बात नहीं करने की शायरी

हेल्लो दोस्तों आज के इस पोस्ट में हम आपके साथ बात नहीं करने की शायरी शेयर करने वाले है जो की आप किसी भी लड़के, लड़की या अपने बॉयफ्रेंड या गर्लफ्रेंड के साथ शेयर कर सकते हो.

दोस्तों कई बार प्यार में कुछ बातों की वजह से प्रॉब्लम हो जाती है और आपका दिल बहुत दुखा होता है ऐसे में आपको उस लड़के या लड़की से बात करने का मन ही नहीं करता है.

तो दोस्तों चलो बिना कोई टाइम बर्बाद करते हुए सीधे इस पोस्ट की शुरुवात करते है.

बात नहीं करने की शायरी

baat-nahi-karne-ki-shayari

1
वह हमसे बात करने से भी कतराने लगे है
उन्हें बहुत गुरूर है अपने ऊपर बहुत इतराने लगे हैं अपने आप को समझते हैं वह कुछ
हमसे बात नहीं करने के बहाने बनाने लगी है

2
अगर आपको बात नहीं करनी हमसे
तो कह दिया करो
हम भी जबरदस्ती बात नहीं करते
और आप जैसों से हम भी मुलाकात नहीं करते

3
वह हमारा कॉल नहीं उठाते
हमसे बात नहीं करते
मोहब्बत ने भी नहीं है अब
हमसे इसीलिए वह हमसे मुलाकात नहीं करते

4
आज पता नहीं कैसा दिन आया है
मुझ पर यह कैसा दर्द- ए मौसम आया है
मेरा महबूब मुझसे बात नहीं कर रहा
और हर तरफ गम का साया है

5
मुझे भी अब नहीं मोहब्बत
जब वो बात नही करते
हम तड़पते रहते है
वो गेम रिप्लाई नही करते

6
मैंने उसके लिए सब कुछ किया है
मैं मुझसे बात करने की बहुत कोशिश किया है
पर वह मुझसे जब बात करना ही नहीं चाहती
तो मैंने भी है मुझसे बात करना छोड़ दिया है

7
पूरा दिन तुम्हारा इंतजार करता हूं
और तुम मुझसे बात नहीं करती
मैं तुमसे कितना प्यार करता हूं
और तुम एक मैसेज भी नहीं करती

8
कभी तो बात कर लिया करो
कभी तो मेरे पास आया करो
मुझे तुम यूं ना सताया करो

9
मैं तुम्हें कितना चाहता हूं
यह मैं तुम्हें बता नहीं सकता
मैं तुमसे कितनी करता हूं मोहब्बत
तुम्हे दिखा नहीं सकता

10
तुमसे प्यार मुझे इस कदर है
अगर तुम बात नहीं करती
तो मेरा दिल नहीं लगता
मुझसे खाना नहीं खाया जाता
और तुम नहीं होती हो जब मेरे पास
तो मुझसे जिया नहीं जाता

11
तुमसे बात करने के लिए हमने
सब कुछ छोड़ दिया
तुमसे प्यार किया हमने
सब से रिश्ता तोड़ दिया
और फिर भी तुम हमसे बात नहीं करती
यह तो बताओ हमने कौन सा गुनाह कर दिया

12
मैंने तुमसे बात करने के लिए क्या नहीं किया
मैंने चाहा तुमसे प्यार नहीं किया
फिर क्यों नहीं करती तुम मुझसे बात
क्या मैंने तेरा इंतजार नहीं किया

13
मैं तो सिर्फ तुमसे बात करने की ही मोहलत चाहता हूं
पर तुम मुझसे बात नहीं करती
हमेशा रहती हो गुस्से में
मुझसे कभी प्यार नहीं करती

14
मैंने तुम्हें हर वक्त मनाया है
मैंने तुम्हें हर वक्त चाहा है
पर तुमने तो मुझसे बात करना भी बंद कर दिया
जबकि मैंने तुमको कितना याद किया है

15
मैं तुमसे कितना प्यार करता हूं
यह तुम भी नहीं जानती
मैं तुम्हें कितना चाहता हूं
यह तुम भी नहीं जानती
मैं हर वक्त रहता हूं तुम्हारे इंतजार मैं
ये तुम भी नहीं जानती

16
तुमसे मोहब्बत हमें किस कदर है
यह शायद तुम्हें पता नहीं है
हम तुम्हारे कौन है शायद तुम्हें पता नहीं है
तुम हमसे बात ही नहीं करती
शायद तुम्हें हमारी मोहब्बत का अंदाजा नहीं है

