कितने बच्चे पैदा करने या होने चाहिए



कितने बच्चे पैदा करने या होने चाहिए – हेल्लो दोस्तों आज का यह पोस्ट शादीशुदा जोड़े के लिए बहुत ही जरुरी है क्यूंकि इस आर्टिकल हम आपको बताएँगे की आपको कितने बच्चे पैदा करने चाहिए या फॅमिली में कितने बच्चे होने चाहिए. दोस्तों भले ही बहुत मैरिड कपल्स को ये बात बहुत मामूली लगे लेकिन फैमिली प्लानिंग करने के लिए ये बहुत ही जरुरी है.

जब किसी की शादी होती है तो जाहिर सी बात है की कुछ सालो बाद वो लोग परिवार नियोजन करने के बारे में सोचते है और वो लोग सोचते है की एक हैप्पी फॅमिली के लिए कितने बच्चे पैदा करना चाहिए. हमको बहुत लोगो का क्वेश्चन भी आता है और वो लोग पूछते है की परिवार में कितने बच्चे होने चाहिए.

दोस्तों यदि आप लोग भी फैमिली प्लानिंग कर रहे हो और सोच रहे हो की कितने बच्चे पैदा करने चाहिए ताकि आपका परिवार सुखी और खुश रहे. तो दोस्तों चलो इस पोस्ट को स्टार्ट करते है और हम आपसे रिक्वेस्ट करेंगे की इस पोस्ट को पूरा जरुर पढ़े ताकि आपको कुछ जरुरी टिप्स मिल पाए.

पढ़े – फैमिली प्लानिंग कैसे करे

कितने बच्चे पैदा करने चाहिए

परिवार में कितने बच्चे होने चाहिए

Kitne Bache Paida Karne Chahiye

दोस्तों जब किसी की शादी होती है तो जाहिर सी बात है की कुछ टाइम बाद या कुछ सालो बाद उनको अपनी फैमिली प्लानिंग करनी होती है. हर शादीशुदा जोड़ा यही सोचता है की हमको कितने बच्चे पैदा करना चाहिए ताकि हमारा परिवार सुखी और खुश रहे.

उनके मन ये ये सवाल होता है की परिवार में कितने बच्चे होने चाहिए ताकि हमारा परिवार हमेशा खुश रहे. दोस्तों इस बात को हर शादीशुदा जोड़ा जरुर सोचता है क्यूंकि परिवार नियोजन करना बहुत जरुरी होता है.

कुछ लोग शादी होने के बहुत जल्दी बच्चा पैदा कर देते है और कुछ १ या २ साल के बाद बच्चा पैदा करते है. ये तो पति और पत्नी दोनों पर निर्भर करता है की उनको कब बच्चा चाहिए होता है. चाहे कोई भी शादीशुदा जोड़ा हो हर जोड़े को अपने लाइफ में बच्चे चाहिए होते है और वो लोग इसकी प्लानिंग जरुर करते है.

लेकिन सबसे बड़ा सवाल बहुत लोगो के दिमाग में होता है की हमको कितने बच्चे पैदा करने चाहिए या एक सुखी परिवार के लिए कितने बच्चे होने चाहिए. दोस्तों हमारी राइ इसमें ये है की छोटा परिवार सुखी परिवार होता है.

हम दो और हमारे दो ये कहावत तो आपने जरुर सुनी होगी और ये बिलकुल सही भी होता है. परिवार जितना छोटा हो उतना अच्छा होता है. यदि आपको १ लड़का और १ लड़की हो जाता है तो इससे ज्यादा ख़ुशी की बात और क्या होगी.

१ लड़का और १ लड़की होने से आपका परिवार कम्पलीट हो जाता है और हर शादीशुदा जोड़े को इसी की खाविश होती है. लेकिन हर कोई इतना खुश नसीब नहीं होता है.

जिनको पहला लड़का होता है तो वो लोग बहुत खुश होते है और फिर उसके बाद वो लोग सोचते है की दूसरा बच्चा पैदा करना चाहिए की नहीं. हमारी सलाह है की आप दूसरा बच्चा पैदा कर सकते हो इसमें कोई प्रॉब्लम नहीं है लेकिन दो बच्चे होने के बाद चाहे वो लड़का हो या लड़की आपको अपनी वाइफ का ऑपरेशन करा देना चाहिए.

