बैंक मैनेजर कैसे बने | बैंक में मैनेजर बनने के लिए क्या करे

बैंक मैनेजर कैसे बने: दोस्तों हमें जिंदगी अच्छे से जीने के लिए तीन चीजों की आवश्यकता होती है, जिसमें रोटी कपड़ा और मकान शामिल है। एक आदमी जब पैदा होता है और फिर जब 18 साल का हो जाता है, तब उसे इन तीनों चीजों की चिंता सताने लगती है, क्योंकि आदमी अपनी पूरी जिंदगी इन तीनों चीजों के पीछे ही गुजारता है।

यह तीनों चीजें पाने के लिए हमें अपने कैरियर को अच्छे से स्थापित करना होता है। भारत में जब विद्यार्थी 12वीं कक्षा को पास करते हैं, तो उसके बाद उन्हें अपने कैरियर की चिंता सताने लगती है, वह यही सोचते हैं कि अब आगे क्या करें, जिससे उनका एक अच्छा कैरियर बने और वह अपनी लाइफ में सेटल हो जाए।

अगर उन्हें समय पर सही गाइडेंस और मार्गदर्शन मिले, तो वह एक अच्छे कोर्स का चुनाव करके अपनी जिंदगी अच्छे से गुजार सकते हैं, साथ ही अपनी जिंदगी में अच्छा खासा पैसा कमा सकते हैं।

वैसे तो हमारे भारत देश में मुख्य रूप से 2 विभागों में नौकरियां मिलती है, जिसमें पहला होता है प्राइवेट विभाग और दूसरा होता है सरकारी विभाग।इसमें से अधिकतर छात्रों को सरकारी विभाग ही पसंद आता है|

क्योंकि सरकारी नौकरी में एक तो सैलरी बहुत ज्यादा होती है और ऊपर से इसमें प्राइवेट नौकरी की तरह नौकरी जाने या खोने की चिंता नहीं रहती है। सरकारी नौकरी में रिटायरमेंट के बाद भी बहुत सुविधाएं मिलती हैं जो अन्य नौकरी में नहीं मिलती।

खैर सरकारी नौकरी पाना अपनी-अपनी किस्मत की बात होती है, परंतु सरकारी क्षेत्र के अलावा प्राइवेट क्षेत्र में भी कुछ ऐसी नौकरियां है, जिनमें कैरियर बनाने मे आपको कोई हर्ज नहीं होना चाहिए। उन्हीं में से एक नौकरी है बैंक मैनेजर की।

जी हां दोस्तों बैंक मैनेजर की नौकरी एक ऐसी नौकरी है, जिसमें आपको सरकारी नौकरी के जितना ही मासिक सैलरी मिलती है, तो अगर आप बैंक मैनेजर बनने में इंटरेस्टेड है और बैंक मैनेजर बनना चाहते हैं, तो आज के हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें|

क्योंकि आज के इस आर्टिकल में हम आपको बैंक मैनेजर कैसे बने, इसके बारे में पूरी जानकारी देने वाले हैं। आज के इस आर्टिकल में आप जानेंगे कि बैंक मैनेजर क्या है, बैंक मैनेजर बनने के लिए कौन सी पढ़ाई करनी पड़ती है, बैंक मैनेजर कौन-कौन से काम करता है, बैंक मैनेजर की सैलरी कितनी होती है, बैंक के मैनेजर बनने के लिए क्या-क्या योग्यता होनी चाहिए।

चलिए चलते हैं मुख्य मुद्दे पर और जानते हैं कि बैंक मैनेजर कैसे बना जाता है।

अनुक्रम दिखाएँ

बैंक मैनेजर कैसे बने

बैंक में मैनेजर बनने के लिए क्या करें

Bank manager kaise bane

आज के समय में बैंक मैनेजर की जॉब लोगों की पसंदीदा जॉब बन चुकी है और वर्तमान के समय में अधिकतर विद्यार्थी बैंक की जॉब प्राप्त करना भी चाहते हैं|