17
बात कर लिया करो हमसे
शायद हम किसी दिन नहीं रहेंगे
तुम हमें ऐसे ही देखते रह जाओगे
और हम कहीं चले जाएंगे

18
एक दिन देख लेना
तुम हमसे बात करने के लिए तरस जाओगे
मुलाकात करने के लिए तरस जाओगे
मोहब्बत नहीं करते हैं हम तुमसे
तुम हमसे बात करने के लिए तरस जाओगे

19
आज जब मैं तुम्हारे पास नहीं है
तो तुम्हें मेरी याद आ रही है
जब मैं तुम्हारे पास था
तुम मुझसे बात भी नहीं करती थी
फिर आज क्यों मेरी याद तुम्हें इस कदर सता रही है

20
एक दिन तुम मुझसे बात करने के लिए तड़पेगी
पर मैं तुम्हें नहीं मिलूंगा
तुम हर जगह ढूंढ होगी मुझे
पर फिर भी मैं तुमसे बात नहीं करूंगा

21
तुम मुझसे क्यों बात नहीं कर रही हो
मेरे से ऐसा क्या गुनाह हो गया है
तुमको नहीं करती मुझसे प्यार
मुझसे ऐसी कौन सी खता हो गया है

22
मैंने तुमसे सिर्फ प्यार किया था
मैंने सिर्फ तुम्हारा इंतजार किया था
मेरी डायरी के पन्नों से पूछना
मैंने तुझसे बात करने के लिए कितना कुछ लिखा था

23
जब तू नहीं रही तो
मैंने अपने आप से ही बात कर लिया
और तूने नहीं किया मुझसे प्यार
तुम्हें किसी और से मुलाकात कर लिया
मैं बात करने के लिए तड़पता रहा
तूने तो किसी और से प्यार कर लिया

24
मोहब्बत मुझे तुमसे कितनी है
शायद तुम भी नहीं जानती
तुम मेरे से बात नहीं करती
शायद तुम मुझे नहीं पहचानते
मैं तुम्हारा इंतजार हर वक्त करता हूं
पर तुम मेरे नंबर को नहीं पहचानते

25
तुम तो मुझे याद भी नहीं रखती हो
तुम तो मुझे बात भी नहीं करती हो
मुझे नहीं पता
तुम अब किससे मुलाकात करती हो

26
थोड़ी तो मेरी मोहब्बत की कद्र की होती
थोड़ी तो मुझसे बात की होती
थोड़ी तुम मुझसे मुलाकात की होती
अरे तुमने क्यों छोड़ दिया मुझे अकेला
कभी तो मेरे दिल की बात जानी होती

27
मैंने तुमसे मोहब्बत इस कदर की थी
मैंने तुमसे चाहत किस कदर की थी
मैंने तुमसे इबादत किस तरह की थी
पर तुमने तो मुझसे बात करना ही छोड़ दिया
मैंने तुमसे मोहब्बत कितनी बेशुमार की थी

28
आजकल तो मैसेज का जमाना आ गया है
मोहब्बत के बीच में अफसाना आ गया है
वह बात नहीं करते हमसे और देखो
आज फिर उनका कोई नया बहाना आ गया है

29
उनकी बहाने तो दिन-ब-दिन बढ़ते ही जा रहे हैं
बात ना करने के सिलसिले के बढ़ते ही जा रहे हैं
शायद वह नहीं करना चाहते हमसे बात
और हम ही पागल हैं जो उन्हें मैसेज किए जा रहे हैं

30
मैंने उससे बात करने के लिए खाना तक नहीं खाया
मैंने उससे बात करने के लिए पानी तक नहीं पिया
वह मुझे इग्नोर करती रही
जबकि मैंने उसके लिए क्या कुछ नहीं किया

31
मैंने उससे बात करने के लिए
जब उसको कॉल किया
वह कहीं और ही बिजी थी
जब मैंने उसको मैसेज किया
उसने मेरा इंतजार नहीं किया
वो कहीं और ही चली गई
उसने मुझसे प्यार नहीं किया

32
इतना क्यों नाराज हो तुम
इतना क्यों परेशान हो तुम
क्यों तुम मुझे इस कदर सता रहे हो
बात नहीं कर के
मेरे दिल की धड़कनें बढ़ा रहे हो

