बैंक क्लर्क कैसे बने | बैंक क्लर्क बनने की तैयारी कैसे करे

बैंक क्लर्क कैसे बने: जब से प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी जी ने जनधन योजना की शुरुआत की है, तब से ही हमारे देश में कई खाते जन धन योजना के तहत खोले गए हैं।अक्सर जब आप बैंक जाते है|

तो आपको बैंक क्लर्क का नाम सुनने को जरूर मिलता है। लगभग सभी व्यक्ति का किसी न किसी बैंक में खाता होता ही है, इसीलिए हर आदमी रोज या फिर महीने में एक बार बैंक जरूर जाता है।

हम जब बैंक जाते हैं तो हम वहां पर काम करने वाले कर्मचारियों को देखकर यही सोचते हैं कि आखिर इन्हें बैंक में कैसे और किस आधार पर बैंक ने नौकरी दी है।

वैसे तो बैंक में काम करने के लिए अलग-अलग पद होते हैं, लेकिन जो व्यक्ति ग्राहकों के साथ लेनदेन का काम करता है उसे बैंक क्लर्क कहा जाता है और एक बैंक क्लर्क को कैश का काम भी देखना होता है, इसीलिए बैंक क्लर्क को क्लर्क कम कैशियर भी कहा जाता है।

अगर हम थोड़े समय पहले की बात करें तो कुछ समय पहले बैंक क्लर्क की नौकरी को हीन भावना से देखा जाता था, बल्कि लोग इस नौकरी का मजाक उड़ाते थे।

लोग कहते थे कि तुम्हारी हैसियत बैंक में क्लर्क बनने तक की भी नहीं है, परंतु जब आज बेरोजगारी ज्यादा है, तो गवर्नमेंट संस्था में एक चपरासी अच्छी पगार पा रहा है|

इसीलिए आज कई लोग बैंक क्लर्क बनने की भी इच्छा रखते हैं, क्योंकि बैंक क्लर्क को भी आज अच्छी पगार मिलती है, तो अगर आप भी बैंक क्लर्क बनना चाहते हैं तो आज के हमारे इस आर्टिकल को पूरा अवश्य पढ़ें।

बैंक क्लर्क कैसे बने
बैंक क्लर्क बनने की तैयारी कैसे करें

bank clerk kaise bane

दोस्तों इससे पहले कि हम आपको बताएं कि प्राइवेट या सरकारी बैंक क्लर्क कैसे बने चलिए थोड़ा बात कर लेते हैं कि एक बैंक क्लर्क क्या होता है. दोस्तों इस पोस्ट में हम आपके साथ बैंक क्लर्क की तैयारी कैसे करते हैं और किसी प्राइवेट या गवर्नमेंट एक बैंक क्लर्क बनने के लिए क्या करना पड़ता है उसकी पूरी जानकारी भी देने वाले हैं.

भारत में वैसे बहुत सारे बैंक हैं जैसे कि HDFC, SBI, Bank of baroda, State Bank of India, PNB, ICICI और इसके अलावा बहुत सारे बैंक हैं.

यदि आप हमारी पोस्ट को पूरा पढ़ते हैं तब आप इनमें से किसी भी बैंक में क्लर्क की नौकरी बहुत आसानी से पा सकते हैं.

1. बैंक क्लर्क क्या होता है

बैंक क्लर्क का पद आज के समय में बहुत ही महत्वपूर्ण पद माना जाता है और यह पद उन लोगों को दिया जाता है, जो बैंक क्लर्क बनने के लिए सभी योग्यताओं को पूरा कर लेते हैं।

आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बैंक क्लर्क की नौकरी फ्रंट ऑफिस की जॉब होती है।इसी के कारण बैंक क्लर्क, बैंक के सभी ग्राहकों को अच्छी सेवा देने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाता है।

जैसा कि हमने आपको ऊपर बताया कि बैंक क्लर्क बनने के लिए बैंक क्लर्क की परीक्षा को पास करना जरूरी होता है और इस परीक्षा को पास करने के लिए आपके पास नीचे बताई गई योग्यताएं होनी चाहिए।

2. बैंक क्लर्क बनने के लिए शैक्षिक योग्यता

जो भी व्यक्ति बैंक क्लर्क बनना चाहता है, उसे सबसे पहले किसी मान्यता प्राप्त यूनिवर्सिटी से ग्रेजुएशन की डिग्री प्राप्त करनी होती है। इसके अलावा उसके पास, वह जिस राज्य में रहता है|

उस राज्य की लोकल भाषा के ज्ञान के साथ-साथ अंग्रेजी भाषा पर भी अच्छी पकड़ होनी चाहिए, साथ ही उस व्यक्ति को कंप्यूटर की अच्छी जानकारी होनी चाहिए, क्योंकि बैंक में अधिकतर कंप्यूटर के द्वारा ही काम होता है। इसलिए उस व्यक्ति को कंप्यूटर सीखा हुआ होना आवश्यक है।