परंतु इस कंपटीशन के जमाने में किसी भी बैंक में नौकरी पाने के लिए अच्छी तैयारी के साथ साथ अधिक मेहनत भी करनी होती है। हमारे भारत देश में हर साल बैंकिंग सेक्टर में लाखों लोगों को नौकरी मिलती है।

इस फील्ड में सरकारी बैंक के साथ-साथ प्राइवेट बैंकों में भी हर साल नौकरी निकलती है।अगर आप एक बैंक मैनेजर बनना चाहते हैं, तो आपको इसके सिलेबस तथा बैंक मैनेजर के बारे में पूरी जानकारी होनी चाहिए, तभी आप बैंक मैनेजर बन पाएंगे, आइए जानते हैं कि बैंक मैनेजर किसे कहते हैं।

1. बैंक मैनेजर किसे कहते हैं

बैंक मैनेजर किसी भी प्राइवेट अथवा सरकारी बैंक शाखा का प्रमुख अधिकारी होता है। बैंक मैनेजर रोज होने वाले लेनदेन, मैनेजमेंट, कर्मचारियों का समर्थन, ग्राहकों के साथ संपर्क स्थापित करना, सिस्टम की जानकारी तथा अपनी योग्यता का इस्तेमाल करके बैंक का अच्छे से संचालन करता है|

और बैंक मैनेजर जिस बैंक में काम करता है, वह उस बैंक की शाखा को फायदे में हमेशा रखने का प्रयास करता है।

2. बैंक मैनेजर बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

अगर आप बैंक मैनेजर बनना चाहते हैं, तो इसके लिए आपके अंदर कुछ योग्यता होनी चाहिए। इसकी जानकारी हमने आपको नीचे दी है।

अगर आप सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको भारत की किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करनी होगी और आपके ग्रेजुएशन में 60% अंक होने भी जरूरी है|

वही अगर आप प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आपको भारत के किसी भी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से 55% अंकों के साथ ग्रेजुएशन की डिग्री पूरी करनी होगी।

मार्केटिंग विभाग के लिए मार्केटिंग में विशेषज्ञता के साथ पीजीडीबीएम या फिर एमबीए की डिग्री आपके पास होनी चाहिए।

इसके अलावा एचआर और पर्सनल विभाग के लिए पर्सनल मैनेजमेंट/इंडस्ट्रियल रिलेशंस/ एचआर/ एचआरडी/ सोशल वर्क/ लेबर लॉ में पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री, आईटी विभाग के लिए 4 साल का इंजीनियरिंग डिग्री अथवा इलेक्ट्रॉनिक्स आदि में पोस्ट ग्रेजुएशन की डिग्री अथवा डोएक ‘बी’ लेवल का सर्टिफिकेट जरूरी है।

3. बैंक मैनेजर बनने के लिए उम्र सीमा की जानकारी

अगर आप सरकारी बैंक में मैनेजर का पद प्राप्त करना चाहते हैं, तो इसके लिए आप की उम्र 20 साल से लेकर 30 साल के बीच होनी चाहिए, वही जो लोग प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करना चाहते हैं, उनकी उम्र 21 साल से लेकर 30 साल के बीच होनी चाहिए।

4. बैंक मैनेजर की सैलरी की जानकारी

इस सवाल का जवाब बहुत से लोग इंटरनेट पर ढूंढ रहते हैं, कि आखिर एक बैंक मैनेजर को महीने की सैलरी कितनी मिलती है, तो हम आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, बैंक मैनेजर को महीने की सैलरी के रूप में 20000 से लेकर ₹60000 तक मिलते हैं|

तथा वक्त बीतने के बाद इनके वेतन में बढ़ोतरी भी होती है। इसके अलावा बैंक मैनेजर को पीएफ और ग्रेजुएटी का लाभ भी मिलता है, साथ ही इन्हें साल में कुछ छुट्टियां भी मिलती है जिसे इंग्लिश में लीव कहा जाता है।