33
मैं तुमसे मोहब्बत कितने की है
शायद यह तुम भी नहीं जानती
हमें तुमसे बात करने के लिए
किस कदर बेसब्र रहता हूं
तुम मेरी बेसब्री को नहीं पहचानते

34
मैंने तुमसे मोहब्बत बहुत की है
मैंने इश्क में तुमसे चाहत बहुत की है
बहुत चाहा है मैंने तुम्हे
और मैं तुमसे मुलाकात बहुत की है

35
एक बार तो बात कर लिया करो
थोड़ी ही सही बात कर लिया करो
किसी दिन मर जाएंगे हम
तुम कभी कभी तो हमें याद कर लिया करो

36
तुम मुझसे बात करना चाहोगी
पर शायद मैं इस दुनिया में नहीं रहूंगा
तुम मुझे प्यार करना चाहोगी
पर शायद मैं तुम्हारे पास नहीं आऊंगा

37
जिस दिन तुम्हें पछतावा अपनी गलती का हो जाएगा शायद फिर तुम्हें मेरा ख्याल आएगा
पर मैं नहीं रहूंगा तुम्हारे पास
शायद तुम्हें मेरी मोहब्बत पर सवाल आएगा

38
तुम मुझसे बात क्यों नहीं करती
शायद अब किसी और से बात करने लगी हो
मैं तो हम भी तुमसे मोहब्बत करता हूं
शायद तुम अब किसी और से करने लगी हो

39
मैंने हमेशा तुझसे बात करना चाहा है
मैंने हमेशा तुझ से बात की है
दिल रखने के लिए बात नहीं करता मैं
मैंने हमेशा तुझसे अपने दिल की बात की है

40
मैंने तुझे दिल दिया था
मैंने तेरे लिए सब कुछ किया था
तू मेरी थी मैं तुझे बता करता था
तू मेरी जान थी मैं तुझे समझा करता था

41
तूने शायद उस रिश्ते की कदर की होती
तूने शायद उस समय मुझसे बात की होती
तू तो मुझसे हमेशा गुस्सा रहा करती थी
शायद तूने कभी मेरे जज्बात समझी होती

42
मैं दुखी रहा हूं तभी मैंने तुमसे बात की है
मैं रोता रहा हूं फिर भी मैंने तूने हंसाया है
मैंने तुम पर कभी नही किया गुस्सा
और तुम मुझसे बात नहीं करती
तुमने मुझे हर वक्त रुलाया है

43
तुम मुझसे क्यों बात नहीं कर रही हो
तुम मुझसे क्यों मुलाकात नहीं कर रही हो
मैंने तुमसे कितनी मोहब्बत की
इसलिए तुम मुझसे बात नहीं कर रही हो

44
अभी बात कर लिया करो
शायद हम तुम्हें फिर कभी ना मिले
कभी मुलाकात कर लिया करो
फिर शायद हम तुम्हें कभी ना मिले
वक्त तो रहे हमारे पास
लेकिन फिर शायद हमें तुमसे
बात करने का वक्त ना मिले

45
मैं तुम्हें हर वक्त मानता हूं
मैं तुमसे हर वक्त बात करना चाहता हूं
तुम ही रहती हूं मुझसे रूठी हुई
मैं तो तुम्हें हर वक्त प्यार से बात करना चाहता हूं

46
तुम मुझे प्यार करती है ना
तो मुझसे ऐसे ही बात करती रहना
मैं भी तुम्हारा ख्याल रखा करूंगा
तुम बस हमेशा ऐसे ही हंसते रहना

47
तुम बात नहीं कर रहे हो
तुम्हें किस बात का गुस्सा आया है
जरा नजर तो मिलाओ हमसे
आज ही मोहब्बत में कैसा दिन आया है

48
तुम अब हमसे बात करने लायक नहीं है
ना तुम शायद अब हमसे मुलाकात करने लायक नहीं है हमने बहुत ही तुमसे बात करने की कोशिश
पर शायद तुम हमारे भरोसे के काबिल नहीं रहे

49
मोहब्बत हमने तुमसे की थी
और अब भी तुमसे ही करते हैं
पर तुम हमसे जो बात करना नहीं चाहते
तो फिर हम भी तुम्हें आगे से मैसेज नहीं करते हैं

50
तुमसे कितनी बात करूं मैं
तुम्हें कितना अच्छा बताऊं मैं
और तुम्हें कितना क्या समझाऊं मैं
तुमसे बात करने की तलब लगी रहती है
कैसे दिखाऊं मैं

