हैकर कैसे बने | हैकर बनने के लिए क्या करे

हैकर कैसे बने: कंप्यूटर टेक्नोलॉजी के आने के बाद इसमें अनेक क्षेत्रों का विस्तार हुआ है जो लोगों को रोजगार पाने, कैरियर बनाने में अहम भूमिका निभा रहे हैं। ऐसा ही एक क्षेत्र है Hacking का, यदि आप हैकर बनना चाहते है तो इस पोस्ट में हैकर कौन होता है? कैसे बने? कौन-कौन सी पढ़ाई करनी होती है? इससे जुड़ी पूरी जानकारी मिलने वाली है।

बदलते समय के साथ आज हमारे पास कई कैरियर विकल्प मौजूद हैं! जहां पहले एक बच्चा डॉक्टर इंजीनियर बनने की सोचता था आज वही दुनिया में कंप्यूटर टेक्नोलॉजी से आए परिवर्तन की वजह से कई लोग एक बड़ा हैकर बनना चाहते है।

अगर आपका भी भविष्य में कुछ अलग करने का मन है और आप एक बड़ा हैकर बनना चाहते हैं लेकिन नहीं पता कि क्या किया जाए? कैसे शुरुवात की जाए तो यह पोस्ट आपको काफी कुछ सिखाने वाली है तो आइए सबसे पहले हम यह समझ लेते हैं कि

हैकर कौन होता है?

Hacker kaise bane

सामान्य शब्दों में कहें तो एक हैकर computer expert होता है जो कंप्यूटर से जुड़ी चीजें जैसे प्रोग्रामिंग, नेटवर्किंग तथा अन्य skills का प्रयोग किसी टेक्निकल समस्या को सुलझाने हेतु करता है।

परंतु जानकारी के अभाव की वजह से आम तौर पर लोग हैकर को आज भी एक नकारात्मक दृष्टि से देखते हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्हें लगता है कि हैकर शब्द उन लोगों के लिए है जो कंप्यूटर से जुड़ी गलत गतिविधियों में शामिल रहते हैं।

वे साइबर अपराध जैसे किसी का अकाउंट हैक करना, बैंक करप्ट करना जैसे कार्यो में लिप्त रहते हैं।।

लेकिन सच्चाई इसके विपरीत है एक हैकर किसी कंपनी, संस्था के लिए बेहद उपयोगी व्यक्ति होता है जो कई टेक्निकल प्रॉब्लम्स का पता करके उन्हें सुलझाने में मदद करता है।

हैकर द्वारा किए जाने वाले कार्य अच्छे एवं बुरे दोनों हो सकते हैं इसलिए इनके कार्यों के अनुसार हैकर्स को अलग-अलग Types में बांटा गया है आइए समझते हैं

हैकर्स के प्रकार

Types of Hackers in Hindi

1. White hat hacker

इस प्रकार के Hackers को एथिकल हैकर्स भी कहा जाता है। क्योंकि इस प्रकार के हैकर्स कभी भी आपराधिक गतिविधियों में शामिल नहीं होते अर्थात इनका उद्देश्य किसी भी computer system को नुकसान पहुंचाना नहीं होता। बल्कि यह किसी कंप्यूटर या नेटवर्क में आ रही कमियों का पता कर उन्हें दूर करने का कार्य करते हैं।

इन्हें आप अच्छे हैकर्स भी कह सकते क्योंकि इनका कार्य illegal नहीं होता। इसलिए IT इंडस्ट्री में इस समय अनुभवी एथिकल हैकर्स की भारी मांग है। क्योंकि टेक्नोलॉजी से जुड़ी कई सारी कंपनियां आज Penetration Testing& vulnerability assessments के लिए white hat hackers को उच्च सैलरी पैकेज पर काम करने का सुविधा देती।

2. Black hat hackers

कालाकोट काली टोपी पहन कर हैकिंग की गतिविधि में शामिल इन हैकर्स को Black Hat Hackers के नाम से भी जाना जाता है। जिनका उद्देश्य किसी कंप्यूटर सिस्टम या नेटवर्क को बिना अनुमति के Access कर उसमें मौजूद संवेदनशील जानकारी को प्राप्त करना, उसे नुकसान पहुंचाना होता है।

इसलिए भारत अमेरिका या दुनिया के अनेक देशों में Black Hat Hacking गैरकानूनी मानी जाती है। क्योंकि दूसरों को नुकसान पहुंचाने के उद्देश्य से यह हैकिंग की जाती है साइबर क्राइम भी इसी हैकिंग का एक पार्ट है। क्योंकि ब्लैक हट हैकर्स का एकमात्र उद्देश्य किसी भी व्यक्ति, कंपनी या संस्था के महत्वपूर्ण डाटा को नुकसान पहुंचाना होता है।