5. बैंक मैनेजर बनने के स्टेप

दुनिया के किसी भी देश में दो तरह की बैंके होती है, जिनमें एक सरकारी बैंक होती है, तो दूसरी प्राइवेट बैंक होती है और इन दोनों बैंकों में सिलेक्शन की प्रक्रिया अलग-अलग होती है।

भारत की सभी राष्ट्रीय बैंक (भारतीय स्टेट बैंक को छोड़कर) में नौकरी पाने के लिए आपको आईबीपीएस के द्वारा आयोजित कराई जाने वाली संयुक्त परीक्षा को पास करना जरूरी है।

अगर आप इस परीक्षा में फेल हो जाते हैं, तो आप बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करने के लिए आगे की प्रक्रिया में शामिल नहीं हो सकते, इसीलिए आपको इस परीक्षा को अच्छे अंकों के साथ पास करना जरूरी है।

6. सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर की नौकरी कैसे पाएं

जो अभ्यर्थी सरकारी बैंक में बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करना चाहता है, उसे बैंक मैनेजर का पद प्राप्त करने के लिए सबसे पहले आईबीपीएस के द्वारा आयोजित कराई जाने वाली परीक्षा को पास करना जरूरी है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि, आईबीपीएस के द्वारा आयोजित कराई जाने वाली संयुक्त परीक्षा में हर साल लाखों विद्यार्थी शामिल होते हैं, परंतु उनमें से कुछ ही लोग सफल होते हैं।

इस परीक्षा में सफलता पाने के लिए विद्यार्थियों को मेहनत के साथ-साथ टाइम टेबल के अनुसार अपनी पढ़ाई करनी होती है और सभी विषयों का अच्छे से अध्ययन करना होता है।

शायद आप जानते न हो परंतु आईबीपीएस के द्वारा लगभग 20 बैंकों के लिए अभ्यर्थियों का चयन किया जाता है।

7. प्राइवेट बैंक में बैंक मैनेजर की नौकरी कैसे पाएं

भारत में सरकारी बैंक के अलावा बहुत सी प्राइवेट बैंक भी है, जिनमें भारत की मुख्य प्राइवेट बैंक एचडीएफसी बैंक, एक्सिस बैंक इत्यादि है।

प्राइवेट बैंक में नौकरी पाने के लिए विद्यार्थियों को पीओ की परीक्षा को पास करना जरूरी होता है। कहने का मतलब है कि, जब आप बैंक में पीओ की परीक्षा को पास कर लेंगे, तो उसके बाद आप नौकरी पा सकते हैं।

8. बैंक मैनेजर बनने के लिए सिलेक्शन प्रोसेस

  • प्रारम्भिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • साक्षात्कार
  • समुह विचार-विमर्श

9. बैंक मैनेजर बनने के लिए प्रारंभिक परीक्षा

बैंक में मैनेजर बनने के लिए, जो प्रारंभिक परीक्षा होती है। उसे अंग्रेजी में प्रिलिमनरी एक्जाम कहा जाता है। यह बैंक में मैनेजर बनने के लिए पहला चरण होती है।

इस परीक्षा के अंतर्गत अभ्यर्थी को लिखित परीक्षा देनी होती है, जिसमें सामान्य ज्ञान और करंट अफेयर, जनरल इंग्लिश, गणित और मेंटल एबिलिटी से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं।

जब अभ्यर्थी इस परीक्षा को देकर, इस परीक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लेता है, तो उसके बाद उसे मुख्य परीक्षा अर्थात मेन एग्जाम में शामिल होना पड़ता है।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि प्रारंभिक परीक्षा में तीन अलग-अलग वर्गों से 100 सवाल पूछे जाते हैं, जिसमें मात्रात्मक योग्यता से 35 सवाल,तर्कसंगतता से 35 प्रश्न और अंग्रेजी भाषा से 30 प्रश्न पूछे जाते हैं।इस तरह टोटल 100 सवाल पूछे जाते हैं।