51
हर तरफ है ये शोर उठा है
आज देखो यह मोहब्बत में कैसा वो रूठा है
मुझ से बात नहीं करता मेरा महबूब
देखो आज यह कैसे दिन रूठा है

52
तुम मुझे परेशान करती हो
तो मैं भी तुम्हें परेशान करूंगा
अगर तुम मुझसे बात नहीं करती हो
तो मैं भी तुमसे बात नहीं करूंगा

53
बात करने के लिए हमें इतना ना तड़पाओ करो
हमसे बात कर लिया करो हमें ही ना रुलाया करो

54
मैं तुम्हारी कितनी फिक्र करता हूं
कि मैं तुम्हें बता नहीं सकता
और मैं तुमसे कितनी मोहब्बत करता हूं
यह मैं बता नहीं सकता

55
तुमसे बात करने के लिए मैं हर वक्त बेसब्र रहता हूं
तुमसे मिलने की मैं हर वक्त उतावला रहता हूं
फिर तुम मुझसे क्यों नहीं करती बात जानू
मैं तुमसे इतनी मोहब्बत करता हूं

56
मैं तुम्हें प्यार करता रहूंगा
मैं तुम्हें इसी तरह चाहता रहूंगा
तुम बस मेरी होकर बनी रहना
मैं तुम्हें इसी तरह प्यार करता रहूंगा

57
बात नहीं करनी है तुम्हें तुम मत करो
पर हम पर झूठा इल्जाम ना लगाया करो
हम तो तुमसे बात करना चाहते ही हैं
पर तुम हमसे बात करने के बहाने ना बनाया करो

58
तुम मुझसे कभी क्यों बात नहीं करती
और तुम मुझसे क्यों कभी मिलना नहीं चाहती
तुम ऐसे ही रहो अच्छा है
तुम मुझसे कभी कुछ कहना भी नहीं चाहते

59
मैंने तुमसे बात करने की कितनी कोशिश की है
मैंने तुम्हें अपने पास रखूंगी कितनी चाहत की है
हर मुमकिन कोशिश की मैंने रिश्ता बचाने की
फिर भी तुमने मुझसे बात नहीं किया

60
तुम मुझसे बात कर लिया करो
तुम मुझसे प्यार कर लिया करो
मैं भी तो करता हूं तुमसे बात
तुम भी मुझे कभी कॉल कर लिया करो

61
आज मुझसे मेरा चांद रूठा है
आज मुझसे मेरा आसमान रूठा है
मैं जिस से बात करना चाहता हूं
आज मुझसे वह मेरा सनम रूठा है

62
मैं उससे बात करूं के लिए हर वक्त बेसब्र ही रहता हूं
मैं उससे बात करने के लिए हर वक्त तैयार ही रहता हूं
पर वह कहां मुझसे बात करती है
और वो कहां मुझसे मोहब्बत करती हो

63
आज बात कर लो जी तो अच्छा होगा
नहीं तो कल हम भी चले जाएंगे
हम किसी और के पास रहेंगे
हम वही दिल लगाएंगे

64
कितने दिन हो गए उनसे बात नहीं हुई
उनकी बहुत याद आती है उन से गुफ्तगू नहीं हुआ
हम से बात नहीं करते
क्या उनको हमारी अब जरूरत महसूस नहीं हुई

65
तुम मुझसे बात किया करो ना
तुम मुझे मैसेज किया करो ना
मैं तुम्हारे कॉल का इंतजार करता रहता हूं
तुम मुझसे बात किया करूंगा

66
तुम अगर मुझसे बात कर लेती हो
तो मेरा पूरा दिन अच्छा जाता है
और तुम अगर रूठ जाती हो मुझसे
तो मेरा पूरा दिन बिगड़ जाता है

67
मैं तुमसे बात करने के लिए हमेशा तैयार रहूंगा
तुम कुछ भी काम कहोगी मैं तुम्हारा वह काम कर दूंगा बस तुम बात करती हो ना मुझसे
मैं तुम्हारा हमसफर बन कर रहूंगा

68
मैंने हर समय तुम्हारा साथ दिया है
मैंने हर समय तुम्हें चाहा है
फिर तुम क्यों मुझसे बात नहीं करती
जब मैंने तुम्हें खुदा से इतनी दफा मांगा है

