कंपनी में HR कैसे बने | HR मेनेजर बनने के लिए क्या करे

कंपनी में HR कैसे बने: क्या आप किसी ऐसी नौकरी की तलाश में है, जिसमें मान सम्मान के साथ अच्छी सैलरी भी मिलती हो। अगर आपका जवाब हां है, तो आप बिल्कुल सही जगह पर आए हैं|

क्योंकि आज हम आपको एक ऐसी ही नौकरी के बारे में बताने वाले हैं, जिसमें आपको अच्छी सैलरी के साथ-साथ काफी मान और सम्मान भी प्राप्त होगा। आज हम आपको एचआर कैसे बने, इसके बारे में जानकारी देने वाले हैं।

आज के समय में एचआर मैनेजमेंट का स्कोप बढ़ता ही जा रहा है। वर्तमान के समय में जितनी भी कंपनियां है, सब में एचआर की आवश्यकता पड़ती है, तभी जाकर कोई कंपनी अच्छे ढंग से चल पाती है और अपना काम कर पाती है। एक एचआर अधिकारी अपनी कंपनी को सही दिशा में ले जाने का काम करता है और उसकी कंपनी कैसे तरक्की करें, इसके बारे में सोचता है।

इसीलिए हर कंपनी का मालिक अपनी कंपनी अथवा फैक्ट्री में एचआर की भर्ती अवश्य करता है, ताकि उसकी कंपनी जल्दी से जल्दी तरक्की करें।अगर आप भी एचआर बनना चाहते हैं, तो आज के इस आर्टिकल में हम आपको एचआर कैसे बने, इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं।

आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि एचआर क्या होता है, एचआर कैसे बनते हैं, एचआर बनने के लिए कौन सी योग्यता होनी चाहिए तथा एचआर कैसे बने, से संबंधित सभी जानकारी, तो आइए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर और जानते हैं कि एचआर कैसे बना जाता है।

कंपनी में HR कैसे बने

HR मेनेजर बनने के लिए क्या करे

company me hr kaise bane

1. एचआर का फुल फॉर्म

सबसे पहले तो हम आपको एचआर की फुल फॉर्म के बारे में जानकारी दे देते हैं। एचआर का फुल फॉर्म होता है हुमन रिसोर्स मैनेजमेंट। इनका सबसे मुख्य काम होता है, कंपनी में किसी भी व्यक्ति को भर्ती करने से पहले उसकी योग्यता और उसके डॉक्यूमेंट को चेक करना।

2. एचआर मैनेजमेंट में करियर स्कोप

वर्तमान के समय में लगभग सभी कंपनियों और संगठनों में एचआर मैनेजर की नियुक्ति जरूर की जाती है। चाहे वह हॉस्पिटल हो या कोई कंपनी हो या फिर कॉलेज अथवा कोई यूनिवर्सिटी हो।

हर जगह एचआर मैनेजर अर्थात हुमन रिसोर्स मैनेजर की भर्ती अवश्य की जाती है, क्योंकि हुमन रिसोर्स मैनेजर सभी कंपनियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

वर्तमान में इस फील्ड में कैरियर के बहुत से अवसर उपलब्ध हैं, इसीलिए जो अभ्यर्थी हुमन रिसोर्स क्षेत्र में अपना करियर बनाना चाहते हैं, वह इसमें अपना कैरियर बना कर अच्छे पद के साथ अच्छी सैलरी प्राप्त कर सकते हैं।

ऐसी हर कंपनी जो मैन्युफैक्चरिंग और किसी भी प्रकार की सर्विस से जुड़ी हुई होती है, उसमें एचआर का डिपार्टमेंट जरूर होता है। ऐसी कंपनियों में आप नौकरी पाने के लिए आवेदन कर सकते हैं।

वर्तमान के समय में ऐसा कोई भी सेक्टर नहीं है, जहां पर एचआर का डिपार्टमेंट ना होता हो और इन जगहों पर काम करने के लिए एचआर मैनेजर की नियुक्ति अवश्य की जाती है, क्योंकि एचआर मैनेजर का पद सभी कंपनियों के लिए बहुत ही महत्वपूर्ण होता है।