10. बैंक मैनेजर बनने के लिए मुख्य परीक्षा

जो अभ्यर्थी बैंक मे मैनेजर बनने के लिए आयोजित प्रारंभिक परीक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लेते हैं, उन्हें प्रारंभिक परीक्षा को पास करने के बाद बैंक मैनेजर बनने के लिए मुख्य परीक्षा में शामिल होना पड़ता है।

इस परीक्षा में सबसे बड़ी बात यह है कि, इस परीक्षा में माइनस मार्किंग होती है अर्थात अगर आपने किसी सवाल का गलत जवाब दिया तो, आपके कुछ अंक कटेंगे। यह परीक्षा टोटल 80 अंकों की होती है।अभ्यर्थी को इस परीक्षा को पास करना बहुत ही जरूरी होता है।

11. बैंक मैनेजर बनने के लिए इंटरव्यू

जो अभ्यर्थी प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को सफलतापूर्वक पास कर लेता है, उसे उसके बाद साक्षात्कार अर्थात इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है।

इस इंटरव्यू में इंटरव्यू लेने वाले लोगों की टीम द्वारा अभ्यर्थी से देश की रोज की घटनाओं के बारे में, राजनीति के बारे में, भारत की अर्थव्यवस्था के बारे में, बिजनेस के बारे में, बाजार के बारे में, खेती के बारे में, इकोनॉमी के बारे में, अवार्ड के बारे में, भारतीय संविधान,मीडिया, भारतीय रिजर्व बैंक और बैंकिंग से जुड़े सवाल किए जाते हैं।

12. बैंक मैनेजर बनने के लिए समूह विचार विमर्श

बैंक में मैनेजर बनने के लिए सबसे आखरी के चरण में विद्यार्थियों को समूह चर्चा के लिए बुलाया जाता है। यह इंटरव्यू से मिलता जुलता है। इस प्रक्रिया के तहत कुछ अधिकारी अभ्यर्थियों को कोई एक विषय देते हैं|

जिसके बारे में अभ्यर्थी को अपने विचार और अपनी राय प्रकट करनी होती है।आपके द्वारा दिए गए विचार अथवा राय के द्वारा इंटरव्यू लेने वाले लोगों की टीम आपकी योग्यता का आकलन करती है।

13. बैंक में मैनेजर बनने के लिए परीक्षा से संबंधित महत्वपूर्ण विषय

#1 क्वानटेटिव एप्टीट्यूड

क्वानटेटिव एप्टीट्यूड के तहत संख्या प्रणाली, अनुपात और अनुपात, प्रतिशत और औसत, लाभ और हानि, मिश्रण और संकेत, सरल ब्याज और चक्रवृद्धि ब्याज, सरस और सूचकांक, समय और दूरी, मासिक – सिलेंडर, शंकु, क्षेत्र, अनुक्रम और श्रृंखला, क्रमपरिवर्तन संयोजन और संभाव्यता, चतुर्भुज समीकरण, डेटा व्याख्या आदि से सम्बंधित सवाल पूछें जाते है।

#2 रिजनिंग

रिजनिंग के अंतर्गत सारणीकरण, तार्किक तर्क, शब्दावली, इनपुट आउटपुट, कोडिंग डिकोडिंग, अल्फान्यूमेरिक सीरीज़, रैंकिंग / दिशा / वर्णमाला परीक्षण, डेटा दक्षता, कोडित असमानताओं, गैर मौखिक तर्क आदि से सम्बंधित सवाल पूछें जाते है।

#3 कंप्यूटर

संख्या प्रणाली, कंप्यूटर का इतिहास, हार्डवेयर, सॉफ्टवेयर, डेटाबेस (परिचय), संचार (मूल परिचय), नेटवर्किंग (लैन, वान), इंटरनेट (अवधारणा, इतिहास, कार्य पर्यावरण, अनुप्रयोग), सुरक्षा उपकरण, वायरस, हैकर, एमएस विंडोज और एमएस कार्यालय, तर्क गेट्स आदि से सम्बंधित प्रश्न पूछें जाते है।