69
हमसे बात नहीं करनी बात बात नहीं करते
हम करना चाहते हैं कि मुलाकात नहीं करते

70
यह माफ कर दो मैं अपनी गलती मानता हूं
अब मुझे माफी दे दो तुम मुझसे बात कर लो ना जान
चलो तुम मुझे फिर से प्यार कर लो

71
हर समय तुम ही गुस्सा रहती हो
क्या मुझे गुस्सा होने का हक नही है
मुझे तुम पर प्यार का हक नहीं है

72
इस बार में भी बात नहीं करूंगा
जब तक वह आगे से मैसेज नहीं करेगी
उसे मैसेज नहीं करूंगा
जब उसे आएगी याद मुझसे बात करेगी
तभी मैं उससे बात करूंगा

73
उसे मेरी याद नहीं आती तुम्हें भी उसे क्यों याद करूं
अगर वह मुझसे बात करने के लिए बेसब्र नहीं है
तो मैं क्यों उससे बात करू
उससे बात करने के लिए अपने घरवालों से लड़ी

74
तुमसे बात करने के लिए
मैंने दोस्तों से बात करना तो छोड़ दिया
मैंने अपना हर बाहरी रिश्ता तोड़ दिया
और तुम नहीं आज मुझसे बात करना बंद कर दिया
इसके लिए मैंने अपना सुकून छोड़ दिया

75
मैं तुमसे बात हमेशा करना चाहता हूं
मैं तुम्हारे पास हमेशा रहना चाहता हूं
मैं तुम्हारा होकर रहना चाहता हूं
और मैं तुमसे मुलाकात करते रहना चाहता हूं

76
मेरी जान मुझसे होना नाराज हुआ करो
तुम चाहे कुछ भी कर लिया करो
पर बात करना बंद ना किया करो

77
जब तुम मुझसे बात नहीं करती
तो मुझसे खाना नहीं खाया जाता है
मेरा मन कहीं नहीं लगता है
और मुझे पानी भी नहीं पिया जाता है

78
तुम मुझसे बात करने के लिए क्या नहीं करती
तुम भी तो अपने घर वालों से डांट खाती हो
मेरी तुमसे उतना ही बात करना चाहता हूं
फिर क्यों तुम मुझसे रूठ जाती हो

79
देख लेना एक दिन मैं
इस दुनिया को छोड़ कर चला जाऊंगा
आखिर में कौन लगता हूं तुम्हारा जो वापस आऊंगा
बातें मेरी कभी नहीं होगी तुमसे
और फिर मैं तुम्हें यादों में बहुत सताउंगा

80
मैंने हमारे रिश्ते को बचाने की हर मुमकिन कोशिश की है मैंने हमारे रिश्ते को निभाने की हर मुमकिन कोशिश कि है और नहीं रहा अगर कोई मेरे पास तो क्या हुआ
मैं तुमसे बात करने की हर कोशिश कि है

81
मोहब्बत जो तुमसे है हमें
तो फिर तुमसे ही रहेगी
और इश्क जो है हमें तुमसे तो फिर तुम से ही रहेगा

82
तुम बात कर लिया करूंगा
तुम मैसेज कर लिया करो ना
कोई बैठा रहता है तुम्हारे इंतजार में
तुम उसका हाल-चाल पूछ लिया करो ना

83
अभी तो तुम मेरा हाथ जान पूछा करो
कभी तो तुम मुझे आगे से मैसेज किया करो
क्या तुम्हें मेरी याद नहीं आती कभी
तुम भी तो मुझसे बात किया करो

84
जब मैं शायद तुमसे दूर चला जाऊंगा
तब तुम्हें मेरी याद आएगी
और मैं तुम्हें बिल्कुल नहीं करूंगा याद
तब शायद तुम मुझसे बात करने के लिए पछताओगे

85
मुझे दिन में चला जाऊंगा
उस दिन तुम्हारे पास कुछ नहीं बचेगा
सिर्फ आप देखते रह जाओगे
और बात करने के लिए यह इंसान नहीं बचेगा

86
मुर्शीद तुम तो कभी हमारे थे ही नही
तुमने हमसे भी बात करना नही
और “दिवेश” तू ही करता रहा
उससे हर रिश्ता निभाने की कोशिश
उसने कभी मोहब्बत करी ही नहीं

87
मुझे तुमसे मोहब्बत है
मैं तुमसे प्यार इस कदर करता हूं
मुझे तुमसे इश्क की इबादत है
और मैं तुमसे बात करने के लिए मरता हूं