3. Grey Hat hackers

यह भी है हैकर्स का एक मुख्य प्रकार है जो Black Hat Hacking और White Hat Hacking दोनों का मिश्रण है। ग्रे हट हैकर्स की श्रेणी में आने वाले हैकर्स का उद्देश्य किसी भी तरह से किसी कंपनी या ऑर्गेनाइजेशन को सीधे तौर पर नुकसान पहुंचाना नहीं होता है लेकिन यह अपने मजे के लिए अपने फायदे के लिए किसी सिक्योरिटी weakness का लाभ लेते हैं बिना किसी Owner की परमिशन के

कई सारे लोग Grey hat Hacking को इसलिए अंजाम देते हैं क्योंकि यदि किसी कंपनी के कंप्यूटर नेटवर्क में कोई कमी पता चल जाए तो वे इसके Owner को उसकी जानकारी पहुंचाते हैं ताकि उन्हें इस कमी का पता लगाने के बदले कुछ इनाम मिल सके!

तो यह थे हैकर्स के कुछ प्रसिद्ध प्रकार लेकिन इनके अलावा भी इस श्रेणी में कुछ अन्य हैकर्स आते हैं जिनकी जानकारी निम्नलिखित है।

4. Red hat hacker

लाल टोपी पहने इन हैकर्स को Red Hat Hackers कहा जाता है जो White और Black Hat हैकर्स दोनों को मिलाकर काम करते हैं।

आमतौर पर Red hat Hacker सरकारी एजेंसी कोई informational hub को अटैक करते हैं। क्योंकि इनका उद्देश्य भी किसी प्रकार की सेंसेटिव information को पता करना होता है।

5. Blue Hat Hackers

ब्लू Hat हैकर को Security प्रोफेशनल्स भी कहा जाता है! क्योंकि इनका इस्तेमाल एक सिक्योरिटी कंसलटिंग फर्म के तौर पर किया जाता है। एग्जांपल के लिए जब भी कोई एक सॉफ्टवेयर लॉन्च किया जाता है तो उसमें आने वाले एरर्स, Bugs की जानकारी पहुंचाना इनका कार्य होता है।

ताकि जल्दी से जल्दी उस समस्या को Fix किया जा सके, दुनिया की प्रसिद्ध कंपनी माइक्रोसॉफ्ट भी Blue Hat Hackers का इस्तेमाल विंडोज की कमियों का पता लगाने के लिए करती है।

6. Elite hackers

Elite hackers को आप प्रो हैकर्स भी कह सकते हैं। क्योंकि यह हैकर्स की एक ऐसी कम्युनिटी है जहां पर यह देखा जाता है कि कौन अपने फील्ड में सबसे ज्यादा एक्सपर्ट है! इनके पास कंप्यूटर नेटवर्क हैकिंग से संबंधित एडवांस जानकारी होती है।

7. Script kiddie

हैकर्स की श्रेणी में आने वाली इस टाइप के हैकर्स Hacking में Expert नहीं होते। आमतौर पर यह automatic tools जो किसी हैकर्स द्वारा डिवेलप किये गए है, उन्हीं का इस्तेमाल कंप्यूटर नेटवर्क में करते हैं। इन्हें हम इस फील्ड के Beginner के तौर पर भी संबोधित कर सकते हैं इसलिए इन हैकर्स के लिए kiddie term का उपयोग किया गया है।

तो यह थे हैकिंग के इन सभी प्रमुख टाइप्स जिन्हें पढ़ने के बाद अब आप यह डिसाइड कर चुके होंगे कि मुझे अगर hacking सीखनी है तो कैसे एथिकल हैकिंग सीखी जा सकती है? क्योंकि यह Leegal है तो आइए जानते हैं कैसे आप एथिकल हैकिंग कोर्स करके एक प्रोफेशनल हैकर बन सकते हैं।

Ethical हैकर बनने के लिए क्या करे और योग्यता

How to Become A Hacker in hindi

सबसे पहले बात करेंगे हम Educational qualification की तो हैकर बनने के लिए आपके पास कंप्यूटर साइंस & information technology से जुड़े किसी भी सब्जेक्ट में बैचलर डिग्री होनी चाहिए।

BSc, BTech, BCA में से किसी में भी आपने बैचलर डिग्री प्राप्त की है या फिर कंप्यूटर नेटवर्किंग और इससे जुड़ा कोई Advance डिप्लोमा कोर्स किया है तो आप एथिकल हैकिंग का कोर्स कर सकते हैं।