#4 अंग्रेजी भाषा

इसके अंतर्गत, समझदारी, क्लोज टेस्ट, त्रुटि स्पॉटिंग, वाक्य सुधार, पैरा जुम्बल्स, शब्दावली, एकाधिक अर्थ शब्द, अनुच्छेद पूर्ण करने और विभिन्न प्रकार के नए पैटर्न प्रश्न पढ़ना आदि।

#5 करंट अफेयर

समाचार, बैंक आधारित समाचार, व्यापार समाचार, समझौते, नई नियुक्तियां, दौरे, सरकारी योजनाएं, पुरस्कार और सम्मान, शिखर सम्मेलन, समितियां, राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय, रिपोर्ट और सूचकांक, किताबें और लेखकों, रक्षा, खेल में बैंक के बारें में पूछा जाता है।

#6 बैंकिंग

भारतीय रिजर्व बैंक, आरबीआई का कार्य, बैंकिंग विनियमन अधिनियम, बैंकिंग विनियमन अधिनियम 1 9 4 9, नीति दरें, लेखा के प्रकार, निगमित उपकरण अधिनियम 1881, बैंकिंग योजना 2006, वित्तीय समावेश, प्राथमिकता ऋणदाता, पैसा बाजार उपकरण, पूंजी बाजार आदि के बारें में पूछा जाता है।

14. बैंक में कैरियर

बैंकिंग की फील्ड में जाने के लिए आपको भारत सरकार के द्वारा मान्यता प्राप्त किसी भी इंस्टिट्यूट से ग्रेजुएशन की डिग्री करना जरूरी है। बैंकिंग में जाने के लिए आप इंस्टिट्यूट ऑफ़ बैंकिंग पर्सनल सिलेक्शन के द्वारा आयोजित कॉमन रिटन परीक्षा को पास करने के बाद बैंक में क्लर्क, प्रोबेशनरी ऑफिसर, मैनेजमेंट ट्रेनी और स्पेशलिस्ट ऑफिसर जैसे विभिन्न पदों पर नौकरी प्राप्त कर सकते हैं।

बैंकिंग के क्षेत्र में रोजगार की बहुत अधिक संभावनाएं हैं, क्योंकि भारत का हर आदमी किसी न किसी प्रकार से बैंकिंग से जुड़ा हुआ है। बैंकिंग का सेक्टर हमारे भारतीय अर्थव्यवस्था का सबसे जल्दी से विकास करने वाला सेक्टर है।

15. बैंक मैनेजर बनने में कितना समय लगता है?

दोस्तों अगर आपने बैंक पीओ की परीक्षा को पास कर लिया है, तो उसके बाद आपको कम से कम 5 साल लग जाते हैं। बैंक का मैनेजर बनने के पहले शुरुआत में आपको बैंक ऑफिसर की पोस्ट मिलती है।

फिर कुछ सालों के बाद आपको बैंक में असिस्टेंट बैंक मैनेजर की पोस्ट पर काम करना पड़ता है। उसके बाद ही जब आपका प्रमोशन होता है, तो आप बैंक के मैनेजर बनते हैं, बैंकों में तुरंत ही कोई मैनेजर नहीं बन सकता।

16. बैंक मैनेजर को कौन सी सुविधाएं मिलती है

एक बैंक मैनेजर को विभिन्न प्रकार की सुविधाएं मिलती हैं। बैंक मैनेजर को रहने के लिए फ्लैट मिलता है, इसके अलावा उन्हें हेल्थ इंश्योरेंस, क्रेडिट कार्ड, फ्री न्यूज़पेपर, फ्री बिजली बिल, काम करने के लिए एक नौकर तथा अन्य सुविधाएं मिलती हैं।

इसके अलावा बैंक मैनेजर को पीएफ और ग्रेजुएटी का लाभ भी मिलता है, साथ ही उन्हें 1 साल में कुछ छुट्टियां भी मिलती है। बैंक मैनेजर का पद काफी जिम्मेदारी वाला होता या फिर ऐसा कह सकते हैं कि किसी बैंक की किसी एक शाखा की पूरी जिम्मेदारी बैंक मैनेजर की होती है।बैंक में काम करने वाले अन्य लोग बैंक मैनेजर के अधीन काम करते हैं।