क्योंकि एक एचआर मैनेजर ही कंपनी में किसी भी व्यक्ति को भर्ती करने से पहले उसका विभिन्न प्रकार का टेस्ट लेता है और जब वह टेस्ट में पास जाता है, तो उसे कंपनी में भर्ती कर लिया जाता है।

3. जॉब प्रोफाइल इन एचआर मैनेजमेंट

एचआर मैनेजमेंट के अंदर आप विभिन्न पदों पर नौकरी कर सकते हैं। एचआर मैनेजमेंट के अंदर आप कौन से पदों पर नौकरी कर सकते हैं, उसकी जानकारी हमने आपको नीचे दी है, आइए इन पर गौर करते हैं।

  • एचआर रिक्रूटर
  • एचआर जनरलिस्ट
  • कंपनसेशन मैनेजर
  • एचआर स्पेशलिस्ट
  • टेक्निकल रिक्रूटर
  • ट्रेनिंग एंड डेवलपमेंट मैनेजर
  • कंपनसेशन मैनेजर
  • एम्पलॉयी रिलेशन्स मैनेजर

4. एचआर का काम

किसी भी कंपनी अथवा संस्था में एचआर अधिकारी को अपनी कंपनी अथवा संस्था के कर्मचारियों की भलाई से संबंधित कामों को देखना होता है। इसके अलावा भी एचआर अधिकारी विभिन्न प्रकार के काम अपनी कंपनी के लिए करता है।

जैसे कि एचआर अधिकारी अपनी कंपनी में नए कर्मचारियों की भर्ती उनकी योग्यता के अनुसार करता है। इसके अलावा एचआर अधिकारी उनकी कंपनी में भर्ती होने आए लोगों का इंटरव्यू लेता है और जो लोग अच्छे से इंटरव्यू देते हैं, उन्हें कंपनी में नौकरी देने के लिए सिलेक्ट कर लेता है तथा जो लोग अपना इंटरव्यू अच्छे से नहीं दे पाते उन्हें कंपनी में भर्ती नहीं करता है।

साथ ही एचआर अधिकारी कौन से कर्मचारी की कितनी सैलरी देनी है, इसका निर्णय भी लेता है। इसके अलावा कंपनसेशन और छुट्टी की पॉलिसी, रूल्स एंड रेगुलेशन तथा कंपनी अथवा संस्था में नियमों का पालन करवाने की जिम्मेदारी भी एचआर मैनेजर की होती है।

चाहे कोई बड़ी कंपनी हो या फिर छोटी कंपनी हो, दोनों को चलाने के लिए एचआर डिपार्टमेंट रीढ़ की हड्डी की तरह काम करते हैं, क्योंकि एचआर मैनेजर अपनी कंपनी के लिए बहुत ही अहम हिस्सा होता है, जो अपनी कंपनी की भलाई के लिए काम करता है।

इसके साथ एचआर मैनेजर कर्मचारियों की भलाई के लिए भी काम करता है और हर एचआर मैनेजर यही चाहता है कि, उसकी कंपनी में अच्छे से अच्छे कर्मचारी भर्ती हो और वह ऐसे कर्मचारियों की भर्ती करें, जो वाकई में उसकी कंपनी के लिए लाभदायक साबित हो, इसीलिए एचआर मैनेजर कंपनी में भर्ती होने वाले सभी लोगों का इंटरव्यू अवश्य लेता है।

5. एचआर मैनेजमेंट के लिए कोर्स

अगर आप एचआर मैनेजमेंट की फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आप नीचे बताए गए किसी भी कोर्स को करके एचआर मैनेजमेंट की फील्ड में आ सकते हैं और अपना अच्छा कैरियर स्थापित कर सकते हैं।

#1 डिप्लोमा कोर्स

जो अभ्यर्थी एचआर मैनेजमेंट की फील्ड में आना चाहता है, वह दसवीं कक्षा को पास करने के बाद या फिर 12वीं कक्षा अच्छे नंबरों से पास करने के बाद डिप्लोमा इन एचआर मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि यह एचआर अधिकारी काकोर्स 6 महीने से लेकर 2 साल तक का हो सकता है और यह कोर्स आप भारत के किसी भी सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज से कर सकते हैं।