3. बैंक क्लर्क बनने के लिए उम्र

जो व्यक्ति बैंक क्लर्क बनना चाहता है, उसकी उम्र कम से कम 20 साल और ज्यादा से ज्यादा 28 साल होनी चाहिए, हालांकि जो लोग आरक्षण की श्रेणी में आते हैं, उन्हें सरकार द्वारा उम्र में छूट दी जाती है।

4. बैंक क्लर्क का काम

अगर हम बैंक क्लर्क के काम के बारे में बात करें तो, बैंक क्लर्क सीधा बैंकों में आने वाले ग्राहकों से जुड़ा हुआ होता है। यह बैंक द्वारा कस्टमर को दी जाने वाली सभी सेवाओं से सीधे तौर पर जुड़ा होता है। किसी भी बैंक में बैंक क्लर्क की अलग-अलग भूमिका होती है। जिसकी जानकारी हम आपको नीचे दे रहे हैं।

एक बैंक क्लर्क, बैंक में आने वाले ग्राहकों के चेक को पास करने का काम करता है। इसके अलावा अगर किसी ग्राहक को पैसे निकालने की पर्ची या फिर चेक भरना नहीं आ रहा तो वह उसे भी भर कर देता है।

जब कोई ग्राहक बैंक में खाता खुलवाने आता है, तो बैंक क्लर्क रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया द्वारा जारी केवाईसी से संबंधित निर्देशों का पालन करके ही खाता खोलता है और बैंक क्लर्क यह भी चेक करता है, कि जो व्यक्ति खाता खुलवाने आया है, उसके पास वैलिड एड्रेस प्रूफ, पहचान पत्र है या नहीं

बैंक क्लर्क बैंक में आने वाले ग्राहकों को अपनी बैंक की विशेषताओं के बारे में और उसकी सर्विस के बारे में भी बताता है।

एक बैंक क्लर्क ग्राहकों के खातों को समय-समय पर अपडेट करता है तथा उसका रखरखाव भी करता है।

यदि किसी ग्राहक ने कोई फॉर्म गलत भरा है, तो बैंक क्लर्क उस ग्राहक को फोन के द्वारा उसकी जानकारी भी देता है।

5. बैंक क्लर्क बनने के लिए परीक्षा

अगर आपको पता ना हो तो आपकी जानकारी के लिए बता दें कि बैंक क्लर्क बनने की परीक्षा का आयोजन आईबीपीएस संस्था करवाती है। आईबीपीएस का फुल फॉर्म होता है “इंडियन बैंकिंग पर्सनल सिलेक्शन बोर्ड”।

आईबीपीएस के माध्यम से बैंकों में क्लर्क और पीओ बनने के लिए भर्ती परीक्षा का आयोजन होता है, परंतु अगर हम भारतीय स्टेट बैंक की बात करें तो भारतीय स्टेट बैंक बैंकों में कर्मचारियों की भर्ती करने के लिए खुद से ही परीक्षा का आयोजन करवाती है।

इंडियन पर्सनल बैंकिंग बोर्ड संस्था बैंकों में क्लर्क की भर्ती करने के लिए परीक्षा का आयोजन तीन चरणों में करवाती है, जो इस प्रकार है।

  • प्रारंभिक परीक्षा
  • मुख्य परीक्षा
  • इंटरव्यू

6. प्रारंभिक परीक्षा

बैंक में क्लर्क बनने के लिए सबसे पहले अभ्यर्थी को प्रारंभिक परीक्षा देनी होती है। यह परीक्षा टोटल 100 नंबरों की होती है तथा इस परीक्षा को देने के लिए 1 घंटे का समय दिया जाता है। इस परीक्षा में कुल 3 पेपर होते हैं।

इसमें पहले पेपर में 35 अंक दूसरे पेपर में 35 अंक तथा तीसरे पेपर में 30 अंक होते हैं। इस परीक्षा में रिजनिंग,अंग्रेजी भाषा तथा न्यूमेरिकल एबिलिटी से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं।

7. मुख्य परीक्षा

जो अभ्यर्थी बैंक क्लर्क बनने के लिए प्रारंभिक परीक्षा को पास कर लेता है, उसे फिर मुख्य परीक्षा में शामिल होना पड़ता है। यह परीक्षा प्रारंभिक परीक्षा से थोड़ी सी कठिन होती है और इस परीक्षा में टोटल 190 सवाल पूछे जाते हैं और इस परीक्षा को देने के लिए 3 घंटे का समय दिया जाता है।
इस परीक्षा में सामान्य जागरूकता, रिजनिंग और कंप्यूटर एबिलिटी,क्वानटेटिव कैपेसिटी और सामान्य अंग्रेजी से संबंधित सवाल पूछे जाते हैं। यह परीक्षा टोटल 200 अंकों की होती है।