17. बैंक का मैनेजर बनने के लिए परीक्षा की तैयारी कैसे करें

दोस्तों इस परीक्षा की तैयारी भी वैसे ही होती है, जैसे अन्य पदों की परीक्षा की तैयारी होती है।

बैंक मैनेजर की परीक्षा की तैयारी करने के लिए आप इसके पूर्व में जितने भी पेपर हुए हैं, उन्हें इकट्ठा करने का प्रयास करें और उसमें दिए गए सवालों को हल करने की कोशिश करें।

ऐसा करने से आपको इस पेपर के सिलेबस और पेपर स्टाइल के बारे में जानकारी मिलेगी तथा कौन से प्रश्न कितने अंक के होते हैं, इसके बारे में भी पता चलेगा।

बैंक मेनेजर की परीक्षा की तैयारी करने के लिए सबसे पहले आप यह देखें कि आपका कौन सा विषय मजबूत है तथा कौन सा विषय कमजोर है, आपका जो भी विषय कमजोर हो उस विषय पर विशेष ध्यान दें।

बैंक मैनेजर की परीक्षा की तैयारी करते समय आपको किसी अन्य सरकारी नौकरी की परीक्षा की तैयारी नहीं करनी चाहिए, क्योंकि बाकी एग्जाम और बैंक एग्जाम के सिलेबस में बहुत अंतर होता है।

अगर आप दो नाव पर सवार होंगे, तो आप किसी में भी सफलता प्राप्त नहीं कर पाएंगे। हालांकि अगर किसी कारणवश आपको एक समय में ही दो परीक्षाओं की तैयारी करनी पड़े तो, दोनों परीक्षाओं में बैलेंस बनाकर चलें। दोनों परीक्षाओं का समान रूप से अध्ययन करें।

बैंक एग्जाम की तैयारी करने के लिए आप अपने घर के आस-पास स्थित किसी अच्छे कोचिंग इंस्टिट्यूट का सहारा ले सकते हैं। अगर आपके घर के आसपास कोई अच्छा कोचिंग इंस्टिट्यूट नहीं है, तो आप ऑनलाइन पढ़ाई भी कर सकते हैं।

ऑनलाइन पढ़ाई करने के लिए आप सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म यूट्यूब का सहारा भी ले सकते हैं, क्योंकि आज के समय में यूट्यूब पर एजुकेशन से संबंधित ऐसे कई चैनल है, जो ना सिर्फ बैंक मैनेजर बल्कि भारत की अन्य बड़ी-बड़ी परीक्षाओं की तैयारी भी करवाते हैं।

18. भारत के कुछ प्रसिद्ध बैंकों की लिस्ट

  • आईसीआईसीआई बैंक
  • एचडीएफसी बैंक
  • स्टेट बैंक ऑफ इंडिया
  • बैंक ऑफ इंडिया
  • बैंक ऑफ बड़ौदा
  • यूनियन बैंक
  • यूको बैंक
  • पंजाब नेशनल बैंक
  • बैंक ऑफ महाराष्ट्र
  • कोटक महिंद्रा बैंक
  • एचडीबी बैंक
  • एक्सिस बैंक
  • इंडसइंड बैंक
  • पेटीएम पेमेंट बैंक
  • ओरिएंटल बैंक ऑफ कॉमर्स
  • पीएमसी बैंक

आपकी और दोस्तों

तो दोस्तों यह था बैंक मैनेजर कैसे बने, हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सभी को पता चल गया होगा कि किसी भी बैंक में मैनेजर बनने के लिए क्या करना पड़ता है|

अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो प्लीज इस पोस्ट को अपने दोस्तों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर शेयर करना ना भूले|

क्योंकि हम चाहते हैं कि अधिक से अधिक लोगों को यह पता चल पाया कि बैंक में मैनेजर बनने की तैयारी कैसे करें धन्यवाद दोस्तों|

Spread the love

Leave a Comment

Your email address will not be published.