हालांकि सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज से एचआर मैनेजमेंट का कोर्स करने के लिए आपको पॉलिटेक्निक जॉइंट एंट्रेंस एग्जाम में शामिल होना होगा और जब आप इस परीक्षा में शामिल होकर, इस परीक्षा को अच्छे अंको से पास कर लेंगे तो उसके बाद आपको किसी भी सरकारी पॉलिटेक्निक कॉलेज में एडमिशन मिल जाएगा, जिसके बाद आप डिप्लोमा इन एचआर मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं।

सरकारी कॉलेज में एडमिशन मिलने से आपको एक फायदा यह भी रहेगा कि, आपके कोर्स की फीस प्राइवेट संस्थानों की तुलना में कम रहेगी। इसके अलावा हो सकता है कि आपको छात्रवृत्ति भी सरकार की तरफ से मिलने लगे।

#2 बैचलर कोर्स

बैचलर कोर्स में एचआर मैनेजमेंट की फील्ड में आने की इच्छा रखने वाले अभ्यर्थी 12वीं कक्षा को अच्छे अंको से पास करने के बाद बीबीए इन एचआर या फिर बैचलर ऑफ आर्ट इन एचआर मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इन सभी कोर्सो की अवधि 3 साल की होती है और इसमें भी प्रवेश पाने के लिए आपको एंट्रेंस एग्जाम को देना जरूरी होता है।जब आप एंट्रेंस एग्जाम को सफलतापूर्वक पास कर लेंगे, तभी आपको इन कोर्स में प्रवेश दिया जाता है।

अगर आपके एग्जाम में अच्छे नंबर आते हैं तो आपको सरकारी कॉलेज भी मिल सकता है, जिसके कारण आपके इस कोर्स की फीस प्राइवेट संस्थाओं की तुलना में कम हो सकती है।

डीयू जेएटी, एनपीएटी, सिम्बायोसिस एंट्रेंस टेस्ट (एसईटी), आईपीएमएटी, जीजीएसआईपीयू सीईटी बीबीए, एआईएमए यूजीएटी जैसे एंट्रेंस एग्जाम के द्वारा आप किसी भी अच्छे कॉलेज में एचआर मैनेजमेंट का कोर्स सीखने के लिए दाखिला ले सकते हैं, हालांकि इन एंट्रेंस एग्जाम को पास करने के लिए आपको काफी मेहनत करने की आवश्यकता होती है।

#3 पोस्ट ग्रेजुएट कोर्स

अगर आप हुमन रिसोर्स में पोस्ट ग्रेजुएट का कोर्स करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको किसी भी विषय से 12वीं कक्षा को पास करना जरूरी है। इसमें आप एमबीए इन एचआर, पीजीडीएम इन एचआर या मास्टर ऑफ आर्ट इन एचआर मैनेजमेंट का कोर्स कर सकते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इन कोर्स की अवधि 2 साल की होती है और इसमें प्रवेश आपको नीचे बताए गई एंट्रेंस एग्जाम को देने के बाद ही मिलेगा,इसलिए नीचे बताई गई एंट्रेंस एग्जाम की तैयारी अच्छे से करें।

कैट,मैट,सेट,एआईएमए-एमएटी,सीएटी (कॉमन एडमिशन टेस्ट),आईआईएफटी,एक्सएटी,एमएएच – एमबीए/ एमएमएस सीईटी (महाराष्ट्र एमबीए कॉमन एंट्रेंस टेस्ट),एसएनएपी (सिम्बायोसिस नेशनल एप्टीट्यूड टेस्ट),एमआईसीएटी,सीएमएटी (कॉमन मैनेजमेंट एडमिशन टेस्ट),जीएमएसी द्वारा एनएमएटी,आईबीएसएटी (आईबीएस एप्टीट्यूड टेस्ट), आदि

6. एचआर मैनेजमेंट में इंटर्नशिप

पीजी का कोर्स करने के बाद आप इस सेक्टर में इंटर्नशिप भी कर सकते हैं, जिसके बाद आपको इस फील्ड में शानदार कैरियर बनाने में काफी हेल्प मिलेगी।