8. बैंक क्लर्क बनने के लिए इंटरव्यू

जो अभ्यर्थी बैंक क्लर्क बनने की प्रारंभिक परीक्षा और मुख्य परीक्षा को पास कर लेता है, उसे फिर पर्सनल इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है और जो अभ्यर्थी पर्सनल इंटरव्यू को भी पास कर लेता है, उसे फिर ट्रेनिंग के लिए भेजा जाता है।

इसके बाद उसकी ट्रेनिंग कुछ महीने या सालों में पूरी हो जाती है और फिर उसे बैंक में, बैंक क्लर्क के पद पर नियुक्ति प्रदान की जाती है।इस इंटरव्यू में अभ्यर्थी से देश और विदेश में हाल में ही घटित घटनाओं के बारे में, पॉलिटिक्स के बारे में, भारतीय अर्थव्यवस्था के बारे में, सामाजिक ज्ञान के बारे में, बिजनेस, मार्केट,खेती, किसान, खेल, पुरस्कार,भारतीय संविधान, मीडिया, भारतीय रिजर्व बैंक और बैंकिंग से संबंधित सवाल किए जाते हैं।

9. बैंक क्लर्क की सैलरी

जो अभ्यर्थी प्राइवेट बैंकों में बैंक क्लर्क की नौकरी करते हैं, उनकी महीने की तनख्वाह सरकारी बैंकों में काम करने वाले बैंक क्लर्क की तुलना में कम होती है।

प्राइवेट बैंक में बैंक क्लर्क की नौकरी करने वाले व्यक्ति की महीने की तनख्वाह 10,000 से लेकर ₹12000 के आसपास होती है, वही जो व्यक्ति सरकारी बैंकों में बैंक क्लर्क की नौकरी करता है, उसकी महीने की तनख्वाह 15000 से लेकर 20 हजार के आसपास होती है। इसके अलावा उसे पीएफ और ग्रेजुएटी के लाभ भी मिलते हैं। यह लाभ प्राइवेट बैंक में काम करने वाले बैंक क्लर्क को भी मिलते हैं।

10. बैंक क्लर्क बनने के लिए आवेदन प्रक्रिया

भारत में कई ऐसे बैंक हैं, जो हर साल बैंक क्लर्क के पद के लिए भर्तियां निकालती है। ऐसे में जब भर्तियां निकले, तब आप भर्ती का फॉर्म ऑनलाइन भर सकते हैं।

ऑनलाइन बैंक क्लर्क की भर्ती का फॉर्म भरने के लिए सबसे पहले जिस भी बैंक ने वैकेंसी निकाली है, उसकी ऑफिशल वेबसाइट पर जाएं और उसके बाद न्यू रजिस्ट्रेशन पर क्लिक करें तथा दिए गए नियमों का पालन करें।

इसके बाद अपनी डिटेल भरें और फिर अंत में रजिस्ट्रेशन फीस भरें और फिर अपना ऑनलाइन एप्लीकेशन सबमिट कर दें और उसकी एक प्रिंट निकाल कर अपने पास रख ले।

ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करते समय सभी जानकारी को भरना आवश्यक है। अगर आप सभी जानकारियां नहीं भरेंगे तो आपका रजिस्ट्रेशन कैंसिल हो जाएगा।

इसके अलावा जब आप ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन करते हैं, तो आप उसमें अपनी एक ईमेल आईडी भी डालते हैं, जो कि आगे आपके बहुत काम आती है, क्योंकि इस परीक्षा से जुड़ी सारी जानकारियां आपको आपकी ईमेल आईडी पर मिलती है। इसीलिए उस ईमेल आईडी को आप संभाल कर रखें।

रिलेटेड पोस्ट:

एसडीएम बनने के लिए क्या करे

पुलिस इंस्पेक्टर बनने के लिए क्या करे

गवर्नमेंट जॉब पाने के लिए क्या करना पड़ेगा

सरकारी नौकरी की तयारी कैसे करें

सिविल सर्विस में कैसे जाये

आपकी और दोस्तों

दोस्तों यह था प्राइवेट या सरकारी बैंक क्लर्क कैसे बने, हम उम्मीद करते हैं कि इस आर्टिकल को पढ़ने के बाद आप सभी लोगों को पता चल गया होगा कि एक बैंक क्लर्क बनने के लिए आपको क्या करना चाहिए.

अगर दोस्तों आपको हमारी पोस्ट अच्छी लगी हो तो प्लीज इस पोस्ट को एक लाइक अवश्य करें और अपने दोस्तों और घर परिवार वालों के साथ फेसबुक और व्हाट्सएप पर भी शेयर करना ना भूले.

क्योंकि हम चाहते हैं कि ज्यादा से ज्यादा लोगों को यह पता चल पाएगी प्राइवेट या सरकारी बैंक क्लर्क की तैयारी कैसे करते हैं धन्यवाद दोस्तों.

Leave a Comment

Your email address will not be published.