JCB Full Form in Hindi | JCB का फुल फॉर्म क्या है

नमस्कार दोस्तों, आज के हमारे इस आर्टिकल में हम आपको ” जेसीबी की फुल फॉर्म” के बारे में जानकारी देने वाले हैं। अगर आप इंटरनेट पर यह सर्च करते रहते हैं कि, जेसीबी का फुल फॉर्म क्या होता है या फिर जेसीबी का मतलब क्या होता है तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं।क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको जेसीबी की फुल फॉर्म के बारे में तथा जेसीबी के बारे में सभी जानकारियां प्रदान करने वाले हैं।

दोस्तों आप जब भी किसी कंस्ट्रक्शन साइट पर जाते हैं, तब वहां पर आपने बहुत सी मशीनें देखी होंगी, जो अलग-अलग काम करती है। जैसे कुछ मशीनें जमीन में खुदाई करती हैं, तो कुछ मशीनें सीमेंट मिलाने का काम करती है।इसके अलावा कुछ मशीनें ऐसी भी होती है, जो भारी भरकम सामान को एक जगह से दूसरी जगह ले जाने का काम करती हैं।

आप इनमें से बहुत से मशीनों के नाम तो जानते ही होंगे, परंतु कुछ मशीनों के नाम ऐसे होते हैं, जिनके बारे में हमें पता तो होता है परंतु हमें उन मशीनों के फुल फॉर्म के बारे में कोई भी जानकारी नहीं होती है।

कुछ महीने पहले ही हमारे भारत देश में जेसीबी मशीन की खुदाई वाला वीडियो बहुत ही वायरल हुआ था, हालांकि बहुत से लोगों को यह पता ही नहीं था कि आखिर यह वीडियो इतना वायरल क्यों हो रहा है और बहुत से लोगों ने इसका कारण जानने के लिए गूगल पर काफी सर्च किया।

हालांकि जब उन्हें इसका कारण पता चला तो उन्हें काफी हंसी आई, क्योंकि जब उन्हें पता चला कि जेसीबी की खुदाई का वीडियो किसी खास कारण के कारण वायलर नहीं हो रहा है।

बस यह वीडियो इसीलिए वायरल हो रहा है क्योंकि इस वीडियो को वायरल करने वाला बंदा यह बताना चाह रहा है कि हमारे भारत देश में इतनी बेरोजगारी है कि लोग जेसीबी की खुदाई को देखने के लिए भी भीड़ लगाकर इकट्ठा हो जाते हैं।

हालांकि जेसीबी के बारे में लोग तब और अधिक सर्च करने लगे जब कुछ ही दिनों के बाद हमारे भारत देश की लोकप्रिय अभिनेत्री सनी लियोन ने जेसीबी के ऊपर खड़े होकर एक फोटोशूट करवाया है, जिसके बाद जेसीबी की काफी चर्चा होने लगी और लोग सनी लियोन की फोटो के ऊपर विभिन्न प्रकार के चुटकुले बनाने लगे।

■ जेसीबी का फुल फॉर्म क्या है

JCB Full Form in Hindi

सबसे पहले तो आइए जान लेते हैं कि जेसीबी का फुल फॉर्म क्या होता है। जेसीबी का फुल फॉर्म होता है “Joseph Cyril Bamford”जिसे हिंदी में “जोसफ सायरिल बम्फोर्ड” के नाम से ही जाना जाता है।

परंतु बहुत से लोग इसका पूरा नाम ना बोलकर इसे छोटे नाम से ही बुलाते हैं। आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जेसीबी की पहचान ब्रिटिश मल्टीनैशनल कॉरपोरेशन के रूप में होती है और इसका अधिकतर इस्तेमाल खेती-बाड़ी तथा तोड़फोड़ करने के लिए होता है।

जैसे कि अभी हाल ही में उत्तर प्रदेश में योगी सरकार के नेतृत्व में सरकारी जमीनों पर बने हुए अवैध निर्माणों को गिराया जा रहा है, जिसमें जेसीबी का इस्तेमाल ही हो रहा है।