इंटर्नशिप करने के बाद आपको आपने जिस विषय में इंटर्नशिप की है, उसमें महारत हासिल हो जाती है। इसके बाद आपको काफी अच्छी नौकरी प्राप्त हो जाती है।इंटर्नशिप करने के लिए आप नीचे बताई गई इंटर्नशिप कर सकते हैं।

#1 रिक्रूटमेंट एंड स्टाफिंग

एचआर डिपार्टमेंट का सबसे मुख्य वर्क रिक्रूटमेंट और स्टाफिंग से जुड़ा होता है। इसमें इंटर्नशिप करने के बाद आप कर्मचारियों को हायर करने में एक्सपर्ट हो जाएंगे, जिससे आप कंपनी के लिए अच्छे कर्मचारी हायर कर सकेंगे।

#2 डेवलपमेन्ट एंड ट्रेनिंग

वर्कर को हायर करने के बाद उनको कंपनी के काम को समझने और उन कामो को अच्छी तरह से करने के लिए ट्रेनिंग देना बहुत ही जरूरी होती है। डेवलपमेन्ट एंड ट्रेनिंग में
इंटर्नशिप करने के बाद आप एम्प्लाइज को ट्रेनिंग देने में एक्सपर्ट बन जाते हैं।

#3 कंपनसेशन एंड रिवॉर्ड मैनेजमेंट

किसी भी कंपनी संस्थान अथवा इंस्टीट्यूट में कर्मचारियों को रोके रखने के अन्य प्रमुख पहलू सैलेरी और कंपनसेशन हैं। HR डिपार्टमेंट ही समय के मुताबिक सैलेरी बांटता है और सैलेरी रिवाइज करता है। कंपनी की वित्तीय अप्प्रोच के अनुसार कर्मचारियों की Salary निर्धारित करना काफी अहम काम होता है।

#4 लेबर और कर्मचारी का संबंध

हमारी भारत सरकार ने हर कंपनी चाहे वह छोटी हो या बड़, हर संस्था और हर इंस्टीट्यूट के लिए कर्मचारियों से संबंधित कुछ नियम और कानून बनाए हैं, जिनका पालन करना कंपनी और संस्थाओं के लिए बहुत ही जरूरी होता है।

इसमें इंटर्नशिप करने के बाद आप अपने और अपने कर्मचारियों के अधिकारों से अच्छी तरह परिचित हो जाएंगे और आप उनका कंपनी, संस्था अथवा इंस्टिट्यूट में शोषण होने से बचा पाएंगे। इसके अलावा अगर आपको लगता है कि कंपनी आपके किसी कर्मचारी के साथ अन्याय कर रही है, तो आप उसके खिलाफ कानूनी कार्रवाई भी कर सकते हैं।इसके अलावा आप देख सकते हैं कि सभी मजदूर को सरकार द्वारा निर्धारित कम से कम मजदूरी मिल रही है या नहीं।

7. हुमन रिसोर्स मैनेजमेंट में करियर के लिए स्कील

अगर आप इस फील्ड में अपना कैरियर बनाना चाहते हैं, तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि इस फील्ड में अपना कैरियर बनाने के लिए आपकी कम्युनिकेशन स्किल अर्थात बातचीत करने की कला अच्छी होनी चाहिए।

इसके साथ ही आपके अंदर लीडरशिप करने का गुण, मैनेजमेंट करने का गुड, सुपरवाइजर की क्वालिटी तथा ट्रेनिंग करने का गुण होना चाहिए तथा आपकी भाषा मीठी और सरल होनी चाहिए। जब आप बोले तो आपकी बातों में किसी भी प्रकार की हकलाहट नहीं होनी चाहिए और आपकी बातें स्पष्ट रूप से दूसरे व्यक्तियों को सुनाई देनी चाहिए।

8. एचआर की सैलरी

दुनिया की जितनी भी कंपनियां है, उन सभी कंपनियों में एचआर मैनेजर की सैलरी अलग-अलग होती है। जैसे जो बड़ी कंपनियां है, उन कंपनियों में एचआर मैनेजर की सैलरी महीने के तौर पर अधिक होती है। इसके अलावा जो छोटी कंपनियां हैं, उनमें एचआर मैनेजर की सैलरी बड़ी कंपनियों से थोड़ी सी कम होती है।

