दुख क्या है और प्रकार



दुख क्या है और प्रकार – नमस्कार दोस्तों क्या आप जानना चाहते हैं कि दुख क्या है और दुख के प्रकार क्या है तो आप बिल्कुल सही पोस्ट पर हो क्योंकि आज हम आपको दुख क्या है और दुख क्यों होता है और उसी के साथ साथ दुख के प्रकार भी बताने वाले

दोस्तो इंसान के जीवन में दुख किसी भी कारणवश हो सकता है लेकिन हमको इससे यह नहीं सोचना चाहिए कि हम पूरे जीवन भर दुखी रहेंगे हमको इसका समाधान और उसका निवारण ढूंढना होगा और इससे संबंधित हमने बहुत ही बढ़िया पोस्ट आप लोगों के लिए पहले ही अपने इस ब्लॉग पर लिख रखा है जिसका लिंक हम आपको नीचे दे देंगे इसको पढ़कर आप आसानी से पता लगा सकते हो कि आप दुख को कैसे दूर कर सकते हो

पढ़े – सदा खुश कैसे रहे

बहुत लोगों को यह पता नहीं होता कि तू क्या होता है और दुख के कितने प्रकार हो सकते हैं और इसी विषय पर चर्चा करने के लिए आज हम आपके सामने यह पोस्ट लेकर आए हैं इसको पढ़कर आपको दुख के प्रकार पता चल जाएंगे और दुख के बारे में आपको जानकारी भी मिल जाएगी

सभी दोस्तों ज्यादा समय बर्बाद ना करते हुए हम आज के इस पोस्ट की शुरुआत करते हैं

इससे पहले कि हम आपको यह बताएं कि दुख के कितने प्रकार होते हैं हम आपको बता देना चाहते हैं कि दुख आखिरकार क्या होता है ताकि आप को समझने में आसानी हो जाए

दुख क्या होता है

दोस्तों जब किसी इंसान को दुख होता है या उसका मन बहुत ज्यादा दुखी रहता है उस समय पर उसको कुछ भी काम करने का मन नहीं करता है और उसके मन में एक अजीब सी उदासी छाई हुई रहती है जिसके वजह से उनको बहुत ज्यादा परेशानी और दुख तकलीफ होती है

जब किसी व्यक्ति को दुख होता है तो उसका मन पूरी तरीके से उदासी की छाया में रहता है और उसका किसी से भी बात करने का मन नहीं करता है और फिर चाहे आप उस व्यक्ति को कितने भी हंसी मजाक वाले माहौल में लाकर रख दोगे उसके बाद भी उनका मन कहीं ना कहीं अंदर से दुखी ही महसूस करता है

दोस्तों हम समझते हैं यह बहुत बड़ी प्रॉब्लम है क्योंकि इंसान को खुश रहने का पूरा हक है और यदि किसी कारणवश वह दुखी रहता है तो इसका समाधान उनको जरूर निकालना चाहिए

पढ़े – दुख दूर करने का मंत्र

हमने तो यह भी देखा है कि जो लोग बहुत समय से दुख के शिकार हैं वह लोग बहुत भयानक निर्णय अपने जीवन में ले लेते हैं जो हम समझते हैं कि उनको बिल्कुल भी नहीं करना चाहिए जैसे की आत्महत्या और जहर खाने की वालों कोशिश करते हैं ताकि उनको दुख से छुटकारा मिल पाए

लेकिन दोस्तों हम आपसे यह कहना चाहते हैं कि अगर आप ऐसा करने की कुछ सोच रहे हैं तो आप ऐसा बिल्कुल भी मत करिए क्योंकि जीवन में दुख सुख का खेल लगा रहता है और हर व्यक्ति के जीवन में कोई न कोई प्रकार का दुख होता है

यदि आप यह सोचते हैं कि हमारे ही जीवन में दुनिया का सबसे बड़ा दुख है तो आपकी यह गलतफहमी है दुनिया में ऐसा कोई इंसान नहीं है फिर चाहे हम आपकी बात कर ले या हमारी खुद की बात कर ले हर किसी व्यक्ति के जीवन में ऐसी कोई ना कोई प्रॉब्लम होती है जिसकी वजह से वह थोड़ा बहुत परेशान रहता है और उसका मन दुखी रहता है लेकिन इसका मतलब यह नहीं है कि वह लोग दुख से परेशान होकर अपना जिंदगी खत्म करने का निर्णय ले ले

पढ़े – दुख क्यों होता है

आपको ऐसा बिल्कुल भी नहीं करना है और आपकी मदद करने के लिए हमने बहुत बढ़िया पोस्ट आप लोगों के लिए लिख रखा है जिसको पढ़कर आपको बहुत ज्यादा मदद और सहायता मिलेगी हम आपसे यह अनुरोध करेंगे कि आप हमारे दिए गए पोस्ट को जरुर पढ़िए आपको बहुत ज्यादा राहत मिलेगी