भारत के विभिन्न राज्यों में आज एथिकल हैकिंग की पढ़ाई हेतु Courses करवाए जाते हैं लेकिन यदि आप किसी जाने-माने इंस्टिट्यूट से एथिकल हैकिंग का कोर्स करते हैं तो IT की किसी बड़ी कंपनी में अच्छे सैलेरी पैकेज के साथ कार्य करने की संभावनाएं बढ़ जाती हैं।

एथिकल हैकिंग कोर्स के लिए इंटरनेशनल सर्टिफिकेट

  • Certified Ethical Hacker (EC-Council)
  • Certified Hacking Forensic Investigator (EC-Council)
  • GIAC Certified Penetration Tester (GPEN) by SAN and GIAC
  • Certified Intrusion Analyst (GCIA)

हैकर बनने के लिए कौन कौन सी टेक्निकल नॉलेज की जरूरत पड़ती है?

यदि आप हैकर बनना चाहते हैं तो कंप्यूटर का ज्ञान आपके पास होना चाहिए।

आपको कंप्यूटर ऑपरेट करने के साथ-साथ कंप्यूटर की प्रोग्रामिंग भाषाओं में जैसे HTML, C++, Java, Python, PHP इत्यादि का ज्ञान होना चाहिए। हालांकि यदि आपको इन सभी प्रोग्रामिंग भाषाओं का पूर्ण ज्ञान नहीं भी है तब भी आप हैकिंग कर सकते हैं।

लेकिन संभव हो ज्यादा से ज्यादा प्रोग्रामिंग भाषाओं को सीखने की कोशिश करें जैसे कि Php, Mysql इत्यादि यह आपको इस फील्ड में काफी मदद करती हैं

हैकर बनने के लिए नेटवर्किंग का ज्ञान होना चाहिए

जी हां हैकिंग में नेटवर्किंग बेहद काम आती है। इसलिए यदि आप आज या भविष्य में कभी भी हैकर बनना चाहते हैं तो कंप्यूटर का ज्ञान इसके अंतर्गत उपयोग होने वाले Elements जैसे LAN, cables इत्यादि को बारीकी से समझें।

Institutes offering Courses for Ethical Hacker

Hacking सीखने हेतु भारत में कई ऐसे जाने-माने इंस्टिट्यूट हैं। जहां से आप हैकिंग की पढ़ाई कर सकते हैं।

हैकिंग की कोशिश के लिए यह इंस्टीट्यूट आपको विभिन्न प्रकार के कोर्स उपलब्ध कराते हैं। यहां हम आपको भारत के कुछ प्रसिद्ध Ethical हैकिंग इंस्टीट्यूट और उनके द्वारा उपलब्ध कराए जाने वाले हैकिंग कोर्स के नाम बताने जा रहे हैं ।

College/ University Name Courses
DOEACC/NIELIT, Calicut PG Diploma in Information Security and System Administration
Reliance World Outlets Ankit Fadia Certified Ethical Hacker Course
Institute of Information Security CISSP Training Certified Professional Forensics Consultants Certified Information Security
Consultant Certified Professional Hacker
University of Madras
MSc in Cyber Forensics and Information Security
International Institute of Information Technology MTech in Computer Science and Information Security
SRM University MTech in Information Security and Computer Forensic
Kalasalingam University MTech in Information Assurance and Security

Ethical hacking course में पढ़ाए जाने वाले सब्जेक्ट

एथिकल हैकिंग कोर्स करने के दौरान आपको system hacking security से लेकर Virus, Trojans, Backdoors के विषय पर विस्तारपूर्वक जानकारी दी जाती है। हैकिंग कोर्स मैं पढ़ाए जाने वाले टॉपिक्स की जानकारी निम्नलिखित है।

  • Cyber Ethics-Hacking Introduction
  • Information Gathering 1
  • Information Gathering 2
  • Scanning 1
  • Scanning 2
  • Google Hacking Database
  • Virus, Worms – Virus Analysis
  • Trojans & Backdoors
  • Sniffers & keyloggers
  • Social Engineering
  • Email, DNS, IP spoofing
  • HoneyPots
  • System Hacking & Security

Website hacking and security course

Hacking का यह कोर्स वेबसाइट को हैक होने से बचाने वाले लोगों को समर्पित है। इस कोर्स में आपको सभी टॉपिक्स की थ्योरी एवं प्रैक्टिकल्स जानकारी दी जाती है जिससे वेबसाइट को हैक होने से रोकने के कारणों का पता लगाने की पूर्ण जानकारी मिल सके।

इस कोर्स में आपको वेबसाइट बनाने के लिए Coading की प्रेक्टिस करने से लेकर वेबसाइट पर सायबर अटैक होने की पूरी प्रोसेस की जानकारी दी जाती है!