बहुत लोग यहाँ पर गलती करते है की जब उनके बच्चे की मांग पूरी हो जाती फिर भी उसके बाद वो लोग अपनी बीवी का ऑपरेशन नहीं कराते जिसकी वजह से कोई गलती होने पर उनको तीसरा बच्चा हो जाता है.

इसलिए हम आपको कहेंगे की ये गलती ना करे और २ बच्चे होने के बाद आप तुरंत ही अपनी पत्नी का ऑपरेशन करवा दे इससे और बच्चा होने का खतरा नहीं होगा.

अब हर कोई इतना ज्यादा लकी नहीं होता है की उनको पहला लड़का हो जाये, तो इस स्तिथि में आप दूसरा बच्चा पैदा कर सकते हो. लेकिन २ के बाद अपनी वाइफ का ऑपरेशन करा दे फिर चाहे वो लड़का हो या लड़की.

आजकल लोगो की सोच बदल चुकी है लड़का और लड़की दोनों एक समान होते है. लोगो की सोच ये है की यदि हमारा लड़का होगा तो बुढ़ापे का वो सहारा बनेगा. लेकिन क्या गारंटी है की यदि आपके २ लड़के भी हो जाये तो वो आपको बुढ़ापे में देखेंगे.

आप लोगो ने तो देखा ही है की जमाना कितना ज्यादा ख़राब हो गया है लड़के अपने माता पिता को घर से बहार निकाल देते है और उस समय पर उनकी लडकिया ही उनको सहारा देती है. खैर ये बात तो नसीब पर निर्भर करती है की आगे क्या होगा किसी को पता नहीं होता की उनकी औलाद कैसी होने वाली है.

लेकिन हर माता पिता का कर्तव्य होता है वो अपने बच्चो का सही से देखभाल करे, उनकी परवरिश अच्छे से करे और उनकी पढाई लिखाई अच्छे से कराये ताकि वो अपने लाइफ में सफल हो पाए. भविष्य में क्या होगा किसी को पता नहीं होता है.

एक बहुत बड़ी प्रॉब्लम है जो की भारत में देखि गयी है लोग लड़के पैदा करने के चक्कर में जरुरत से जायदा बच्चे पैदा कर देते है जिसकी वजह से उनको बहुत प्रॉब्लम होती है. वो जमाना चला गया जब किसी के घर में ५ या ६ बच्चे होते थे.

दोस्तों उस टाइम की बात कुछ और थी महंगाई बहुत कम थी लेकिन आज की हालत तो आपको पता ही है. स्कूल की फीस, कॉलेज की फीस कितनी जायदा हो गयी है इसका आपको अंदाजा भी नहीं है. तो यदि आपके जरुरत से ज्यादा बच्चो हो जाते है तो आपको उनकी अच्छे से परिवरिश करने में प्रॉब्लम हो सकती है यदि आपकी आमदनी अच्छी नहीं है तो.

हम आप सभी लोगो को यही कहेंगे की आज के टाइम पर २ बच्चे परफेक्ट होते है और ये एक हैप्पी फॅमिली बनाती है. जरुरत पढने पर ज्यादा से ज्यादा ३ बच्चे पैदा कर सकते हो लेकिन इससे ज्यादा तो बिलकुल भी नहीं. छोटा परिवार हमेशा सुखी परिवार होता है.

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों ये था कितने बच्चे पैदा करने चाहिए या परिवार में कितने बच्चे होने चाहिए, हम उम्मीद करते है की आपको ये पोस्ट पढने के बाद एक आईडिया मिल गया होगा की आपको क्या करना चाहिए.

फ्रेंड्स यदि आपको ये पोस्ट हेल्पफुल लगी तो इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और whatsapp पर जरुर शेयर करे ताकि जायदा से ज्यादा मैरिड कपल्स को फैमिली प्लानिंग करने में हेल्प हो पाए. धन्येवाद दोस्तों.