चलिए दोस्तों अब आपको पता चल गया है कि दुख क्या है अब देखते हैं कि दुख के प्रकार के होते हैं

दुख के प्रकार

१. छोटी प्रॉब्लम का दुख

दोस्तों इस प्रकार के दुख आपको छोटे छोटे प्रॉब्लम से हो सकती है जैसे कि आपका मनचाहा काम ना होना आपकी किसी से बहस हो जाना आपकी किसी से लड़ाई हो जाना इस कारण केवल आपको इस प्रकार का दुख हो सकता है लेकिन यह बिल्कुल टेंपरेरी दुख होता है और कुछ समय बाद या कुछ दिनों बाद यह दुख पूरी तरीके से दूर हो जाता है

२. बड़ी प्रॉब्लम का दुख

बड़ी प्रॉब्लम के दुख के प्रकार में हम उन सब सिचुएशन को ला सकते हैं जैसे कि किसी व्यक्ति के सर पर बहुत ज्यादा कर्जा हो जाता है और वह उसको चुकाना उसके लिए असंभव सा लगता है इसकी वजह से वह बहुत लंबे समय तक दुख का शिकार रहते हैं

यदि कोई लड़का है और उसका किसी लड़की से ब्रेकअप हो जाता है ऐसी सिचुएशन में भी लड़के बहुत ज्यादा दुख महसूस करते हैं और यह भी दुख के प्रकार में से एक है जो कि लंबे समय तक रहता है लेकिन हम आपको कह देना चाहते हैं कि दुनिया में इतना कोई बड़ा दुख नहीं होता है जो समय के साथ कम ना हो पाए

आपको केवल अपने आप पर हौसला रखा है यदि आपके ऊपर बहुत ज्यादा कर्जा है तो आप पैसे बचाने की कोशिश करें और हो सके तो जल्द से जल्द उनका करजा उतारने की कोशिश करें

पैसे कैसे बचाते हैं इससे संबंधित हमने एक बहुत बढ़िया लेख लिख रखा है जिसको आप जरूर पढ़िए आपको पैसे बचाने में बहुत ज्यादा मदद होती है

पैसे की बचत कैसे करे

३. डिप्रेशन की बीमारी

दोस्तों अब बात करते हैं डिप्रेशन यह भी एक दुख का प्रकार है और जो लोग डिप्रेशन में होते हैं उनको बहुत ज्यादा प्रॉब्लम होती है क्योंकि जब भी भी कोई व्यक्ति डिप्रेशन की समस्या से परेशान रहता है उस समय पर उसको बहुत ज्यादा समय तक दुख से लड़ना होता है

जब किसी इंसान को डिप्रेशन की प्रॉब्लम होती है तब हम उनको सलाह देंगे कि आप किसी अच्छे साइकोलॉजिस्ट के पास जाएं और वहां पर अपना इलाज करवाएं

क्योंकि शुरुआत में अगर आप डिप्रेशन का इलाज करवाएंगे तो आपका मन भी बहुत हल्का होगा और आपको दुख से छुटकारा मिल पाएगा लेकिन यदि आपने डिप्रेशन को इग्नोर कर दिया तो समय के साथ-साथ आप का डिप्रेशन और भी ज्यादा खराब होता जाएगा जिसकी वजह से आपको बहुत ज्यादा हानि हो सकती है

पढ़े – डिप्रेशन कैसे होता है

डिप्रेशन के 2 स्टेज होते हैं पहला स्टेज यह होता है जो आपका शुरुआती स्टेज होता है लेकिन यदि आपने शुरुआती स्टेज में अपने डिप्रेशन का इलाज नहीं करवाया और इसको इग्नोर करते रहें तो बाद में जा कर यह क्रोनिक डिप्रेशन हो जाता है जो की बहुत बड़ी प्रॉब्लम हो जाती है

यदि किसी व्यक्ति को क्रोनिक डिप्रेशन होता है तो वह बहुत लंबे समय तक उनका पीछा नहीं छोड़ता है इसलिए हम आपको कहेंगे कि यदि आपको लगता है कि हम को डिप्रेशन की प्रॉब्लम है और बिना कोई कारण के वजह से आप हर रोज दुखी महसूस करते हैं तो आप जरुर किसी अच्छे साइकोलॉजिस्ट के पास जाएं और अपना इलाज करवाना शुरू कर दें इससे आपको बाद में होने वाली प्रॉब्लम से छुटकारा मिल पाएगा

आपकी और दोस्तों

दोस्तों यह था दुख क्या है और दुख के प्रकार क्या होते हैं हम उम्मीद करते हैं कि आपका यह पोस्ट पढ़कर आपको पता चल गया होगा कि कितने प्रकार के दुख होते हैं

अगर आपको हमारा यह पोस्ट अच्छा लगा हो तो कृपया करके इसे फेसबुक WhatsApp ट्विटर और गूगल प्लस पर ज्यादा से ज्यादा शेयर करें धन्यवाद दोस्तों

शेयर करो
error: Content is protected !!