शायद आपको पता ना हो तो आपको बता दें कि जेसीबी को दुनिया की तीसरी सबसे बड़ी कंपनी माना जाता है।यह कंपनी बड़े-बड़े मशीन बनाती है, जिसका इस्तेमाल काफी अहम कामों में होता है और अभी तक जेसीबी ने अपनी स्थापना से लेकर वर्तमान तक 300 से भी अधिक के मशीनों का निर्माण किया है, जिसमें डीजल इंजन, ट्रैक्टर, खुदाई करने वाली मशीन के अलावा अन्य बड़ी मशीनें शामिल है, जो अलग-अलग काम करती हैं।

आमतौर पर जब हम किसी कंस्ट्रक्शन साइट पर जाते हैं, तब वहां पर हमें एक पीले रंग की मशीन दिखाई पड़ती है,जो खुदाई का काम करती है। इस मशीन को जेसीबी कहा जाता है।

■ जेसीबी कंपनी की स्थापना कब हुई थी

जेसीबी एक हेवी मशीन बनाने वाली कंपनी है और इसकी स्थापना जोसफ सायरिल बामफोर्ड नाम के आदमी ने की थी।
जेसीबी कंपनी की स्थापना साल 1945 में की गई थी।

जेसीबी कंपनी का हेड क्वार्टर रोचेस्टर, स्टेफोर्डशायर, यूके में स्थित है।आपकी जानकारी के लिए बता दें कि जेसीबी कंपनी पूरी दुनिया में हेवी मशीनरी इक्विपमेंट बनाने की सूची में तीसरे नंबर पर आती है।

■ जेसीबी कंपनी कितने महीनों का निर्माण करती है

जोसफ सायरिल बामफोर्ड के द्वारा 300 वैरायटी की मशीन का निर्माण करती है।इन मशीनों का उपयोग निर्माण कार्य, वजनी वस्तु को उठाने, खुदाई, मसाला ढोने, तोड़फोड़ करने के लिए किया जाता है।

■ जेसीबी में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या

वर्तमान के समय में जेसीबी कंपनी में काम करने वाले कर्मचारियों की संख्या 12000 के आसपास है।

■ जेसीबी की सालाना इनकम कितनी है

साल 2012 में जेसीबी के ऊपर एक रिसर्च हुई थी, जिसमें यह बात सामने आई कि जेसीबी कंपनी की सालाना इनकम 2.75 बिलियन थी और एशिया में जेसीबी कंपनी के टोटल 22 फैक्ट्री स्थापित है और इन फैक्ट्रियों में बनने वाली मशीनों को पूरी दुनिया के 150 से अधिक देशों में बेचा जाता है।

■ जेसीबी का पूरा नाम क्या है

जेसीबी को जोसफ सायरिल बम्फोर्ड के नाम से जाना जाता है।जेसीबी की पहचान ब्रिटिश मल्टीनैशनल कॉरपोरेशन के रूप में होती है और इसका अधिकतर इस्तेमाल खेती-बाड़ी तथा तोड़फोड़ करने के लिए होता है।

हमारे भारत देश में जेसीबी कंपनी को एस्कॉर्ट जेसीबी लिमिटेड के नाम से जाना जाता है।साल 2003 के जनवरी के महीने में इसका नाम बदलकर जेसीबी रख दिया गया था।

आज के समय में हमारे भारत देश में जेसीबी इंडिया लिमिटेड के 5 लेटेस्ट टेक्नोलॉजी वाले कारखाने हैं, जहां पर काफी हैवी और अंतरराष्ट्रीय मशीनें बनाई जाती है। हमारे भारत देश में जेसीबी कंपनी का कारखाना नई दिल्ली के बल्लभगढ़ में स्थित है। यह विश्व का सबसे बड़ा कारखाना है और यही कारखाना जेसीबी इंडिया का हेड क्वार्टर भी है।

■ भारत में जेसीबी को किस नाम से जानते हैं

हमारे भारत देश में जेसीबी कंपनी को एस्कॉर्ट जेसीबी लिमिटेड के नाम से जाना जाता है।साल 2003 के जनवरी के महीने में इसका नाम बदलकर जेसीबी रख दिया गया था। इस कंपनी में जो भी मशीनें बनती हैं,वह बहुत ही भारी और मजबूत होती है, जिनका निर्माण शुद्ध लोहे से किया जाता है।

क्योंकि इस कंपनी में बनने वाली मशीनें अधिकतर तोड़फोड़ और खुदाई का काम करती है और इसीलिए इसकी मशीनों में शुद्ध लोहे का इस्तेमाल किया जाता है, ताकि वह जल्दी टूटे ना।