88
कितने दिन हो गए हैं
उसका कोई कॉल नहीं आया
क्या उसे मेरा ख्याल नहीं आया
बात नहीं करना चाहता मुझसे
क्या उसे मेरा पैगाम नहीं आया

89
शायद नहीं हमारी मोहब्बत रास नहीं आती
इसीलिए वह हमसे बात नहीं करते है
जब वह नहीं करना चाहते हमसे बात
तो हम भी उनसे बात नहीं करते

90
मैं उससे बात करने के लिए हर वक्त तैयार रहता हूं
सब कुछ छोड़ देता हूं बात कर कॉल पर बात करता हूं और जब वह मुझसे बात नहीं करती
तो फिर मैं हर वक्त रोता हूं

91
बोलो ना तुम क्या कर रही हो
तुमने कब से मुझसे बात नहीं की
बताओ ऐसी कौन सी बात है
जिस वजह से तुम मुझसे बात नहीं कर रही हो

92
अगर कोई बात है तो मुझे बताओ
अगर कोई दर्द है तो मुझे बताओ
और तुम मुझसे बात तो करो मुझसे नजरें तो मिलाओ

92
यह चहेरा तुम छुपा रही हो
शायद कुछ गलत किया है इसलिए नहीं बता रही हो
और अब बात करना नहीं चाहते हो तुम मुझसे
इसीलिए शायद अपना चेहरा छुपा रही हो

93
तुम मुझसे मोहब्बत करती हो ना
तुम अब भी मुझसे उसी तरह प्यार करती हो ना
फिर बात क्यों नहीं करती तुम मुझसे
अभी भी इश्क करती हो ना

94
मोहब्बत मुझे तुमसे ही है
मैं तुमसे अभी बात करना चाहता हूं
तुम मुझसे बात नहीं करती तो क्या हुआ
मैं अभी तुम्हें दुआओं में मांगता हूं

95
शायद मेरी मोहब्बत असर नहीं था
शायद मेरा खुदा ही मेरे साथ नहीं था
वह मुझसे बात नहीं करती
शायद उसको मुझ पर यकीन ही नहीं था

96
वह किसी और की बातों में आ रही है
वह मुझ पर शक करने लगी है
वह किसी और के बहकावे में आ रही है
मैं उससे कहता रहा मैं गलत नहीं हूं
और वह मुझसे बात नहीं करती
शायद वह भी मोहब्बत नहीं करती

97
चलो अब गुस्सा छोड़ो बोल भी जाओ
बात तो कर लो मुस्कुरा तो जाओ

98
हम भी तुमसे बात करने के लिए तड़प रहे हैं
और तुम भी हमसे बात करने के लिए तड़प रहे हो
फिर क्यों नहीं करते हो तुम मैसेजतक
जब तुम हमसे बात करने के लिए मर रहे हो

99
मैं तुम्हारा कब से इंतजार कर रहा हूं
तुम अब तक नहीं आई
क्या तुम बात करना नहीं चाहती
क्या तुमने मेरी कोई खबर नहीं लाई

100
मेरी खबर अब तुम्हें कभी मिल नहीं पाएगी
बात करना चाहोगी पर मोहब्बत में नहीं मिल पाएगी
मैं पूरी तरह से बदल चुका हूं
तुम्हें मेरी वह शख्सियत मिल नहीं पाएगी

101
मोहब्बत में हो चुका हूं बर्बाद मैं पर वो बात नही करती
अब कर चुका हूं मैं बहुत उसे मनाने की कोशिश
अब हर रिश्ता हार चुका हु मै

102
रिश्ते में सारे हार गया मोहब्बत मैं हार गया
बात नहीं करता मुझसे देखो मेरा सनम
आज मैं फिर से मोहब्बत मैं बर्बाद हो गया

Over To You:

तो दोस्तों ये था बात नहीं करने की शायरी, हम उम्मीद करते है की आपको हमारी ये सभी शायरी बहुत पसंद आई होगी. यदि आपको हमारी ये शायरी अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ इसको जरुर शेयर करे.

इसके अलावा यदि आपके पास और कोई शायरी है तो उसको हमारे साथ कमेंट में जरुर शेयर करे और उसको हम हमारे इस पोस्ट में जरुर शामिल करेंगे धन्येवाद.

Please share:

Similar Posts

Leave a Reply

Your email address will not be published.