैं उन लोगों के लिए तो लीवर 52 लेना बहुत ज्यादा जरूरी होता है क्योंकि वह लोग अलग-अलग प्रकार के सप्लीमेंट खाते हैं जिसकी वजह से उनके लिवर पर बहुत ज्यादा प्रेशर पड़ता है.

यदि आप लोग बॉडी बिल्डिंग करते हो या सप्लीमेंट का प्रयोग करते हो तब आप लोगों को लिव-52 को रेगुलर इस्तेमाल करना चाहिए.

इसके अलावा जो बॉडी बिल्डर प्रोफेशनल होते हैं वह लोग स्टेरॉयड का इस्तेमाल करते हैं. स्ट्राइड आपके लीवर के लिए बहुत ही ज्यादा हानिकारक होता है और इससे आपके लीवर को परमानेंट डैमेज हो सकता है.

इससे बचने के लिए प्रोफेशनल बॉडीबिल्डर को लिव-52 ds का इस्तेमाल करना बहुत ही ज्यादा आवश्यक हो जाता है.

लिव-52 के नुकसान (Liv 52 Side Effects in Hindi)

दोस्तों वैसे तो हिमालया कंपनी कहती है कि जो भी आयुर्वेदिक प्रोडक्ट है वह पूरी तरह से सेफ और सुरक्षित है और इनके कोई भी साइड इफेक्ट नहीं होते हैं.

क्योंकि हमारे सभी आयुर्वेदिक प्रोडक्ट को बनाने के लिए किसी भी केमिकल का उपयोग नहीं किया जाता है और इसमें प्राकृतिक तौर पर पाए गए आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है.

इसलिए हिमालया कंपनी के सभी आयुर्वेदिक प्रोडक्ट पुरुष, महिला, बच्चे या बूढ़े कर सकते है और इसके कोई भी साइड इफ़ेक्ट देखने को नहीं मिलते है और ये १००% सेफ है.

लेकिन हम आप लोगों से यह कहना चाहते हैं कि चाहे कोई भी कंपनी का प्रोडक्ट हो आप लोगों को हमेशा सावधानी रखनी चाहिए.

यदि आप लोगों को कोई भी गंभीर बीमारी है जैसे कि पीलिया, अस्थमा, हाई ब्लड प्रेशर, हार्ट प्रॉब्लम इत्यादि ऐसी स्थिति में आप लोगों को अपने डॉक्टर से सलाह लेने के बाद ही लिव-52 का उपयोग करना चाहिए.

लेकिन यदि आप लोगों को ऐसी कोई भी गंभीर समस्या नहीं है और आप एक स्वस्थ नौजवान हैं तब आप लोग लिव-52 का इस्तेमाल कर सकते हो और इससे आपको फायदा जरूर होगा.

लिव-52 कैसे खाएं या इस्तेमाल करें?

दोस्तों अभी हमने आप लोगों को लिव-52 टेबलेट और सिरप के फायदे और नुकसान बता दिए हैं चलिए अब देखते हैं कि इस को कैसे इस्तेमाल करना चाहिए और इसको लेने का सही तरीका क्या होता है ताकि आप लोगों को ज्यादा से ज्यादा लाभ और बेनिफिट मिले.

हिमालया कंपनी बोलती है कि शुरुआत में आप लोगों को दो गोली दिन में दो बार लेना चाहिए लेकिन बाद में आप लोगों को एक एक गोली सुबह और शाम लेना चाहिए.

यह टेबलेट और सिरप दोनों के लिए सेम है. यदि आप लोगों को आपके डॉक्टर ने लिव-52 खाने को कहां है तब आप लोग उनके बताए गए dose के हिसाब से लिया करें.

लिव-52 टेबलेट को आप पानी के साथ लेंगे तब आपको ज्यादा फायदा होगा क्योंकि पानी के साथ दवाई अपना पूरा असर दिखाती है और उससे ज्यादा फायदा होता है.

लिव-52 आयुर्वेदिक दवा को आप लोगों को ठंडे और सूखे जगह पर रखना चाहिए. लेकिन इसको आप को फ्रिज में नहीं रखना चाहिए इससे आपकी दवाई खराब हो जाएगी.

Liv 52 ingredients

चलिए दोस्तों अब देख लेते हैं कि लिव-52 टेबलेट या सिरप को बनाने के लिए कौन कौन से आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का इस्तेमाल किया जाता है.

1. हिम्सरा १३० mg
२. कसनी १३० mg
३. मनदुर भस्म ६६ mg
४. काकमाची ६६ mg
५. अर्जुना ६४ mg
६. कसमर्दा ३२ mg
७. बिरंजसिफा ३२ mg
८. झावुका ३२ mg

दोस्तों देखा आपने लिव-52 टेबलेट या सिरप को बनाने के लिए सभी आयुर्वेदिक जड़ी बूटियों का उपयोग किया गया है और इसमें किसी भी प्रकार का केमिकल इस्तेमाल नहीं किया गया है इसलिए यह आपके सेहत के लिए हंड्रेड परसेंट सेफ है और इसके कोई भी साइड इफेक्ट नहीं है.

रिलेटेड पोस्ट:

Horlicks के फायदे नुकसान पढ़े

protinex के फायदे और नुकसान जाने

endura मास के फायदे और नुकसान जाने

Liv 52 Review in Hindi

आपकी और दोस्तों

दोस्तों यह था लिव-52 टेबलेट या सिरप के फायदे और नुकसान (liv 52 benefits and side effects in hindi), हम उम्मीद करते हैं कि इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको लिव-52 के बारे में पूरी जानकारी मिल गई होगी और आप लोगों को पता चल गया होगा कि इसको कैसे इस्तेमाल किया जाता है.

यदि आप लोगों को यह पोस्ट अच्छी लगी हो तो कृपया करके इसे अपने दोस्तों के साथ और घर परिवार वालों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर जरूर शेयर करें ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगों को इसके फायदे और नुकसान के बारे में पता चल पाए धन्यवाद दोस्तों.

4 thoughts on “Liv 52 के फायदे, नुकसान और कैसे लेना चाहिए”

    1. खा सकते हो लेकिन बेस्ट यही होगा की आप कुछ हल्का फुल्का खाने के बाद ही इस गोली को खाए

      1. कंचन जी आप अपने डॉक्टर से इसकी सलाह ले बड़ो के लिए तो ये बहुत सेफ है लेकिन बच्चों को कोई भी दवाई देने से पहले हमेशा डॉक्टर की सलाह लेना सही होता है.

Leave a Comment

Your email address will not be published.