इस कंपनी में बनने वाली मशीनें को द्वारा विभिन्न प्रकार के काम किए जाते हैं, जिसमें से कुछ मशीनों को द्वारा जमीन में काफी गहराई तक गड्ढा खोदा जा सकता है, वहीं कुछ मशीनें को द्वारा बड़े से बड़े पहाड़ को काटा जा सकता है।

इसके अलावा नहर की खुदाई के लिए हमारे भारत देश में सबसे अधिक जेसीबी मशीन का ही इस्तेमाल होता है, साथ ही कोई अगर अपना घर गिराना चाहता है,तो वह भी जेसीबी मशीन का ही इस्तेमाल करता है। इसके अलावा जब हमारे भारत देश में कहीं भी कोई नया रोड बनता है, तो नए रोड को बनाने के पहले वहां पर खुदाई की जाती है जो जेसीबी मशीन ही करती है।

■ जेसीबी कंपनी ने अपनी पहली मशीन कब बनाई थी

साल 1948 में जेसीबी कंपनी ने अपनी पहली मशीन बनाई थी और उस समय इस कंपनी में टोटल 6 लोग काम करते थे।उस समय जोसफ सायरिल बामफोर्ड कंपनी के द्वारा हाइड्रोलिक टिपिंग ट्रेलर को बनाया गया था।इसके बाद साल 1953 जेसीबी कम्पनी के द्वारा अपना पहला बेकहो लोडर लांच किया गया था।

वर्ष 1953 में बेकहो लोडर को लोगों के द्वारा बहुत ही पसंद किया गया।इसका प्रयोग वर्तमान की मशीनों में किया जा रहा है।बेकहो लोडर को हम लोग खुदाईकर्ता के नाम से जानते है।यह वहीं मशीन है, जिसे आज के समय में जेसीबी मशीन के नाम से लोग जानते है।

जेसीबी कंपनी ने साल 2006 और 2007 में भारत देश में अपने बिजनेस को आगे बढ़ाने के लिए महाराष्ट्र शहर के पुणे शहर में 2 कारखाने स्थापित किए थे। इसके बाद इन्होंने जयपुर में भी अपना कारखाना स्थापित किया, जो 115 एकड़ में फैला हुआ है।

साथ ही जेसीबी ने हमारे भारत देश में अपने बिजनेस को मजबूती देने के लिए 2000 करोड़ों का निवेश किया। वर्तमान के समय में जेसीबी इंडिया के द्वारा हमारे भारत देश में 5000 से अधिक लोगों को रोजगार प्रदान किया जा रहा है, जो इनकी कंपनियों में काम करते हैं।

■ जेसीबी कंपनी के प्रोडक्ट

Tractors

JCB phones

Excavators

Wheeled Loaders

Military vehicles

Skid Steer Loaders

Compactors

Generators

■ जेसीबी मशीन कौन से काम करती है

अगर हम जेसीबी मशीन के काम के बारे में बात करें तो, वर्तमान के समय में जेसीबी मशीन कई काम कर रही है। जैसे वर्तमान के समय में जेसीबी मशीन आपको कई जगह पर काम करती हुई दिखाई दे सकती है। जेसीबी मशीन का सबसे अधिक इस्तेमाल निर्माण कामों में हो रहा है।

इस मशीन के बिना कोई भी निर्माण कार्य करना थोड़ा मुश्किल हो जाता है, क्योंकि किसी भी निर्माण कार्य को करने के लिए सबसे पहले खुदाई करना आवश्यक होता है और खुदाई करने के लिए जेसीबी मशीन का ही इस्तेमाल किया जाता है। इसके अलावा जेसीबी मशीन का इस्तेमाल खड्डा खोदने के लिए, सड़क बनाने के लिए तथा नहरों की खुदाई करने के लिए भी किया जाता है।

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों ये था jcb का फुल फॉर्म क्या है, हम उम्मीद करते है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आपको jcb के फुल फॉर्म के बारे में पूरी जानकारी मिल गयी होगी|

अगर आपको ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो पोस्ट को १ लाइक अवश्य करे और अपने दोस्तों के साथ भी जरुर शेयर करे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो को jcb के फुल फॉर्म के बारे में पूरी जानकारी मिल पाए. धन्येवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.