इस कोर्स में पढ़ाए जाने वाले टॉपिक्स की जानकारी नीचे दी गई है।

  • Vulnerability Research
  • SQL Injection 1
  • SQL Injection 2
  • XSS Attacks & Countermeasures
  • LFI/ RFI Attacks & Countermeasures
  • Information Disclosure Vulnerabilities
  • Buffer Overflow & Session Hijacking Attacks
  • Vulnerability Assessment & Penetration Testing
  • Exploit Writing
  • Secure Coding Practices

Mobile & Wireless Security

मोबाइल-वाईफाई इत्यादि हैकिंग को रोकने हेतु अलग से कोर्स कराए जाते हैं! जिन कोर्सेज में हैकर्स द्वारा हैकिंग के लिए अंजाम दिए जाने वाली गतिविधियों के बारे में तथा उनसे आप कैसे खुद को प्रोटेक्ट कर सकते हैं। इसकी जानकारी दी जाती है इसके सभी कोर्सेज में पढ़ाए जाने वाले टॉपिक्स नीचे दिए गए है।

  • Wireless Hacking & Security
  • SMS Forging & Countermeasures
  • VoIP Hacking & Countermeasures

Ethical hacking में कैरियर कैसे बनाये

एक गवर्नमेंट संस्था से लेकर, बड़ी बड़ी फाइनेंस कंपनियां तथा बिजनेस आज Online हो चुके है। जिस वजह से ग्राहकों तक उनकी पहुंच आसान हो चुकी है लेकिन इसके साथ-साथ खुद को ऑनलाइन सुरक्षित रखने, किसी भी साइबर अपराध से बचने हेतु संस्थाएं अपनी IT team में एथिकल हैकर्स को शामिल कर रही हैं।

जो उन्हें कंप्यूटर सिस्टम एवं नेटवर्क में आने वाली किसी भी सिक्योरिटी Leaks तथा कमियों का पता लगाकर उन्हें होने वाले नुकसान से बचा सके! इसलिए संक्षेप में कहें तो एथिकल हैकर्स की मांग IT industry में काफी बढ़ चुकी है।

इंटरनेशनल डाटा कॉर्प द्वारा किए गए सर्वे में आए आंकड़ों की बात करें तो IT sector में भारत में भी 77,000 नई वैकेंसी आने वाले सालों में निकलने वाली हैं! तो देखा जाए तो इस क्षेत्र में मौके& संभावनाएं बहुत हैं अतः आप एथिकल हैकर बनकर इसमें शानदार कैरियर देख सकते हैं।

हैकिंग कोर्स करने के बाद पेशेवर & अनुभवी हैकर्स के पास दूसरी कंपनियों में भी काम करने के अवसर होते हैं एक बार कंपनी द्वारा रिक्रूट किया गया तो फिर उन्नति के अवसर बढ़ते चले जाते हैं।

Ethical Hacker Salary

बात आती है कि सैलेरी पैकेजेस की तो चूंकि Ethical Hacking IT इंडस्ट्री का एक प्रतिष्ठित कार्य है जिसमें नौकरी पाना आसान तो बिल्कुल भी नहीं लेकिन यदि आप अपने इस सपने को हकीकत में बदल देते हैं तो सैलरी काफी अच्छी के सकते हैं।

वर्तमान स्थिति को देखें तो एक फ्रेशर एथिकल हैकर का सालाना सैलरी पैकेज 4.8 लाख हैं वही जिन आवेदकों के पास उच्च एकेडमिक क्वालीफिकेशंस और अनुभव है, वे इसी फील्ड में 30 लाख तक सालाना पैकेज ले रहे हैं।

तो दोस्तों यदि आप इस पोस्ट को अभी भी पढ़ रहे हैं तो मेरा दावा जरूर है, Ethical हैकिंग में जरूर आपकी रुचि होगी? या फिर आप इसको कैरियर बनाना चाह रहे होंगे।

क्योंकि एक डॉक्टर, इंजीनियर की तरह एथिकल हैकिंग भी एक सम्माननीय कार्य है। जिसमें अच्छे कैरियर की अपार संभावनाएं हैं जिसमें आपके लिए सफलता के दरवाजे खुले हुए हैं।

आपकी और दोस्तों:

तो दोस्तों ये था एक एथिकल हैकर कैसे बने. हम उम्मीद करते है की इस पोस्ट को पढ़ने के बाद आप सभी को पता चल गया होगा की एक एथिकल हैकर बनने के लिए क्या करना पड़ता है|

अगर आपको हमारी ये पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज इस पोस्ट को १ लाइक जरुर करे और अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और whatsapp पर भी अवश्य शेयर करे ताकि ज्यादा से ज्यादा लोगो को पता चल पाए की एक एथिकल हैकर कैसे बनते है. धन्येवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.