परंतु अगर हम सामान्य तौर पर एचआर मैनेजर की महीने की सैलरी के बारे में बात करें तो एक एचआर मैनेजर की सैलरी अंदाजजन 40,000 से लेकर 50000 के आसपास होती है।इसके अलावा एचआर मैनेजर को पीएफ तथा ग्रेजुएटी का लाभ भी मिलता है, साथ ही वह जिस कंपनी में काम करते हैं, उस कंपनी की तरफ से उन्हें वार्षिक छुट्टी भी दी जाती है तथा दिवाली जैसे त्योहारों पर मिठाई और बोनस भी दिया जाता है।

9. एचआर का कोर्स सीखने के लिए भारत के सबसे अच्छे कॉलेज की लिस्ट

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि एचआर का कोर्स करने के लिए भारत में संस्थाओं की कमी बिल्कुल भी नहीं है, लेकिन अगर आपको अच्छे कॉलेज में एडमिशन लेना है, तो इसके लिए आपको अधिक मेहनत भी करनी पड़ेगी।

क्योंकि अधिकतर लोग यह सोचते हैं कि उन्हें अगर किसी सरकारी कॉलेज में प्रवेश मिल जाए तो, उन्हें काफी अच्छा रहेगा। इसीलिए अगर आप सरकारी कॉलेज में प्रवेश पाना चाहते हैं, तो आपको अपनी पढ़ाई पर विशेष ध्यान देना होगा। नीचे हमने एचआर मैनेजमेंट से संबंधित कुछ ऐसे कॉलेज की जानकारी दी है, जहां पर आप एडमिशन पा सकते हैं और यह सभी कॉलेज सरकार द्वारा मान्यता प्राप्त है।

  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, बंगलोर
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, अहमदाबाद
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, कोझीकोड़
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, लखनऊ
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट, कलकत्ता
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, दिल्ली
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, खड़गपुर
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, बॉम्बे
  • इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ टेक्नोलॉजी, रुड़की

10. रिक्रूटर फॉर एचआर

अगर आपने एचआर मैनेजमेंट का कोर्स कर लिया है या फिर एचआर मैनेजमेंट का कोर्स करने वाले हैं, तो आपको इस बात की जानकारी अवश्य होनी चाहिए कि एचआर मैनेजमेंट का कोर्स सफलतापूर्वक करने के बाद आपको कौनसी-कौनसी कंपनियों में नौकरी मिल सकती है।

अगर आपको इसके बारे में जानकारी नहीं है, तो बिल्कुल भी चिंता ना करें कयोंकि नीचे हमने कुछ ऐसी कंपनियों की लिस्ट दी है, जहां पर आप एचआर मैनेजमेंट का कोर्स करने के बाद नौकरी के लिए आवेदन दे सकते हैं।

  • कैली सर्विसेज
  • ABC कंसल्टेंट
  • एडेको इंडिया
  • एडिको ग्रुप नॉर्ट अमेरिका
  • रैंडस्टैंड इंडिया
  • बॉडी शॉपिंग
  • आईकेवाईए
  • डेविडसन ग्लोवल टेक्नोलॉजी
  • एओएन
  • मैनपॉवर ग्रुप
  • केली सर्विसेज
  • टीमलीज
  • आरएच फैक्टर
  • केफोर्स
  • रैंडस्टैड होल्डिंग
  • एचआर फुटप्रिंट्स
  • वाइज ग्रुप
  • एस्के मैनेजमेंट सोल्यूशन्स
  • रैंडस्टैड इंडिया
  • ओबीओएक्स एचआर सोल्यूशन्स
  • एस्के मैनेजमेंट सोल्यूशन्स
  • टेली रेसॉर्स
  • इंफोसिस
  • विप्रो
  • टाटा कंसल्टेंसी सर्विसेज, आदि

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था किसी भी कंपनी में एचआर कैसे बने, हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सभी को पता चल गया होगा कि किसी कंपनी में एचआर बनने के लिए क्या करना पड़ता है|

अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो प्लीज इसे अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर जरूर शेयर करें|

क्योंकि हम चाहते हैं कि अधिक से अधिक लोगों को यह पता चल पाएगी ह्यूमन रिसोर्स मैनेजमेंट में करियर कैसे बनाएं धन्यवाद दोस्तों

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.